दैनिक भास्कर हिंदी: देश के कई राज्यों में मौसम का बदला मिजाज, बारिश के साथ गिर ओले, गिरा तापमान

December 13th, 2019

हाईलाइट

  • उत्तराखंड और जम्मू-कश्मीर में भारी बर्फबारी हुई
  • मप्र, उप्र सहित कई राज्यों में बारिश और ओलावृष्टि
  • कश्मीर और लद्दाख में ऑरेंज चेतावनी जारी की गई

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। देश में मौसम का मिजाज तेजी से बदल रहा है। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के अलावा मप्र, उप्र, राजस्थान सहित कई राज्यों में गुरुवार रात छाए काले मेघा जमकर बरस पड़े। इस दौरान कई इलाकों में बारिश के साथ ओलावृष्टि भी हुई। जबकि पहाड़ी राज्यों हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड और जम्मू-कश्मीर में भारी बर्फबारी हुई। ऐसे में तापमान में तेजी से गिरावट आई है। जिसका असर मैदानी इलाकों पर साफ तौर पर देखने को मिल रहा है।

मौसम विभाग ने जम्मू कश्मीर और लद्दाख केंद्र शासित प्रदेशों में गुरुवार और शुक्रवार के लिए ‘ऑरेंज चेतावनी’ जारी की गई है। यानी कि यहां मध्यम बर्फबारी और बारिश हो सकती है।  

बेमौसम बरसात ने बढ़ाई मुसीबत
मध्यप्रदेश में गुरुवार रात सबसे अधिक वर्षा सीधी में 54.6 मिमी दर्ज की गई। जबकि राजधानी भोपाल में 21.6, खजुराहो में 42.2, रीवा में 30.6, टीकमगढ़ में 31.0 मिमी बारिश हुई। बेमौसम बरसात और ओले पड़ने से मध्य प्रदेश और हरियाणा में फसलों को भारी नुकसान की आशंका जताई जा रही है। यह बारिश किसानों के लिए मुसीबत बन गई है। जिसने किसानों की सिर्फ फसलों को नहीं बल्कि हजारों टन यूरिया को भी नुकसान पहुंचाया है।

किसानों पर आई इस मुसीबत को देखते हुए मप्र के कृषि मंत्री सचिन यादव ने ट्वीट कर किसानों को चिंता न करने के लिए कहा है। उन्होंने लिखा, ‘’कमलनाथ की सरकार किसानों की सरकार है और वह हर मुश्किल घड़ी में उनके साथ है।’’

शीत लहर से यहां गिरा तापमान
मौसम विभाग के अनुसार न्यूनतम पारा 12.8 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया, जबकि अधिकतम तापमान औसत से दो डिग्री सेल्सियस कम रहते हुए 21.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। दिल्ली-एनसीआर में 14-15 दिसंबर को तापमान गिरकर 10 डिग्री से नीचे जा सकता है।

सरकारी और निजी स्कूल बंद 
उत्तर प्रदेश में मौसम शुष्क रहा लेकिन कई स्थानों पर मध्यम कोहरा छाया रहा। यहां आठ डिग्री सेल्सियस तापमान के साथ बस्ती प्रदेश का सबसे ठंडा स्थान रहा। जबकि उत्तराखंड में शीतलहर के चलते कई जिलों में शुक्रवार को सरकारी और निजी स्कूल बंद करने के निर्देश दिए गए हैं।

वहीं राजस्थान के कई इलाको में रात के तापमान में मामूली बढ़ोतरी हुई है। यहां गंगानगर में न्यूनतम तापमान 12.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है, जो राज्य में सबसे कम है। जबकि पंजाब और हरियाणा के अधिकतर हिस्सों में न्यूनतम तापमान सामान्य से कुछ डिग्री सेल्सियस ऊपर चला गया है।  

बात करें मध्य प्रदेश की तो यहां शिवपुरी में सबसे कम तापमान 10 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। मौसम विभाग ने ग्वालियर, चंबल और सागर संभाग के जिों में गरज के साथ बिजली चमकने और गिरने की संभावना जताई है। वहीं राजधानी भोपाल सहित आसपास के क्षेत्रों में गरज चमक के साथ बारिश हो सकती है।

पहाड़ी इलाकों में हिमपात
पहाड़ी इलाके हिमाचल प्रदेश के भी कई क्षेत्रों में बारिश के साथ बर्फबारी हुई है। जिससे यहां भी तापमान तेजी से नीचे आया है। यहां न्यूनतम तापमान में 7-8 डिग्री सेल्सियस की गिरावट आई है। वहीं शिमला जिले के कुफ्री में अधिकतम तापमान शून्य से नीचे दर्ज किया गया है।