comScore

छत्तीसगढ़ः सुकमा में नक्सली-पुलिस मुठभेड़ में 17 जवान शहीद, 14 घायल

छत्तीसगढ़ः सुकमा में नक्सली-पुलिस मुठभेड़ में 17 जवान शहीद, 14 घायल

हाईलाइट

  • 14 घायल जवान रायपुर रेफर, घायलों में 12 डीआरजी के
  • शनिवार दोपहर को करीब 2.30 बजे चिंतागुफा थाना क्षेत्र की घटना

डिजिटल डेस्क, रायपुर। छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित सुकमा जिले में सुरक्षा बल के जवानों और नक्सलियों के बीच हुई मुठभेड़ में 17 जवान शहीद हो गए। वहीं 14 जवान गंभीर रूप से घायल हो गए हैं। जिनका उपचार किया जा रहा है। राज्य के स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने जवानों के शहीद होने की पुष्टि की है। बता दें कि शहीद होने वाले जवानों में एसटीएफ और डिस्टिक्ट रिजर्व गार्ड (डीआरपी) के जवान शामिल हैं। डीआरजी-एसटीएफ के जवानों को पहली बार इतना बड़ा नुकसान हुआ है।

पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, शनिवार दोपहर को करीब 2.30 बजे चिंतागुफा थाना क्षेत्र में निमपा के जंगल में पुलिस बल सर्चिंग पर निकला था। तभी जंगल में घात लगाए बैठे नक्सलियों ने सुरक्षा जवानों पर हमला कर दिया। दोनों ओर से गोलीबारी का दौर शनिवार की रात तक जारी रहा। रात को 13 जवानों के लापता होने की पुष्टि की गई थी।

14 घायल जवान रायपुर रेफर
राज्य के मंत्री सिंहदेव ने रविवार को संवाददाताओं से चर्चा करते हुए 17 जवानों के शहीद होने की पुष्टि की है। इससे पहले मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने रविवार को संवाददाताओं से चर्चा करते हुए, 17 जवानों के लापता होने की पुष्टि की थी। बाद में इन सभी जवानों की शहादत की पुष्टि हुई। उन्होंने कहा कि सुरक्षा बलों ने नक्सलियों के हमले का जवाब दिया। मुठभेड़ में घायल हुए 14 जवानों को हेलिकॉप्टर की मदद से रायपुर रेफर किया गया है। इनमें से दो की हाल गंभीर बनी हुई है। इन घायलों को देखने मुख्यमंत्री बघेल रामकृष्ण केयर अस्पताल पहुंचे।

घायलों में 12 जवान डीआरजी के 
शहीद 17 जवानों में से 12 जवान डीआरजी के हैं. डीआरजी स्थानीय युवकों द्वारा बनाया गया सुरक्षा बलों का एक दल है, जो कि नक्सलियों के खिलाफ सबसे अधिक प्रभावी रहा है। नक्सलियों ने जवानों के 15 हथियार भी लूट लिए, जिनमें AK-47, इंसास, LMG और UBGL जैसे हथियार हैं।

कमेंट करें
MXjbJ