दैनिक भास्कर हिंदी: राहत: चीन ने भारत को दी 5 लाख रैपिड टेस्टिंग किट, संक्रमित मरीजों के संपर्क में आए लोगों की होगी पहचान

April 17th, 2020

हाईलाइट

  • चीन ने भारत को दी टेस्टिंग किट
  • उन लोगों की पहचान होगी जो संक्रमितों के संपर्क में आए थे

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। नोवल कोरोना वायरस का कहर लगातार बढ़ते ही जा रहा है। जिसे रोकने के लिए देश में दूसरी बार लॉकडाउन लागू हो गया है। इस बीच एक अच्छी खबर सामने आई है,जल्द ही रैपिड एंटीबॉडी टेस्ट शुरू होने वाला है। चीन ने गुरुवार को भारत को 5 लाख टेस्टिंग किट दी है। यह जानकारी आईसीएमआर के वैज्ञानिक डॉ. रमन आर गंगाखेडकर ने दी। 

उन्होंने कहा कि इस टेस्टिंग किट से उन लोगों की पहचान होगी जो संक्रमितों के संपर्क में आए थे, लेकिन लक्षण नहीं दिखे। सभी संदिग्धों और निमोनिया, सर्दी-खांसी, बुखार और संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आए लोगों का टेस्ट किया जाएगा। डॉ. रमन ने कहा, 'किट से आसानी से पता चल चलेगा कि कहीं कोई कोरोना से संक्रमित तो नहीं था।'

उन्होंने बताया कि जब कोई व्यक्ति वायरस या पैथोजन से संक्रमित होता हैं, तो शरीर इसकी प्रतिक्रिया में एंटीबॉडी बनाता है। इस टेस्टिग किट से एंटीबॉडी से आसानी से पता चल जाएगा। डॉ. रमन ने आगे कहा, 'अगर किसी रोगी में एंटीबॉडी टेस्ट निगेटिव आता है और आरटी पीसीआर टेस्ट भी निगेटिव आता है, हालांकि उसे सामान्य सर्दी, जुखाम या बुखार के लक्षण हैं। ऐसे मामलों में संभावना है कि उसे सामान्य फ्लू हो।'