दैनिक भास्कर हिंदी: CAA Protest : पश्चिम बंगाल में प्रदर्शनकारियों ने बम फेंका, डेप्‍युटी पुलिस कमिश्‍नर घायल

December 18th, 2019

हाईलाइट

  • नागरिकता संशोधन कानून पर देशभर में प्रदर्शन
  • हावड़ा में शाम पांच बजे तक इंटरनेट सेवा बंद

डिजिटल डेस्क, दिल्ली। नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के खिलाफ देशभर में विरोध हो रहा है। कई यूनिवर्सिटी के छात्र सड़कों पर उतर आए हैं। विपक्षी पार्टियां भी नागरिकता कानून का विरोध कर रही है। दिल्ली के जामिया मिलिया इस्लामिया विश्वविद्यालय और अलीगढ़ मुस्लिम यूविवर्सिटी के छात्रों ने विरोध प्रदर्शन और पत्थरबाजी की। दिल्ली पुलिस ने  भीड़ को तितर-बितर करने के लिए लाठी चार्ज और आंसू गैस का इस्तेमाल किया। अलीगढ़ यूनिवर्सिटी को पांच जनवरी तक के लिए बंद कर दिया गया है। 

नागरिकता संशोधन कानून की हिंसा की आग यूपी तक पहुंच गई है। योगी सरकार ने मऊ, अलीगढ़, सहारनपुर, कासगंज और मेरठ समेत अन्य कई जिलों में धारा 144 लागू कर दी है। वहीं इंटरनेट सेवा भी बंद कर दी है। इधर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने साफ कहा है कि अगर राज्य में एनआरसी और सीएए लागू करना है तो मेरी लाश से गुजरना होगा। बंगाल में कोलकाता समेत विभिन्न शहरों में प्रदर्शन हो रहे हैं। 

- पश्चिम बंगाल में नाग‍रिकता संशोधन कानून के खिलाफ चल रहा हिंसात्‍मक प्रदर्शन रुकने का नाम नहीं ले रहा है। राज्‍य के हावड़ा शहर में मंगलवार को डेप्‍युटी पुलिस कमिश्‍नर अजित सिंह यादव एक बम हमले में घायल हो गए। यह बम भीड़ को तीतर-बितर कर रहे पुलिसकर्मियों पर फेंका गया था। बम हमले में घायल डेप्‍युटी पुलिस कमिश्‍नर को हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है।

 

 

- दिल्ली में गुरु गोबिंद सिंह इंद्रप्रस्थ विश्वविद्यालय के छात्रों ने नागरिकता संशोधन अधिनियम पर विरोध जताया।

 

 

- नागरिकता संशोधन अधिनियम को लेकर छात्रों ने मद्रास विश्वविद्यालय में विरोध प्रदर्शन किया।

 

 

- जामिया मिलिया इस्लामिया और अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में घटनाओं के विरोध में भारतीय युवा कांग्रेस ने मशाल रैली निकाली। कांग्रेस नेता हरीश रावत भी विरोध मार्च में शामिल रहे।

 

 

- नागरिकता संशोधन कानून पर मचे बवाल को लेकर केंद्रीय गृह मंत्रालय के बाद गृह मंत्री अमित शाह ने भी केंद्र का रुख स्पष्ट किया है। जामिया के बाद सीलमपुर में शुरू हुई हिंसा के बीच अमित शाह ने कहा कि पूरा विपक्ष देश की जनता को गुमराह कर रहा है। दिल्ली में एक कार्यक्रम में अमित शाह ने कहा कि जिसे भी रानजीतिक विरोध करना है वो करो, लेकिन मोदी सरकार विरोध से नहीं झुकेगी वह नागरिकता कानून पर अडिग है। उन्होंने कहा कि शरणार्थियों को नागरिकता मिलेगी। शरणार्थी भारत के नागरिक बनेंगे और सम्मान के साथ दुनिया में रहेंगे।

 

 

- आईजी लॉ एंड ऑर्डर, प्रवीण कुमार ने कहा कि नागरिकता संशोधन अधिनियम के तहत कल मऊ में हुई हिंसक घटनाओं के सिलसिले में 28 लोगों को हिरासत में लिया है। जांच चल रही है।
 

 

 

- दिल्ली के उपराज्यपाल, अनिल बैजल ने कहा कि मैं सभी से शांति बनाए रखने की अपील करता हूं। किसी भी तरह की हिंसा में शामिल न हों और दिल्ली पुलिस को हिंसक तत्वों के बारे में तुरंत सूचित करें। हिंसा न केवल अवैध है, बल्कि अमानवीय भी है। शांतिपूर्ण लोकतांत्रिक तरीके से प्रदर्शन करें।

 

 

- सीलमपुर से AAP विधायक मोहम्मद इशराक खान ने कहा ​है कि जब से पूर्व विधायक ने रैली निकाली है, पूरा माहौल अस्त-व्यस्त हो गया है। सभी बाजारों को बंद कर दिया गया और गुंडों को बुलाया गया। यह किसी के लिए भी सही नहीं है। मैं प्रदर्शनकारियों से अपने घरों में वापस जाने की अपील करता हूं।

 

 

- मऊ कलेक्टर ने जिले के सभी स्कूलों और कॉलेजों को अगले आदेश तक बंद रखने के आदेश दिए हैं।

 

- दिल्ली की साकेत कोर्ट ने जामिया मिलिया इस्लामिया की घटना के मामले में सभी 6 आरोपियों को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया।

 

- दिल्ली पुलिस पीआरओ, एमएस रंधावा ने कहा कि सीलमपुर में स्थिति नियंत्रण में है। हम स्थिति पर नजर बनाए रखे हैं। जिन इलाकों में घटना हो रही है, हम वहां के सीसीटीवी फुटेज ले रहे हैं। वीडियो रिकॉर्डिंग भी की जा रही है। इस तरह की घटनाओं में शामिल लोगों में से किसी को भी नहीं बख्शा जाएगा।
 

 

- पूर्वोत्तर में जो स्थिति अब एक्ट के कारण राजधानी दिल्ली सहित पूरे देश में फैल रही है, एक बहुत ही गंभीर स्थिति है, हमें डर है कि यह आगे भी फैल सकता है। पुलिस शांतिपूर्ण तरीके से प्रदर्शन करने वालों से जिस तरह निपट रही है, हम उससे आहत हैं।

 

 

- पुलिस पार्टी ने शहर के दरियागंज इलाके में गश्त की।

 

 

- कांग्रेस अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी के नेतृत्व में विपक्षी दल के नेताओं ने जामिया मिलिया इस्लामिया घटना को लेकर आज (मंगलवार) राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद से मुलाकात की।

 

 

- जामिया मिलिया इस्लामिया के छात्र नागरिकता संशोधन अधिनियम के विरोध में शाम 5 बजे विश्वविद्यालय के बाहर इकट्ठा हुए।
 

 

- दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि मैं दिल्ली के सभी नागरिकों से शांति बनाए रखने की अपील करता हूं। सभ्य समाज में हिंसा का कोई भी रूप स्वीकार्य नहीं है। हिंसा से कुछ भी हासिल नहीं हो सकता। हमें शांति से अपनी राय रखनी चाहिए।

 

 

- बहुजन समाज पार्टी (बसपा) नेता एससी मिश्रा ने कहा कि संसदीय प्रतिनिधि मंडल को कल (बुधवार) सुबह 10:30 बजे राष्ट्रपति कोविंद से मिलने का समय दिया गया है।

 

 

- सीलमपुर की घटना पर दिल्ली पुलिस के संयुक्त आयुक्त आलोक कुमार ने कहा है कि पुलिस की ओर से कोई गोली नहीं चलाई गई है। केवल आंसू गैस के गोलों का इस्तेमाल किया। स्थिति अब नियंत्रण में है। कुछ पुलिसकर्मी घायल हैं। विरोध प्रदर्शन के दौरान 2 सार्वजनिक परिवहन बसें, 1 रैपिड एक्शन फोर्स बस और कुछ बाइक क्षतिग्रस्त हो गईं।

 

 

- साउथ ईस्ट दिल्ली, डीसीपी ने कहा कि हिंसक भीड़ को नियंत्रित करने और शांति बनाए रखने के लिए पुलिस ने अपना कर्तव्य निभाया। पुलिस की झूठी छवि पेश की जा रही है। एक तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है, जिसमें एक पुलिसकर्मी को छात्र संगठन के सदस्य के रूप में पेश किया जा रहा है, लेकिन यह झूठ है। उन तस्वीरों में जो एक पुलिसकर्मी दिखाई दे रहा है। वह जामिया में 'बंदोबस्त' के लिए तैनात किया गया था। कुछ विशेष पुलिसकर्मियों को सादे कपड़े में तैनात किया गया था, ताकि वे प्रदर्शनकारियों के बीच उपद्रवियों की पहचान कर सकें और उन्हें गिरफ्तार किया जा सके।

 

 

 

- 15 दिसंबर को जामिया इस्लामिया की घटना में कथित रूप से शामिल आप विधायक और और अन्य के खिलाफ कार्रवाई पर दिल्ली पुलिस का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है। इसमें शामिल सभी लोगों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

- जाफराबाद इलाके में स्थिति पर नजर रखने के लिए पुलिस ड्रोन का इस्तेमाल कर रही है। 
 

- दिल्ली के सीलमपुर इलाके में नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ प्रदर्शन हो रहा है। प्रदर्शनकारियों ने गाड़ियों में तोड़फोड़ की है। पुलिस ने भीड़ को रोकने के लिए आंसू गैस के गोले छो़डे हैं। जाफराबाद जाने वाले इलाके को बंद कर दिया गया है। वेलकम, जाफराबाद, बाबरपुर मेट्रो स्टेशनों को बंद कर दिया गया है। इन स्टेशनों पर मेट्रो नहीं रुकेगी। 

 

- जामिया के चीफ प्रॉक्टर डब्ल्यूए खान ने कहा कि ये गलत आरोप हैं। मैं बिना अनुमति के परिसर में प्रवेश करने के बाद पुलिस के व्यवहार की निंदा करने वाला पहला व्यक्ति था। 

- महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्दव ठाकरे ने कहा कि जामिया में जो हुआ, वह जलियांवाला बाग जैसा है। छात्र एक युवा बम की तरह हैं। इसलिए केंद्र सरकार से अनुरोध है कि छात्रों के साथ अच्छे से व्यवहार किया जाए। 

 

- ममता बनर्जी ने नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ जादवपुर से जदू बाबू बाजार तक विरोध मार्च निकाला। टीएमसी सांसद मिमी चक्रवर्ती और नुसरत जहां भी मार्च में शामिल हुईं। 

- सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि हमें लगता है कि विभिन्न राज्यों में इस मामले के लिए एक ही समिति नियुक्त करना सही रहेगा। यह विभिन्न राज्यों से सबूत इकट्ठा करेगी। 

- छात्रों की ओर से कोर्ट में इंदिरा जयसिंह ने कहा कि कानून के मुताबिक यूनिवर्सिटी ऐसी जगह नहीं है। जहां पुलिस वीसी की अनुमति के बिना प्रवेश कर सकती है। एक की आंखों की रोशनी चली गई है। कुछ छात्रों के पैर टूट गए। सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने जवाब में कहा कि किसी भी छात्र की रोशनी नहीं गई। 

- सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई के दौरान कहा कि हमें हस्तक्षेप करने की आवश्यकता नहीं है। यह कानून-व्यवस्था की समस्या है। बसें कैसे जली? आप हाईकोर्ट से संपर्क क्यों नहीं करते।

- जामिया हिंसा पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई शुरू। 

- त्रिवेंद्रम में कई संगठन नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। केरल पुलिस ने आज सुबह 11 बजे तक 233 लोगों को हिरासत में लिया। 

- दक्षिण पूर्व दिल्ली के अतिरिक्त डीसीपी कुमार ज्ञानेश ने जामिया घटने पर कहा कि, मैंने खुद देखा था। कुछ प्रदर्शनकारी गीले कंबल आंसू गैस का प्रभाव कम करने के लिए इसके गोले पर डाल रहे थे। यह सब पहले से ही सुनियोजित था। इसकी जांच की जा रही है। उन्होंने कहा कि प्रदर्शनकारियों ने हम पर पेट्रोल बम फेंके थे। ये चीजें मौके पर नहीं होती, यह दर्शाता है कि यह एक साजिश थी। 

- सम्भल में आज आधी रात तक इंटरनेट बंद रहेगा। 

- सीएम ममता बनर्जी के बयान पर कलकत्ता हाईकोर्ट में रिट याचिका दायर की गई। याचिका में कहा है कि बनर्जी ने कहा कि नागरिकता संशोधन कानून को लागू नहीं किया जाएगा और धन का उपयोग करते हुए विज्ञापन किया है। 

 

- पुणे में नागरिकता संशोधन एक्ट के खिलाफ सिग्नेचर कैंपेन निकालने वाले दो छात्रों को पुलिस ने नोटिस जारी किया है। छात्र मंगलवार शाम को कैंपेन चलाने वाले थे। 

- डीएमके अध्यक्ष एमके स्टालिन ने कांचीपुरम में नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया। डीएमके ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की है। 

- जामिया विरोध के दौरन दिल्ली पुलिस की ओर से गोली नहीं चलाई गई- गृह मंत्रालय 

 - द्रमुक नेता कनिमोझी और दयानिधि मारन ने पार्टी नेताओं के साथ चेन्नई कलेक्ट्रेट और चेपक में नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया। 

 

- नागरिकता संशोधन बिल पर विपक्षी पार्टियां राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात करने जा रही है। इस पर शिवसेना राज्यसभा सांसद संजय राउत ने कहा कि उन्हें इसकी जानकारी नहीं है। वह इस प्रतिनिधिमंडल का हिस्सा नहीं बनेंगे। 

 

- असम पुलिस के महानिदेशक भास्कर ज्योति महंता ने कहा कि कार्रवाई में चार लोग मारे गए हैं। स्थिति ऐसी हो गई थी कि पुलिस को गोली चलानी पड़ी। स्थिति अब नियंत्रण में है। उन्होंने कहा, 136 मामले दर्ज किए गए हैं और 190 प्रदर्शनकारियों को गिरफ्तार किया गया है। 

 

- बसपा प्रमुख मायावती ने नागरिकता संशोधन कानून को असंवैधानिक करार दिया है। उन्होंने केंद्र सरकार से कानून को वापस लेने की मांग की है। मायावती ने चेताया है कि भविष्य में इसके नकारात्मक परिणाम हो सकते हैं। सरकार को आपातकाल जैसे हालात पैदा नहीं करना चाहिए, जैसा कांग्रेस ने पहले किया था। उन्होंने कहा कि बसपा ने राष्ट्रपति से मिलने का समय भी मांगा है। हमारी पार्टी ने नागरिकता कानून और महिलाओं के प्रति बढ़ते अपराध के खिलाफ यूपी विधानसभा में आवाज उठाई है। 

 

- जामिया केस में पुलिस ने बड़ी कार्रवाई की है। पुलिस ने 10 लोगों को गिरफ्तार किया है। इनमें कोई भी जामिया का छात्र नहीं है। 

 

- असम के डिब्रूगढ़ में सुबह 6 बजे से रात 8 बजे तक कर्फ्यू में छूट दी है। 

- पश्चिम बंगाल के हावड़ा में शाम पांच बजे तक आज इंटरनेट सेवा बंद रहेगी।