comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

लोगों को बनाया जा रहा है तालिबानी, हर जगह से आ रही हैं लिंचिंग की खबरें : ममता

July 22nd, 2018 08:17 IST
लोगों को बनाया जा रहा है तालिबानी, हर जगह से आ रही हैं लिंचिंग की खबरें : ममता

हाईलाइट

  • पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने केंद्र में सत्ताधारी भारतीय जनता पार्टी के खिलाफ अभियान छेड़ दिया है।
  • शनिवार को शहीद दिवस रैली में ममता ने 'BJP हटाओ, देश बचाओ' का नारा देते हुए कहा कि 15 अगस्त से हम यह अभियान शुरू करेंगे।
  • इसी रैली के दौरान BJP के एक बड़े नेता और पूर्व सांसद चंदन मित्रा भी ममता की TMC पार्टी में शामिल हो गए हैं।

डिजिटल डेस्क, कोलकाता। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने केंद्र में सत्ताधारी भारतीय जनता पार्टी के खिलाफ अभियान छेड़ दिया है। शनिवार को शहीद दिवस रैली में ममता ने 'BJP हटाओ, देश बचाओ' का नारा देते हुए कहा कि 15 अगस्त से हम यह अभियान शुरू करेंगे। इसी रैली के दौरान BJP के एक बड़े नेता और पूर्व सांसद चंदन मित्रा भी ममता की TMC पार्टी में शामिल हो गए हैं। चंदन ने TMC का दामन थामते हुए कहा कि इस अभियान में वे भी ममता के साथ हैं। बता दें कि शुक्रवार को ही मोदी सरकार ने संसद में पेश अविश्वास प्रस्ताव पर जीत हासिल की है।

ममता ने BJP पर प्रहार करते हुए कहा, 'देश में हर जगह लिंचिंग की खबरें आ रही हैं। वह लोगों के बीच तालिबानी पैदा कर रहे हैं। ममता ने कहा कि BJP और RSS में कुछ अच्छे लोग भी हैं, जिनका मैं सम्मान करती हूं, लेकिन कुछ गंदा खेल भी खेल रहे हैं।' उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी 2019 के लोकसभा चुनाव में पश्चिम बंगाल से सभी 42 सीटों पर जीत दर्ज करेगी।

जानकारी के अनुसार तृणमूल कांग्रेस पश्चिम बंगाल में शनिवार को शहीद दिवस मना रही है। इस दौरान रैली में ही ममता ने BJP भारत छोड़ो का नारा दिया। मध्य कोलकाता में आयोजित इस विशाल रैली के दौरान ही मंच से  तृणमूल कांग्रेस के महासचिव पार्थ चटर्जी ने चंदन मित्रा के पार्टी में शामिल होने की घोषणा भी की।

बता दें कि TMC में शामिल होने वाली BJP नेता चंदन मित्रा द पायनियर समाचार पत्र के प्रबंध निदेशक और संपादक भी हैं। उन्होंने इस सप्ताह की शुरुआत में ही BJP से इस्तीफा दिया था। BJP नेता चंदन मित्रा दो बार राज्यसभा सदस्य भी रह चुके हैं। चंदन ने 2014 लोकसभा चुनाव में पश्चिम बंगाल के हुगली क्षेत्र से BJP के टिकट पर चुनाव लड़ा था, लेकिन उन्हें शिकस्त का सामना करना पड़ा। इससे पहले मित्रा को अगस्त 2003 में राज्यसभा के लिए नामांकित किया गया था। साथ ही वह जून 2010 में मध्यप्रदेश से बतौर BJP उम्मीदवार के रूप उच्च सदन में दूसरे कार्यकाल के लिए भी निर्वाचित हुए थे।

कमेंट करें
hTsxB