दैनिक भास्कर हिंदी: शिवपुरी: बाढ़ से बेहाल- सड़क पर निकला मगरमच्छ, लोगों ने पटक पटक कर खींची सेल्फी

August 4th, 2021

हाईलाइट

  • शिवपुरी में सड़क पर निकले मगरमच्छ के साथ सेल्फी लेने की होड़

डिजिटल डेस्क, शिवपुरी। मध्य प्रदेश में लगातार हो रही बारिश मुसीबत का सबब बन गई है। नदी-नाले उफान पर है और मगरमच्छ सड़कों पर आने लगे है। शिवपुरी जिले में सड़क पर पानी के साथ बहकर आए मगरमच्छ को लोगों ने पकड़ लिया और उसके साथ सेल्फी लेने से भी नहीं चूक रहे है।

शिवपुरी शहर से लगी नेशनल पार्क की संख्यासागर झील में बड़ी संख्या में मगरमच्छ हैं। भारी बारिश के बीच शहर के लगे नालो से यह मगरमच्छ रिहायशी इलाकों में प्रवेश कर रहे हैं जिसके कारण रिहायशी इलाकों में पहुंचे मगरमच्छों को लोग अपने पास उपलब्ध संसाधनों से पकड़ ले रहे हैं। लोग इन्हें पकड़कर खिलौनों की तरह खेल रहे हैं।

शहर के मीट मार्केट, ठंडी सड़क और अन्य स्थानों पर जब मगरमच्छ निकले तो यहां पर लोगों ने इन मगरमच्छ को पकड़ लिया और रस्सी से बांध लिया। फिर तो लोग मगरमच्छ के साथ सेल्फी, वीडियो और फोटो लेते हुए नए-नए नजर आए।

राज्य के ग्वालियर-चंबल इलाके में पिछले कुछ दिनों में भारी बारिश हुई है। इसके चलते शहरी बस्तियां जलमग्न हो गई है तो वहीं ग्रामीण इलाकों का सड़क संपर्क पूरी तरह टूट गया है और गांव पानी से घिर गए है। इतना ही नहीं शिवपुरी में पोहरी के गांव के अलावा नरवर और करेरा में भी बाढ़ की स्थिति बनी और कई लोग जलभराव में फंस गए। जिला प्रशासन और एसडीआरएफ की टीम ने सक्रिय होकर लगातार रेस्क्यू अभियान चलाया और लोगों को बाढ़ से निकाल कर सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया है। दिन भर राहत एवं बचाव कार्य चलता रहा और सैकड़ों ग्रामीणों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया गया।

नरवर के नवोदय विद्यालय में जलभराव होने से 25 से अधिक लोग फंस गए थे। वहाँ पहुंचकर तत्काल टीम ने रेस्क्यू कर लोगों को सुरक्षित निकाला। नरवर में 100 से अधिक लोगों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया गया। एसडीआरएफ की टीम द्वारा नाव के माध्यम से और स्थानीय ग्रामीणों की मदद से लोगों को सुरक्षित निकाला। इसके अलावा कुछ जगह गंभीर स्थिति बनी जहां एनडीआरएफ की टीम और हेलीकॉप्टर की मदद ली गई। बैराड़, करैरा और नरवर के कई गांव में हेलीकॉप्टर की मदद से लोगों को निकाला गया। बिची गांव ने पेड़ पर फसे तीन आदिवासी युवकों को सुरक्षित निकाला गया।