दैनिक भास्कर हिंदी: सबरीमाला: राहुल ने बदला अपना स्टैंड, कहा..श्रद्धालु भी अपनी जगह सही

January 13th, 2019

हाईलाइट

  • पहले महिलाओं की एंट्री का समर्थन कर रहे थे राहुल
  • राहुल ने श्रद्धालुओं और महिलाओं दोनों के तर्क बताए सही
  • राहुल के इस बयान पर महिला आयोग उन्हें नोटिस भेज चुका है

डिजिटल डेस्क, अबु धाबी। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने सबरीमाला मंदिर में महिलाओं की एंट्री पर अपना स्टैंड बदल लिया है। दो दिन के दौरे पर सऊदी अरब पहुंचे राहुल ने कहा कि विरोध प्रदर्शन कर रहे श्रद्धालुओं के तर्क भी गलत नहीं हैं। बता दें कि इससे पहले राहुल मंदिर में 10 से 50 साल की महिलाओं के प्रवेश का खुला समर्थन कर चुके हैं।

सऊदी अरब के एक न्यूज पेपर में छपि खबर के मुताबिक राहुल ने एक कार्यक्रम के दौरान दुबई में कहा कि मंदिर में महिलाओं को प्रवेश न देने वालों के तर्क भी सही हैं। दोनों ही तर्क वैध हैं। इस मुद्दे पर कोई भी सपाट बात नहीं कही जा सकती है कि यही होना चाहिए। इसे केरल की जनता पर छोड़ देना चाहिए कि वो क्या तय करते हैं। 

बता दें कि इससे पहले राहुल गांधी और केरल कांग्रेस के नेताओं ने सबरीमाला में महिलाओं के प्रवेश का विरोध करने वाले दक्षिणपंथी समूहों पर निशाना साधा था। राहुल के बयान को आगामी लोकसभा चुनाव के लिए सॉफ्ट हिंदुत्व एजेंडे के तौर पर देखा जा रहा है। 

राहुल ने रक्षामंत्री निर्मला सीतारमन पर की गई टिप्पणी से भी किनारा किया है। उन्होंने कहा कि निर्मला के महिला होने के चलते उन्होंने वो बयान नहीं दिया है। राहुल ने कहा कि भाजपा को अपनी महिला विरोधी सोच थोपना नहीं चाहिए। बता दें कि कांग्रेस अध्यक्ष ने जयपुर में एक रैली को संबोधित करते हुए कहा था कि 56 इंच का सीना रखने वाला चौकीदार भाग गया और एक महिला सीतारमण जी से बचाव करने क लिए कहा। उनके इस बयान पर महिला आयोग उन्हें नोटिस भी भेज चुका है।

खबरें और भी हैं...