उत्तर प्रदेश: शामली में पृथ्वीराज चौहान की जाति को लेकर विवाद

June 5th, 2022

हाईलाइट

  • पृथ्वीराज चौहान को हिंदू हृदय सम्राट

डिजिटल डेस्क, शामली। यूपी के शामली जिले में सम्राट पृथ्वीराज चौहान की प्रतिमा स्थापित करने का ऐलान किया गया है लेकिन उनकी जाति को लेकर विवाद छिड़ गया है और गुर्जर समाज इस कार्यक्रम का विरोध कर रहा है।

शामली के दुल्लाखेड़ी गांव में 7 जून को पृथ्वीराज चौहान की प्रतिमा का अनावरण किया जाना है। इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के तौर पर भाजपा नेता और पूर्व मंत्री सुरेश राणा को आमंत्रित किया गया है। गुर्जर समाज इस कार्यक्रम का विरोध कर रहा है। क्षेत्र के गुर्जरों ने चौहान को राजपूत कहे जाने पर आपत्ति जताई। उन्होंने दावा किया कि वह गुर्जर समुदाय से हैं।

आयोजन टीम में शामिल सीटू राणा ने कहा, हमें गुर्जर समुदाय से कुछ विरोध प्रदर्शनों की सूचना मिली थी, लेकिन हमारा इरादा किसी की भावनाओं को ठेस पहुंचाने का नहीं है। सभी ग्रामीणों की सहमति से आयोजन के लिए पुराने बैनर हटा दिए हैं और उसकी जगह नए बैनर लगाए गए हैं। हम पृथ्वीराज चौहान को हिंदू हृदय सम्राट कह रहे हैं। बैनर में जाति का कोई उल्लेख नहीं है।

उन्होंने कहा कि चौहान की प्रतिमा की स्थापना के लिए ग्रामीणों ने करीब 5 लाख रुपये एकत्र किए हैं। शामली की पुलिस अधीक्षक (एसपी) सुकृति माधव ने कहा, पुराने बैनर हटा लिए गए हैं। हम सोशल मीडिया पर नजर रख रहे हैं और पुलिस की टीम कड़ी निगरानी रख रही हैं।

 

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ bhaskarhindi.com की टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.