comScore

अंधभक्त: कैदी ने प्राइवेट पार्ट काटकर मंदिर में चढ़ाया, कहा- भगवान के कहने पर ऐसा किया

अंधभक्त: कैदी ने प्राइवेट पार्ट काटकर मंदिर में चढ़ाया, कहा- भगवान के कहने पर ऐसा किया

हाईलाइट

  • ग्वालियर सेंट्रल जेल में कैदी ने अपना प्राइवेट पार्ट काटा
  • आनन-फानन में अस्पताल की ट्रामा यूनिट में भर्ती कराया गया

डिजिटल डेस्क, ग्वालियर। मध्यप्रदेश के ग्वालियर सेंट्रल जेल (Gwalior Central Jail) में एक कैदी ने अपना प्राइवेट पार्ट काटकर परिसर में बने शिवलिंग पर चढ़ा दिया। कैदी का नाम विष्णु राजावत है। विष्णु का कहना है कि उसके सपने में भगवान आए थे, इस लिए उसने यह कदम उठाया है। मामले की सूचना मिलते ही जेल प्रशासन में हड़कंप मच गया। विष्णु राजावत को आनन-फानन में शहर के जयारोग्य अस्पताल की ट्रामा यूनिट में भर्ती कराया गया। उसकी हालत खतरे से बाहर है। 

पूजा के दौरान दिया घटना को अंजाम
ग्वालियर सेंट्रल जेल के अधीक्षक मनोज साहू ने कहा कि विष्णु राजावत भिंड का रहने वाला है। वह सुबह नहाने के बाद जेल परिसर में बने शिव मंदिर में पूजा करने गया था। उस दौरान उसने अपना प्राइवेट पार्ट काटकर शिवलिंग पर चढ़ा दिया। जिसके बाद अधिक मात्रा में खून बहने से वह बेहोश हो गया। जेल प्रहरियों ने सूचना मिलते ही उसे अस्पताल में भर्ती कराया। 

चम्मच को बनाया हथियार
जेल अधीक्षक ने बताया कि आरोपी हर दिन मंदिर में पूजा-अर्चना करता था। उसने मंदिर में रखी चम्मच को चुरा लिया और उसे धारदार हथियार का रूप देकर घटना को अंजाम दिया। 

सपने में आए थे भगवान
कैदी विष्णु को जब होश आया तो उससे घटना का कारण पूछा गया। उसने कहा कि सोमवार रात को उसके सपने में भगवान शिव आए थे। उनके कहने पर उसने यह कदम उठाया है। बता दें विष्णु राजावत पर हत्या का आरोप है। उसे 63 साल की सजा सुनाई गई है। 

कमेंट करें
2PfDA