दैनिक भास्कर हिंदी: वीडियो: दिल्ली में काले कोट वालों की गुंडागर्दी, पुलिसकर्मी को घेरा, जड़े थप्पड़

November 4th, 2019

हाईलाइट

  • साकेत कोर्ट में वकीलों ने पुलिसवाले को पीटा
  • कोर्ट के बाहर वकील कर रहे थे प्रदर्शन
  • वकील अपनी कोहनी से पुलिसकर्मी को मारता दिखाई दे रहा है
  • वकील ने पुलिसकर्मी को थप्पड़ भी मारे
  • पुलिसकर्मी पर पीछे से हेलमेट भी फेंका गया

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। तीस हजारी अदालत में दिल्ली पुलिस और वकीलों के बीच हाथापाई होने के दो दिन बाद, एक प्रदर्शनकारी वकील का पुलिसकर्मी को पीटने का एक वीडियो सामने आया है। ये वीडियो साकेत जिला अदालत के बाहर का है।

इस वीडियो में एक पुलिसकर्मी बाइक चलाता हुआ दिखाई दे रहा है जिसे साकेत कोर्ट के बाहर प्रदर्शन कर रहे वकीलों का एक गुट रोक लेता है। इस गुट में से एक वकील अपनी कोहनी से पुलिसकर्मी को मारता है। इसके बाद वह वकील पुलिसकर्मी को थप्पड़ मारता हुआ भी दिखाई दे रहा है। जब पुलिसकर्मी खुद को बचाने के लिए वहां से अपनी बाइक लेकर पीछे हटता है तो वकील पीछे से उस पर हेलमेट फेंक देता है।

इससे पहले कड़कड़डूमा कोर्ट में कुछ वकीलों ने कथित तौर पर एक पुलिसकर्मी की पिटाई कर दी थी। आरोप है कि वकीलों ने एक महिला पत्रकार के साथ भी बदसलूकी की। 

शनिवार को तीस हजारी कोर्ट परिसर में वकीलों और पुलिस के बीच झड़प के विरोध में दिल्ली हाईकोर्ट और दिल्ली की सभी जिला अदालतों में वकीलों ने आज काम नहीं किया। तीस हजारी अदालत में हुई हिंसा के बाद, वकीलों ने पुलिस पर अपने एक सहयोगी पर गोली चलाने का आरोप लगाया था। जबकि पुलिस का दावा था कि उनके तीन वरिष्ठ अधिकारियों को पीटा गया। दिल्ली हाईकोर्ट ने इस मामले में न्यायिक जांच के आदेश दिए हैं। दो एएसआई का निलंबन कर दिया गया है और दो वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों का ट्रांसफर कर दिया गया है।

झड़प के बाद से अब तक छह मामले दर्ज किए गए हैं। इनमें से चार झड़प वाले दिन रजिस्टर किए गए थे। इन चार मामलों में से दो अधिवक्ताओं की ओर से, एक महिला की ओर से, एक जिला न्यायाधीश और एक कांस्टेबल की ओर से दायर किया गया है। रविवार को दो अधिवक्ताओं ने मारपीट और हत्या के प्रयास का आरोप लगाते हुए पुलिस टीम के खिलाफ मामले दर्ज करवाए। सभी छह मामलों को क्राइम ब्रांच एसआईटी में ट्रांसफर कर दिया गया है, जो मामले की आगे की जांच करेगा।

 

खबरें और भी हैं...