दैनिक भास्कर हिंदी: कोरोना संक्रमित मंत्री चेतन चौहान का निधन, राज्यपाल और मुख्यमंत्री ने जताया शोक

August 16th, 2020

हाईलाइट

  • कोरोना संक्रमित मंत्री चेतन चौहान का निधन, राज्यपाल और मुख्यमंत्री ने जताया शोक

लखनऊ, 16 अगस्त (आईएएनएस)। उत्तर प्रदेश की योगी सरकार में मंत्री और पूर्व क्रिकेटर चेतन चौहान का रविवार को निधन हो गया है। कोरोना संक्रमित होने के बाद उनका गुड़गांव के मेदांता अस्पताल में उनका इलाज चल रहा था। उनके उनके निधन पर यूपी की राज्यपाल और मुख्यमंत्री ने शोक जताया है।

उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने प्रदेश के सैनिक कल्याण एवं होमगार्ड मंत्री एवं भारतीय क्रिकेट टीम के सदस्य रहे चेतन चौहान के निधन पर गहरा दु:ख व्यक्त किया है।

अपने शोक संदेश में राज्यपाल ने कहा, चेतन चौहान मृदभाषी, कर्मठ एवं सक्रिय राजनेता थे। दिवंगत आत्मा की शांति की कामना करते हुये शोक संतप्त परिजनों के प्रति हार्दिक संवेदना व्यक्त करती हूं।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी चेतन चौहान के निधन पर गहरा दुख व्यक्त किया है।

मुख्यमंत्री ने कहा, पूर्व अंतर्राष्ट्रीय खिलाड़ी, मंत्रिमंडल में मेरे सहयोगी, चेतन चौहान जी के असामयिक निधन का व्यथित कर देने वाला समाचार प्राप्त हुआ। प्रभु श्री राम, चौहान जी के परिजनों को इस अपार दु:ख को सहने की शक्ति एवं दिवंगत आत्मा को अपने श्री चरणों में स्थान प्रदान करें। शांति ।

उत्तर प्रदेश विधान सभा के अध्यक्ष हृदयनारायण दीक्षित ने भी चैहान के असामयिक निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है।

विधान सभा अध्यक्ष ने अपने शोक संदेश में कहा, मेरे वरिष्ठ सहयोगी पूर्व क्रिकेटर चेतन चैहान के निधन से उत्तर प्रदेश की राजनीति में एक अपूर्णीय क्षति हुई है। वे जितने लोकप्रिय खिलाड़ी थे, उतने ही लोकप्रिय जन नेता थे। यह हमारी व्यक्तिगत क्षति भी है। ईश्वर से प्रार्थना है कि वह दिवंगत आत्मा को चिर शांति व शोकाकुल परिवार को अपार दु:ख को सहन करने की शक्ति प्रदान करें।

योगी आदित्यनाथ सरकार में कैबिनेट मंत्री चेतन चौहान की हालत बेहद गंभीर थी। कोरोना संक्रमण पॉजिटिव के कारण लम्बे समय से संजय गांधी पीजीआइ में भर्ती रहे। चेतन चौहान की किडनी ने काम करना बंद कर दिया था। उनको लखनऊ से गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में शिफ्ट किया गया है, जहां पर उनको लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर रखा गया था। इसी दौरान उनकी कोरोना रिपोर्ट दो बार निगेटिव आने के बाद तीसरी बार पॉजिटिव आई थी।

ज्ञात हो कि चौहान 11 जुलाई को कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद उनको संजय गांधी पीजीआई में एडमिट कराया गया था। इसके बाद किडनी और ब्लड प्रेशर की समस्या शुरू हो गई। जिसके बाद उन्हें वेंटिलेटर पर रखा गया था। अमरोहा से चेतन चौहान दो बार भाजपा के सांसद भी रहे हैं। 1991 और 1998 के चुनाव में वह भाजपा के टिकट से अमरोहा से सांसद बने थे। चेतन चौहान अभी अमरोहा जिले की नौगांवा सादात विधानसभा के विधायक हैं।

चौहान योगी आदित्यनाथ सरकार के दूसरे मंत्री हैं, जिन्होंने कोरोना संक्रमण के कारण दम तोड़ा है। इससे पहले दो अगस्त को प्रदेश सरकार की प्राविधिक शिक्षा मंत्री कमल रानी वरुण ने संजय गंधी पीजीआई में दम तोड़ा था। मंत्री कमलरानी को पहले से ही डायबिटीज, हाइपरटेंशन व थायराइड से जुड़ी समस्या थी।

चेतन चौहान ने टीम इंडिया के लिए 1969 से 1978 के बीच 40 टेस्ट खेले थे। इनमें उन्होंने 31.54 की एवरेज से 2084 रन बनाए। उनका बेस्ट स्कोर 97 रन रहा। चेतन ने 7 वनडे में 153 रन बनाए। चौहान और सुनील गावस्कर की ओपनिंग जोड़ी 1970 के दशक में काफी सफल रही थी। दोनों ने मिलकर 10 शतकीय साझेदारियां कीं और 3 हजार से ज्यादा रन बनाए। चेतन घरेलू क्रिकेट में दिल्ली और महाराष्ट्र की टीम से खेले थे।

विकेटी/आरएचए

खबरें और भी हैं...