comScore

Corona in India: बीते 24 घंटे में सामने आए 92 हजार से ज्यादा नए केस, मरीजों की संख्या 48 लाख के पार


हाईलाइट

  • पिछले 24 घंटों में 92,071 नए मामले सामने आए, 1136 की मौत
  • देश में कुल पॉजिटिव मामलों की संख्या 48 लाख 46 हजार के पार

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। भारत में कोरोना वायरस का कहर अब बहुत ही तेजी से बढ़ रहा है। देश में महामारी की चपेट में आए लोगों की संख्या 48 लाख के पार पहुंच गई है। सोमवार को स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक, पिछले 24 घंटों के दौरान 92 हजार 71 नए मामले सामने आए हैं और 1136 लोगों की मौत हुई है।

इसी के साथ देश में कोरोना के मामलों की कुल संख्या 48 लाख 46 हजार 428 हो गई है। इनमें से 79 हजार 722 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 37 लाख 80 हजार 108 मरीज ठीक हुए हैं। बता दें कि, दुनिया में कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित देशों में भारत दूसरे नंबर पर है। 

स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, देश में रिकवरी दर 77.88 प्रतिशत है, जबकि मृत्यु दर 1.65 प्रतिशत है। महाराष्ट्र में कुल 10,37,765 मामले सामने आए हैं, जिनमें 29,115 मौतें शामिल हैं। इसके बाद आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु, कर्नाटक और उत्तर प्रदेश का स्थान है।

गौरतलब है कि 17 जुलाई को भारत में 10 लाख मामले दर्ज किए गए थे और देश को 20 लाख मामलों तक पहुंचने में मात्र 20 दिन (7 अगस्त तक) लगे। वहीं देश में 23 अगस्त तक और 10 लाख मामले दर्ज हुए और 5 सितंबर तक मामलों ने 40 लाख के पड़ाव को पार कर लिया।

भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (ICMR) के आंकड़ों के अनुसार, देश में 14 सितंबर तक कोरोना के लिए कुल 5 करोड़ 72 लाख 39 हजार 428 सैंपल टेस्ट किए जा चुके हैं, जिनमें से 9 लाख 78 हजार 500 सैंपल कल रविवार को टेस्ट किए गए।

राज्यों में कोरोना के मामले और मौतों का आंकड़ा:- 

S. No.Name of State / UTActive Cases*Cured/Discharged/Migrated*Deaths**
TotalChange since yesterdayCumulativeChange since yesterdayCumulativeChange since yesterday
1Andaman and Nicobar Islands25216 324341 51 
2Andhra Pradesh95072661 46713910131 491266 
3Arunachal Pradesh173220 4379126 10 
4Assam28161972 1131332248 46916 
5Bihar14113283 1433501851 82214 
6Chandigarh2728142 5170306 93
7Chhattisgarh315051741 319313953 55516 
8Dadra and Nagar Haveli and Daman and Diu25524 248844 2 
9Delhi28812753 1847483453 474429 
10Goa5173150 19129553 290
11Gujarat16407106 938831205 321015 
12Haryana20079633 725871874 97519 
13Himachal Pradesh3364170 6114152 77
14Jammu and Kashmir174811220 35737452 87814 
15Jharkhand14336508 465831509 55513 
16Karnataka992221388 3529588402 7265104 
17Kerala301401270 776991855 43914 
18Ladakh86928 243622 40
19Madhya Pradesh20487647 659981600 176234 
20Maharashtra29071610578 74006111549 29531416 
21Manipur163854 619189 46
22Meghalaya162353 207555 26
23Mizoram5988300 
24Nagaland117243 390162 10 
25Odisha31539540 1186423363 62610 
26Puducherry487831 14570342 38515 
27Punjab19787403 575362151 235668 
28Rajasthan1665472 845181616 123615 
29Sikkim56726 150514
30Tamil Nadu4701298 4473665717 838174 
31Telengana305321075 1270072479 97413 
32Tripura7429155 11536404 200
33Uttarakhand10519738 21040887 41412 
34Uttar Pradesh68122167 2394855958 442980 
35West Bengal23624103 1751393054 394558 
Total#98659813423 378010777512 797221136 
*(Including foreign Nationals)
**( more than 70% cases due to comorbidities )
#States wise distribution is subject to further verification and reconciliation
#Our figures are being reconciled with ICMR
कमेंट करें
qS2Ro
NEXT STORY

Paytm Money: अब पेटीएम मनी ऐप से हर कोई कर सकता है स्टॉक मार्किट में  निवेश, कंपनी का 10 लाख निवेशकों को जोड़ने का लक्ष्य

Paytm Money: अब पेटीएम मनी ऐप से हर कोई कर सकता है स्टॉक मार्किट में  निवेश, कंपनी का 10 लाख निवेशकों को जोड़ने का लक्ष्य

डिजिटल डेस्क, दिल्ली। भारत के घरेलु वित्तीय सेवा प्रदाता पेटीएम ने आज घोषणा की है कि इसकी पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी पेटीएम मनी ने देश में सभी के लिए स्टॉकब्रोकिंग की सुविधा शुरू कर दी है। कंपनी का लक्ष्य इस वित्त वर्ष में 10 लाख से अधिक निवेशकों को जोड़ना है, जिसमें अधिकतर छोटे शहरों और कस्बों से आने वाले फर्स्ट टाइम यूजर्स होंगे। इस प्रयास का उद्देश्य उत्पाद के आसान उपयोग, कम मूल्य निर्धारण (डिलीवरी ऑर्डर पर जीरो ब्रोकरेज, इंट्राडे के लिए 10 रुपये) और डिजिटल केवाईसी के साथ पेपरलेस खाता खोलने के साथ निवेश को प्रोत्साहित करना तथा अधिक-से-अधिक लोगों तक पहुंचना है। कंपनी भारत में सबसे व्यापक ऑनलाइन वेल्थ मैनेजमेंट प्लेटफार्म बनने के लिए प्रयासरत है, जो वित्तीय समावेशन के लक्ष्य के तहत आम लोगों तक आसानी से पहुंच सके।

पेटीएम मनी को अपने शुरुआती प्रयास में ही लोगों से भारी प्रतिक्रिया मिली और उसने 2.2 लाख से अधिक निवेशकों को अपने साथ जोड़ लिया। इनमें से, 65% उपयोगकर्ता 18 से 30 वर्ष के आयु वर्ग में हैं, जो दर्शाता है कि नई पीढ़ी अपनी वेल्थ पोर्टफोलियो का निर्माण कर रही है। टियर-1 शहरों जैसे मुंबई, बैंगलोर, हैदराबाद, जयपुर और अहमदाबाद में इस प्लेटफार्म को बड़े स्तर पर अपनाया गया है। ठाणे, गुंटूर, बर्धमान, कृष्णा, और आगरा जैसे छोटे शहरों में भी लोगों का भारी झुकाव देखने को मिला है। यह सेवा सुपर-फास्ट लोडिंग स्टॉक चार्ट्स, ट्रैक मार्केट मूवर्स एंड कंपनी फंडामेंटल्स सुविधाओं के साथ अब आईओएस, एंड्रॉइड और वेब पर उपलब्ध है। पेटीएम मनी ऐप शेयरों पर निवेश, व्यापार और सर्च के लिए प्राइस अलर्ट और एसआईपी सेट करने के लिए आसान इंटरफ़ेस प्रदान करता है।

इस अवसर पर पेटीएम मनी के सीईओ, वरुण श्रीधर ने कहा, "हमारा उद्देश्य वेल्थ मैनेजमेंट सेवाओं को आबादी के बड़े हिस्से तक पहुंचाना है, जो आत्मानिर्भर भारत के लक्ष्य में योगदान करेगी। हमारा मानना है कि यह मिलेनियल और नए निवेशकों को उनके वेल्थ पोर्टफोलियो के निर्माण में सक्षम बनाने का समय है। प्रौद्योगिकी पर आधारित हमारे समाधान शेयर में निवेश को सरल और आसान बनाता है। हम वर्तमान उत्पादों को चुनौती देते रहेंगे और भारत के सर्वश्रेष्ठ उत्पाद का निर्माण करते रहेंगे। हम पेटीएम मनी को सभी भारतीय के लिए एक व्यापक वेल्थ मैनेजमेंट प्लेटफार्म बनाने के लिए प्रतिबद्ध हैं। "

इतने कम समय में पेटीएम मनी पर स्टॉक ट्रेडिंग को व्यापक रूप से अपनाया जाना काफी महत्व रखता है। यह हर भारतीय के लिए डिजिटल निवेश को आसान बनाने के कंपनी के प्रयासों की सराहना को भी दर्शाता है। शेयरों में आसान निवेश के साथ, प्लेटफॉर्म उपयोगकर्ता को बाजार के बारे में शोध करने, मार्केट मूवर्स का पता लगाने, अनुकूल वॉचलिस्ट तैयार करने और 50 से अधिक शेयरों के लिए प्राइस अलर्ट सेट करने के अवसर प्रदान करता है। इसके अलावा, उपयोगकर्ता स्टॉक के लिए साप्ताहिक / मासिक एसआईपी सेट कर सकते हैं, और स्टॉक में निवेश को आॅटोमेट कर सकते हैं। बिल्ट-इन ब्रोकरेज कैलकुलेटर के साथ, निवेशक लेनदेन शुल्क का पता लगा सकते हैं और शेयरों को लाभ पर बेचने के लिए ब्रेक-इवेन प्राइस जान सकते हैं। इसके अलावा, स्टॉक ट्रेडिंग के अनुभव को और बेहतर बनाने के लिए एडवांस्ड चार्ट और अन्य विकल्प जैसे कवर चार्ट तथा ब्रैकेट ऑर्डर भी जोड़े गए हैं। इन सुविधाओं के अलावा बैंक-स्तरीय सुरक्षा के साथ निवेशकों के व्यक्तिगत डेटा को सुरक्षित रखते हुए अन्य सुविधाएं भी उपलब्ध होंगी।


पेटीएम मनी के बारे में
पेटीएम मनी वन97 कम्युनिकेशंस की पूर्ण स्वामित्व वाली एक सहायक कंपनी है। वन97 कम्युनिकेशंस भारत की घरेलू वित्तीय सेवा प्रदाता पेटीएम का स्वामित्व भी रखता है। यह देश का सबसे बड़ा ऑनलाइन इंवेस्टमेंट प्लेटफार्म है, और अब इसने उपयोगकर्ताओं के लिए डायरेक्ट म्यूचुअल फंड्स और एनपीएस के अपने वर्तमान आॅफर में स्टॉक्स को भी जोड़ दिया है। पेटीएम मनी का लक्ष्य एक पूर्ण-स्टैक इंवेस्टमेंट और वेल्थ मैनेजमेंट प्लेटफार्म बनना और लाखों भारतीयों तक धन सृजन के अवसरों को पहुंचाना है। बेंगलुरु स्थित मुख्यालय से संचालित इस कंपनी की टीम में 300 से अधिक सदस्य हैं।