comScore

Coronavirus in MP: मप्र में बीते 24 घंटों में दो की मौत और 13 ने कोरोना पॉजिटिव मिले, कुल 8 की मौत और 111 संक्रमित

Coronavirus in MP: मप्र में बीते 24 घंटों में दो की मौत और 13 ने कोरोना पॉजिटिव मिले, कुल 8 की मौत और 111 संक्रमित

हाईलाइट

  • अब तक इंदौर में 4 और उज्जैन में 2 लोगों की मौत
  • 20 नए पॉजिटिव मिले, कुल 86 संक्रमित

डिजिटल डेस्क, भोपाल। मध्यप्रदेश में कोरोना का कहर लगातार बढ़ता जा रहा है। देश का सबसे स्वच्छ शहर इंदौर राज्य में कोरोना का नया हॉटस्पॉट बन गया है। गुरुवार को यहां कोराना वायरस संक्रमण से 2 लोगों की मौत की पुष्टि हुई है। इसके साथ ही अब प्रदेश में संक्रमण से मरने वालों की संख्या बढ़कर 8 हो गई है। इनमें इंदौर के 5, उज्जैन के 2 और खरगोन के 1 लोग शामिल हैं। वहीं प्रदेश में गुरुवार को कोरोना के 13 नए मामले सामने आए हैं। राज्य में कुल संक्रमितों की संख्या 111 हो गई है। भोपाल में 4 लोग पॉजिटिव मिले हैं, ये सभी दिल्ली के निजामुद्दीन में मरकज के कार्यक्रम में शामिल हुए थे। इनमें से तीन विदेशी हैं और एक ओडिशा के भुवनेश्वर का रहने वाला है।

इंदौर में आज (गरुवार, 2 अप्रैल) सुबह 10 बजे मोती तबेला निवासी 54 वर्षीय व्यक्ति की मौत हो गई। उसे बुखार और सांस लेने में तकलीफ के बाद 29 मार्च को एमवाय अस्पताल में भर्ती किया गया था। इसकी न तो कोई कॉन्टेक्ट हिस्ट्री और न ही कोई ट्रेवल हिस्ट्री सामने आई है। इससे पहले, एमआरटीवी अस्पताल में भर्ती खजराना की रहने वाली 65 साल की महिला ने भी इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। महिला को सर्दी, खांसी, बुखार और सांस लेने में तकलीफ के बाद 29 मार्च को भर्ती किया गया था। उसकी भी कोई कॉन्टेक्ट हिस्ट्री सामने नहीं आई। 

इंदौर में बीते चार दिन में 5 की मौत
बता दें कि इंदौर में लगातार चौथे दिन मौत के मामले सामने आए हैं। यहां बीते तीन दिन से अब तक 5 लोगों की मौत हुई है। बुधवार को यहां 65 साल के व्यक्ति की मौत की पुष्टि हुई थी। उसने तीन दिन पहले दम तोड़ दिया था, जिसकी बाद में कोरोना की रिपोर्ट पॉजिटिव आई। इससे पहले 31 मार्च को 49 साल की महिला की और 30 मार्च को एक युवक की जान चली गई थी। वहीं बुधवार को राज्य में 33 नए मामले सामने आए हैं। इसके साथ मध्यप्रदेश में कोरोना मरीजों की कुल संख्या 99 पहुंच गई है। इनमें इंदौर के सर्वाधिक 75 मरीज शामिल हैं। इसके अलावा, जबलपुर के आठ, उज्जैन के छह, भोपाल के चार और शिवपुरी एवं ग्वालियर के दो-दो मरीजों और खरगोन के एक मरीज में भी कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि हुई है।

मप्र में में मरने वालों की संख्या 8 हुई

  • 24 मार्च- उज्जैन की रहने वाली 65 वर्षीय महिला की मौत।
  • 25 मार्च- इंदाैर के रानीपुरा निवासी 65 वर्षीय बुजुर्ग ने दम तोड़ा।
  • 27 मार्च- उज्जैन में 34 साल के बैटरी व्यवसायी की मौत। इनकी रिपोर्ट मौत के दो दिन बाद पॉजिटिव आई।
  • 29 मार्च- खरगोन के 62 वर्षीय बुजुर्ग की माैत। इनकी रिपाेर्ट मौत के दो दिन बाद आई
  • 30 मार्च- इंदौर के चंदन नगर की 49 वर्षीय जरीन बी ने दम तोड़ा।
  • 30 मार्च- एमआर-9 की राजकुमार कॉलोनी के 41 वर्षीय युवक की मौत।
  • 02 अप्रैल- खजराना के दादीनगर में रहने वाली 65 वर्षीय महिला की मौत।
  • 02 अप्रैल- मोती तबेला निवासी 54 साल के व्यक्ति की एमवाय अस्पताल में मौत। 

एक ही परिवार के 3 बच्चों सहित 9 लोग कोरोना पॉजिटिव
ताजा मामलों में अकेले इंदौर के 19 लोग संक्रमित पाए गए हैं, जिनमें तीन बच्चे भी शामिल हैं। शहर के तंजीम नगर के एक ही परिवार के नौ सदस्य हैं, जिनमें तीन वर्षीय बालिका, पांच वर्षीय बालिका और आठ वर्षीय बालक शामिल हैं। एक 65 वर्षीय पुरुष पड़ोस के खरगोन जिले का रहने वाला है। इन नए मामलों में शहर के एक पुलिस थाने के प्रभारी भी शामिल हैं, जो पहले ही एक निजी अस्पताल में भर्ती हैं। थाना प्रभारी की पत्नी और दो बेटियों को भी सावधानी के तौर पर अस्पताल के पृथक वॉर्ड में रखा गया है।

​दिल्ली में मरकज से लौटे 82 लोगों की पहचान
दिल्ली में आयोजित इस्लामिक सम्मेलन (तबलीगी जमात) में भाग लेने वाले मध्य प्रदेश के 107 लोगों में से 82 की पहचान कर ली गई है और उन्हें आईसोलेशन में रखा जा रहा है। वहीं शेष लोगों की तलाश जारी है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बुधवार की सुबह संवाददाताओं से कहा कि दिल्ली के निजामुद्दीन इलाके में मरकज में आयोजित तबलीगी जमात में शामिल होने के बाद 107 लोग राज्य में आए थे। ये लोग भोपाल, विदिशा, रायसेन, शाजापुर अलग-अलग जिलों में आए। सबसे ज्यादा लोग भोपाल में आए है। प्रशासन इन लोगों की खोज कर रही है। सीएम शिवराज ने बताया, 'अब तक राज्य में ऐसे 82 लोगों का पता कर लिया गया है, जो दिल्ली के तबलीगी जमात में शामिल हुए थे। इन सभी को आईसोलेशन और क्वारंटाइन में रखा जाएगा। अभी 82 लोगों के अलावा जो लोग शेष रह गए है उन्हें खोजा जा रहा है। दिल्ली में जो संक्रमण फैला है वह गंभीर मसला है।'

मरकाज में गए भोपाल के 36 लोग चिन्हित
उन्होंने आगे बताया कि, निजामुद्दीन मरकाज में गए भोपाल के 36 लोगो को चिन्हित कर लिया गया है। इनकी जानकारी के आधार पर आगे कार्रवाई की जाएगी। कलेक्टर पिथोड़े ने बताया कि जमातियों के साथ रहने वाले लोगों की भी सैंपलिंग कर जांच के लिए भेज दिए गए हैं। जमातियों ने 21 दिन का सेल्फ आइसोलेशन पूरा कर लिया है। किसी भी जमाती में अन्य किसी प्रकार का कोई बीमारी का लक्षण नहीं है।

कमेंट करें
5T24d