दैनिक भास्कर हिंदी: मीटिंग से पहले CS ने CM को लिखा लेटर, पूछा- अब तो नहीं होगी पिटाई?

February 27th, 2018

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। दिल्ली के चीफ सेक्रेटरी अंशु प्रकाश के साथ 'बदसलूकी' के बाद मंगलवार को एक बार फिर दिल्ली सरकार और अफसर आमने-सामने होंगे। मार्च में होने वाले बजट सेशन के लिए आज दिल्ली सरकार ने कैबिनेट मीटिंग बुलाई है, जो 3 बजे से दिल्ली सेक्रेटरिएट में रखी गई है। इस मीटिंग में सीएस अंशु प्रकाश समेत कई बड़े अफसर मौजूद होंगे। उससे पहले सीएस अंशु प्रकाश ने केजरीवाल सरकार को लेटर लिखकर कहा है कि 'वो अपने अफसरों समेत इस मीटिंग में शामिल होंगे, लेकिन सीएम ये सुनिश्चित करें कि इस मीटिंग में किसी भी अफसर पर कोई शारीरिक हमला नहीं किया जाएगा।' बता दें कि दिल्ली के चीफ सेक्रेटरी के साथ 19 फरवरी को सीएम हाउस में मारपीट की गई थी, जिसके बाद आप के दो विधायकों को हिरासत में लिया गया है। 

 



चीफ सेक्रेटरी ने लेटर में क्या लिखा? 

- चीफ सेक्रेटरी अंशु प्रकाश ने सीएम अरविंद केजरीवाल को लिखे इस लेटर में कहा है कि 'काउंसिल ऑफ मिनिस्टर्स की एक मीटिंग 3 बजे आज रखी गई है। इस मीटिंग में दिल्ली विधानसभा के बजट सेशन पर महत्वपूर्ण चर्चा की जाएगी।'
- दिल्ली सरकार के कर्मचारी पूरी ताकत के साथ काम करते हैं और हम नहीं चाहते कि हमारे वजह से सरकार के कामकाज प्रभावित हों।
- बजट सेशन की आखिरी डेट और इसे पास कराना सरकार के कामकाज के लिए बहुत जरूरी है। इसलिए मैं अपने सहयोगियों के साथ इस मीटिंग में हिस्सा लूंगा।
- हालांकि, इस मीटिंग से पहले सीएम अरविंद केजरीवाल को ये सुनिश्चित करना होगा कि किसी भी अधिकारी पर फिजिकली या वर्बली (मौखिक) अटैक नहीं होगा। 
- इसके साथ ही ये भी उम्मीद है कि इस मीटिंग में प्रोपर डेकोरम मेंटेन किया जाएगा और अधिकारियों की डिग्निटी रखी जाएगी।

क्या है पूरा मामला ? 

दरअसल, दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने सोमवार (19 फरवरी) रात को सीएम हाउस में एक मीटिंग बुलाई थी। इस मीटिंग में आप विधायकों के साथ-साथ चीफ सेक्रेटरी अंशु प्रकाश भी शामिल हुए थे। इस दौरान आप के दो विधायकों ने चीफ सेक्रेटरी के साथ बदसलूकी की। चीफ सेक्रेटरी को थप्पड़ मारा, धक्का-मुक्की की और अभद्र भाषा का इस्तेमाल किया गया। इतना ही नहीं, आप विधायकों ने चीफ सेक्रेटरी की कॉलर पकड़ी और उन्हें धक्का भी दिया। इस दौरान सीएम अरविंद केजरीवाल भी वहां मौजूद थे और ये सब सीएम हाउस में ही हुआ। इस केस में आप विधायक अमानतुल्ला खान और प्रकाश जारवाल को गिरफ्तार किया गया है।