comScore

Delhi Elections: राजनीति के केंद्र में दहाई के अंक को भी नहीं छू पाई भाजपा, दो साल में सात राज्यों में मिली हार 

Delhi Elections: राजनीति के केंद्र में दहाई के अंक को भी नहीं छू पाई भाजपा, दो साल में सात राज्यों में मिली हार 

हाईलाइट

  • 2017 में 72% आबादी और 75% भूभाग वाले 19 राज्यों में एनडीए की सरकार थी
  • 2020 में एनडीए के पास 16 राज्यों में ही सरकार है, इनमें 42% आबादी रहती है

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। दिल्ली विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी ने 70 में से 62 सीटें जीतकर एक बार फिर बड़ी जीत हासिल की है। इसी के साथ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की एक ओर राज्य में करारी हार हुई है। पिछली बार महज तीन सीटों पर जीत हासिल करने वाली भाजपा से इस उम्मीद थी कि वह इस बार कुछ बेहतर प्रदर्शन करेगी। इस बार सीटें तो बढ़ी, लेकिन ये संख्या सिर्फ आठ तक सीमित होकर रह गई। इसके साथ ही भाजपा के नेतृत्व वाली एनडीए पिछले दो साल में सात राज्यों में गंवा चुका है। दूसरी बार मोदी सरकार बनने के बाद 4 राज्यों में चुनाव हुए। इनमें से 3 चुनाव में भाजपा को हार का सामना करना पड़ा है। इसी के साथ भाजपा के लिए देश का सियासी नक्शा भी नहीं बदला। दिल्ली समेत 12 राज्यों में अभी भी भाजपा विरोधी दलों की सरकारें हैं। एनडीए के पास 16 राज्यों में ही सरकार है। इन राज्यों में 42% आबादी रहती है।

बता दें कि दिसंबर 2017 में भाजपा और उसके सहयाेगी दल शीर्ष पर थे। मध्यप्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़ जैसे मध्य क्षेत्र के राज्यों में उसकी सरकार थी। बिहार में नीतीश कुमार राजद का महागठबंधन छोड़कर एनडीए में आ चुके थे और उत्तर प्रदेश में भाजपा ने रिकॉर्ड सीटों के साथ सरकार बनाई थी। एक समय 72% आबादी और 75% भूभाग वाले 19 राज्यों में एनडीए की सरकार थी।

इन राज्यों में भाजपा विरोधियों की सरकार
दिसंबर में हुए चुनाव में झारखंड में सरकार बनने के बाद कांग्रेस की 7 राज्यों में सरकार है। इसके साथ ही कांग्रेस खुद के दम पर या गठबंधन के जरिए महाराष्ट्र, राजस्थान, मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़, पंजाब, पॉण्डीचेरी में सत्ता में है। दिल्ली में आम आदमी पार्टी (आप) की लगातार तीसरी जीत है। पश्चिम बंगाल में तृणमूल कांग्रेस, केरल में माकपा के नेतृत्व वाला गठबंधन, आंध्र प्रदेश में वाईएसआर कांग्रेस, ओडिशा में बीजद और तेलंगाना में टीआरएस सत्ता में है। एक और राज्य तमिलनाडु है, जहां भाजपा ने अन्नाद्रमुक के साथ लोकसभा चुनाव तो लड़ा था, लेकिन राज्य में उसका एक भी विधायक नहीं है। इसलिए वह सत्ता में भागीदार नहीं है।

मध्यप्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़ में एक साथ गंवाई सत्ता
बता दें कि पहले मध्यप्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़ में भी भाजपा ही सरकार थी। लेकिन कांग्रेस ने एक साल पहले हुए चुनावों के दौरान यहां भाजपा के हाथों से सत्ता छीन ली। मार्च 2018 से पहले आंध्र प्रदेश में भी भाजपा-टीडीपी गठबंधन की सरकार थी। लेकिन, स्पेशल स्टेटस को लेकर हुए विवाद के बाद भाजपा से गठबंधन तोड़ लिया। इसके बाद 2019 में हुए विधानसभा चुनाव में यहां वाईएसआर कांग्रेस ने सरकार बनाई और जगनमोहन रेड्डी मुख्यमंत्री बनें।

महाराष्ट्र में जीत के बावजूद नहीं बना पाए सरकार
महाराष्ट्र में भी हाल में ही हुए विधानसभा चुनाव के बाद मुख्यमंत्री पद को लेकर हुए विवाद के कारण भाजपा-शिवसेना गठबंधन टूट गया। इसके बाद शिवसेना ने एनडीए का साथ छोड़ा और कांग्रेस-एनसीपी के साथ मिलकर सरकार बना ली। जम्मू-कश्मीर में भी पीडीपी के साथ मिलकर सरकार बनाने वाली भाजपा ने जून 2018 में गठबंधन से नाता तोड़ लिया था, जिसके बाद राज्य में पहले राज्यपाल शासन और बाद में राष्ट्रपति शासन लगाया गया। अनुच्छेद 370 हटाने के बाद जम्मू-कश्मीर को दो केंद्र शासित प्रदेशों में बाट दिया गया है। इनमें से जम्मू-कश्मीर में विधानसभा है, जहां चुनाव होना बाकी है। लद्दाख में विधानसभा नहीं है।

कर्नाटक, मिजोरम, त्रिपुरा और मेघालय में सरकार बनाई
भाजपा ने भले ही इन सात राज्यों में सरकार गवां दी लेकिन इस दौरान उसने कर्नाटक, मिजोरम, त्रिपुरा और मेघालय में सरकार बनाई भी है। जिससे उसके हार का अंतर कुछ कम हुआ है।

इन राज्यों में है एनडीए सरकार
1. हिमाचल प्रदेश
2. हरियाणा
3. उत्तराखंड
4. उत्तर प्रदेश
5. बिहार
6. सिक्किम
7. अरुणाचल प्रदेश
8. असम
9. नागालैंड
10. मेघालय
11. मणिपुर
12. मिजोरम
13. त्रिपुरा
14. कर्नाटक
15. गुजरात
16. गोवा 

कमेंट करें
4Vkop
NEXT STORY

साप्ताहिक राशिफल: कलाशांति ज्योतिष साप्ताहिक राशिफल 30 मार्च से 05 अप्रैल तक


मेष लग्नराशि (Aries):➤  कलाशांति ज्योतिष साप्ताहिक राशिफल 30 मार्च से 05 अप्रैल तक:- ॐ मेष राशि वालों को इस सप्ताह कार्यक्षेत्र अधिक परिश्रम करना पड़ सकता है। इस सप्ताह आपकी वाणी मधुर तथा लोगों को आकर्षित करेगी। पारिवारिक लोगों के साथ आप अच्छा समय व्यतीत करेंगे। आपकी आर्थिक स्थिति में कुछ सुधार संभव है। सेहत का ध्यान रखे आलस्य में वृद्धि हो सकती है। मानसिक नकारात्मकता बढ़ने से आप परेशान हो सकते है अतः इससे बचे। जीवनसाथी तथा प्रेमिका के साथ आपकी नजदीकियां बढ़ सकती है। सप्ताह का अंतिम भाग अचानक धन का लाभ दिला सकता है।     

वृषभ लग्नराशि (Taurus):➤ कलाशांति ज्योतिष साप्ताहिक राशिफल 30 मार्च से 05 अप्रैल तक:- ॐ इस सप्ताह वृषभ राशि वालों का जीवनसाथी के प्रति प्रेम बढ़ सकता है। पारिवारिक जीवन में कलह की स्थिति उत्पन्न हो सकती है अतः सतर्क बने रहे। इस सप्ताह आपको अपनी वाणी पर संयम बनाए रखने की जरूरत रहेगी। कार्यक्षेत्र के लिहाज से सप्ताह सामान्य बना रहेगा। व्यापारिक वर्ग को कुछ अच्छे लाभ मिलने के संकेत है। भाई बहनों से लाभ तथा सहयोग की प्राप्ति होगी। धार्मिक कार्यो के प्रति आपका रुझान अधिक बना रह सकता है। धन खर्च की अधिकता भी रहेगी। तनाव लेने से बचें।   

मिथुन लग्नराशि (Gemini) :➤ कलाशांति ज्योतिष साप्ताहिक राशिफल 30 मार्च से 05 अप्रैल तक:- ॐ इस सप्ताह मिथुन राशि वालों को सेहत से जुडी कुछ समस्याएं परेशान कर सकती है। बेसमय का खान पान आपको दिक्क्त दे सकता है अतः ध्यान रखें। कार्यो को लेकर मन में थोड़ी परेशानी बनी रह सकती है। पारिवारिक तथा वैवाहिक जीवन में सामंजस्य बना कर चले, अन्यथा दिक्कतें मिल सकती है। सप्ताह के मध्य का समय आपके लिए लाभकारी बना रहेगा। चल रही दिक्क्तों में आपको राहत मिल सकती है। धन का व्यय आपकी आर्थिक स्थिति को खराब कर सकता है।  

कर्क लग्नराशि (Cancer):➤  कलाशांति ज्योतिष साप्ताहिक राशिफल 30 मार्च से 05 अप्रैल तक:- ॐ इस सप्ताह कर्क राशि वालों को शुरूआती दिनों में कोई मानसिक तथा शारीरिक कष्ट हो सकते है। पारिवारिक सदस्यों के साथ सुकून भरा समय व्यतीत होगा। जीवनसाथी की सेहत का ध्यान रखे। जीवनसाथी को चोट लगने की सम्भावना बन सकती है। आपको संतान से सुख तथा लाभ मिल सकता है। व्यापारी वर्ग के लिए सप्ताह चिंता भरा रह सकता है। इस सप्ताह आपको क्रोध तथा तनाव से दूर रहने की सलाह है। सप्ताह का अंतिम भाग आपके लिए अच्छा रहेगा कोई शुभ समाचार आपको मिल सकता है।    

सिंह लग्नराशि (Leo): ➤  कलाशांति ज्योतिष साप्ताहिक राशिफल 30 मार्च से 05 अप्रैल तक:- ॐ इस सप्ताह सिंह राशि वालों को धन सम्बन्धी मामलों को लेकर चिंता बनी रह सकती है। सेहत को लेकर चल रही परेशानी में इस सप्ताह आपको राहत मिल सकती है। कार्यक्षेत्र में आपके लिए सामान्य स्थिति बनी रहेगी। इस सप्ताह की शुरुआत में संतान से आपके मतभेद हो सकते है या उनकी सेहत परेशान कर सकती है। छात्र वर्ग के लोग आलस्य भरा सप्ताह व्यतीत करेंगे। पारिवारिक सदस्यों के साथ आपके सम्बन्ध अच्छे तथा मधुर बने रहेंगे। सप्ताह के अंतिम दिन कोई अच्छी खबर आपको प्रसन्न कर सकती है।  

कन्या लग्नराशि (Virgo):➤ कलाशांति ज्योतिष साप्ताहिक राशिफल 30 मार्च से 05 अप्रैल तक:- ॐ इस सप्ताह कन्या राशि वालों को कार्यक्षेत्र में कार्य से सम्बंधित समस्या बनी रह सकती है। इस सप्ताह आप माता तथा संतान को लेकर परेशान हो सकते है। इस राशि से सम्बंधित गर्भवती महिलायें अपना ध्यान रखें। आपका पारिवारिक जीवन सामान्य रूप से व्यतीत होगा। जुए -सट्टे में आपको धन हानि होने की सम्भावना रहेगी। सेहत के लिहाज से सप्ताह  ठीक बना रहेगा। इस सप्ताह तनाव तथा चिड़चिड़ापन बढ़ सकता है अतः बचे।  

तुला लग्नराशि (Libra):➤ कलाशांति ज्योतिष साप्ताहिक राशिफल 30 मार्च से 05 अप्रैल तक:- ॐ इस सप्ताह तुला राशि वालों की धर्म-कर्म में भागीदारी बढ़ सकती है। आप धार्मिक कथाओं में अधिक रूचि लेंगे। छोटे मोटे कार्यो को लेकर कार्यक्षेत्र में आपकी गतिविधि बनी रह सकती है। इस सप्ताह बुद्धि संबंधी चर्चाओं में आप भाग ले सकते है। सेहत के लिहाज से सप्ताह अच्छा बना हुआ है। पारिवारिक सदस्यों के साथ सामंजस्य बना रहेगा तथा जीवनसाथी के साथ सम्बन्ध मधुर रहेंगे। सप्ताह के अंतिम भाग में अचानक धन का लाभ हो सकता है।

वृश्चिक लग्नराशि (Scorpio):➤ कलाशांति ज्योतिष साप्ताहिक राशिफल 30 मार्च से 05 अप्रैल तक:- ॐ इस सप्ताह वृश्चिक राशि वालों को मानसिक तथा शारीरिक तकलीफ परेशान कर सकती है। जीवनसाथी तथा बच्चों के साथ अच्छा समय व्यतीत कर सकते है। इस सप्ताह आप पारिवारिक जिम्मेदारियों का निर्वाह अच्छी तरह से करेंगे। लेखन के कार्यो से जुड़े हुए जातको के लिए यह सप्ताह फलदायी साबित हो सकता है। प्रेमी वर्ग को अच्छे समाचार मिल सकते है। इस सप्ताह आप साफ़ सफाई पर अधिक ध्यान दे सकते है। छात्र वर्ग को यह सप्ताह  विशेष लाभ देने वाला रहेगा, विशेषकर उच्च शिक्षा वर्ग के छात्रों को।

धनु लग्नराशि (Sagittarius):➤ कलाशांति ज्योतिष साप्ताहिक राशिफल 30 मार्च से 05 अप्रैल तक:- ॐ इस सप्ताह धनु राशि वालों को अपने पारिवारिक तथा वैवाहिक जीवन में संघर्ष करना पड़ सकता है। अपने निजी जीवन में अपने क्रोध तथा वाणी पर अंकुश रखना आपके लिए हितकारी सिद्ध होगा। सेहत को लेकर भी इस सप्ताह आप परेशान बने रह सकते है। आँखों तथा सिरदर्द की तकलीफ परेशान कर सकती है। धन सम्बन्धी मामलों को लेकर कुछ परेशानी हो सकती है। घरेलु सामग्री पर आपका धन का खर्च हो सकता है। कार्यक्षेत्र में स्थितियां सामान्य रहेगी।

मकर लग्नराशि (Capricorn):➤ कलाशांति ज्योतिष साप्ताहिक राशिफल 30 मार्च से 05 अप्रैल तक:- ॐ इस सप्ताह मकर राशि वालों को संतान सुख मिलेगा। कार्यक्षेत्र के लिहाज से सप्ताह का मध्य भाग आपके लिए अच्छा रहेगा। सेहत से जुडी कोई समस्या इस सप्ताह आपको परेशान कर सकती है। पारिवारिक तथा वैवाहिक जीवन सामान्य बना रहेगा। जीवनसाथी को इस सप्ताह अच्छे फल प्राप्त हो सकते है। वाहन चलाते समय सतर्कता बरतें। इस सप्ताह क़ानूनी नियमों का पालन करें अन्यथा कष्ट मिल सकते है। धन व्यय की अधिकता के चलते परेशान हो सकते है।    

कुंभ लग्नराशि (Aquarius):➤  कलाशांति ज्योतिष साप्ताहिक राशिफल 30 मार्च से 05 अप्रैल तक:- ॐ इस सप्ताह कुंभ राशि वालों को आय से सम्बंधित मामलों में असफलता हाथ लग सकती है। आपकी सुविधाओं में वृद्धि होगी। आपका खान पान उच्च कोटि का रहेगा। आप पारिवारिक सदस्यों तथा मित्रों के साथ अधिक समय व्यतीत करेंगे। जीवनसाथी के साथ प्रेम भाव में वृद्धि होगी। अहंकार से दूर बने रहे उचित रहेगा। सेहत का ध्यान रखे चोट लग सकती है। छात्र वर्ग के लोग इस सप्ताह अपने जरुरी कार्य पूर्ण करने में आलस्य करेंगे। संतान से मतभेद संभव है।   

मीन लग्नराशि (Pisces):➤  कलाशांति ज्योतिष साप्ताहिक राशिफल 30 मार्च से 05 अप्रैल तक:- ॐ इस सप्ताह  मीन राशि वालों को अपनी दैनिक सुख सुविधाओं में कुछ कमी मिल सकती है। कार्यक्षेत्र में स्थितियां गंभीर बनी रह सकती है। धन से जुड़े मामलों के लिए आपको अधिक परिश्रम करना पड़ेगा। छात्र वर्ग इस सप्ताह अपने सभी कार्य आने वाले कल पर टाल सकते है। संतान की सेहत का ध्यान रखे। सप्ताह के मध्य में आपको कोई छोटा धन का लाभ मिल सकता है। माता -पिता की सेहत का ध्यान रखे। इस सप्ताह आपके मान-सम्मान में वृद्धि हो सकती है। तनाव से खुद को दूर रखें।

Kalashantijyotish (कलाशांति ज्योतिष) 
Call: - +91-6261231618 
http://www.kalashantijyotish.com