दैनिक भास्कर हिंदी: दिल्ली हिंसा : ईडी ने ताहिर हुसैन से दूसरे दिन भी की पूछताछ

September 1st, 2020

हाईलाइट

  • दिल्ली हिंसा : ईडी ने ताहिर हुसैन से दूसरे दिन भी की पूछताछ

नई दिल्ली, 1 सितंबर (आईएएनएस)। इस साल की शुरुआत में पूर्वोत्तर दिल्ली के दंगों से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने आम आदमी पार्टी के निलंबित नेता ताहिर हुसैन से पूछताछ जारी रखी है।

एजेंसी ने प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट, 2002 (पीएमएलए) के प्रावधानों के तहत हुसैन को गिरफ्तार किया था और उसके बाद सोमवार को दिल्ली की एक अदालत ने हुसैन को छह दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया था।

हुसैन से यह पूछताछ दक्षिणी दिल्ली के पॉश खान मार्केट इलाके में स्थित ईडी मुख्यालय में की जा रही है। हुसैन से दिल्ली के दंगों और हवाला ऑपरेटरों के लिए फंडिंग के बारे में पूछताछ की जा रही है, क्योंकि वह इन लोगों के साथ संपर्क में था।

ईडी के एक अधिकारी ने कहा कि तब्लीगी जमात प्रमुख मौलाना साद के साथ उसके संबंधों को लेकर भी पूछताछ की जा रही है। हुसैन को एजेंसी ने मनी लॉन्ड्रिंग में उसकी भूमिका के लिए गिरफ्तार किया है। साथ ही उसने फरवरी में पूर्वोत्तर दिल्ली में हुए सीएए विरोधी प्रदर्शन और दंगों के लिए वित्तीय मदद भी की थी।

एक अधिकारी ने कहा कि यह मामला क्राइम ब्रांच द्वारा आईपीसी की कई धाराओं के तहत दर्ज की गई एफआईआर और दयालपुर पुलिस स्टेशन, दिल्ली पुलिस द्वारा दर्ज की गई एफआईआर पर आधारित है। इन्हीं एफआईआर को आधार बनाकर ईडी ने पीएमएलए के तहत मामला दर्ज किया था।

अधिकारी ने कहा कि जांच के दौरान यह पाया गया कि हुसैन और उनके रिश्तेदारों के स्वामित्व वाली या उनके नियंत्रण वाली कंपनियों ने बड़ी मात्रा में ऐसी संदिग्ध संस्थाओं को धन ट्रांसफर किया था, जो बाद में उन्हें नकद में वापस कर दिया गया।

उन्होंने आगे कहा, हुसैन को नकद में मिले इस पैसे का इस्तेमाल सीए विरोधी प्रदर्शनों और दिल्ली में हिंसा भड़काने के लिए किया गया था। इसके अलावा जांच में यह भी सामने आया है कि इससे पहले भी हुसैन और उनकी कंपनियां अवैध तरीके से मनी लॉन्ड्रिंग करती रही हैं।

ईडी ने कहा कि 23 जून को दिल्ली, नोएडा और ग्रेटर नोएडा में उसके और उसके परिवार के सदस्यों के आवासीय और व्यावसायिक ठिकानों में तलाशी ली गई थी, जिसमें कई जाली दस्तावेजों सहित ऐसे साक्ष्य और सबूत मिले हैं जो पैसे के फर्जी तरीके से किए गए हस्तांतरण में इस्तेमाल किए गए थे।

कुछ दिन पहले ईडी के अधिकारियों ने तिहाड़ जेल में हुसैन से पूछताछ की थी। हुसैन को दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार किया था। इसके बाद वह मनी लांड्रिंग में भूमिका के लिए पीएमएलए के तहत गिरफ्तार किया गया।

एसडीजे/एसजीके

खबरें और भी हैं...