comScore

डॉक्टर रेप और मर्डर केस: कोर्ट ने आरोपियों को 14 दिन के रिमांड पर भेजा

डॉक्टर रेप और मर्डर केस: कोर्ट ने आरोपियों को 14 दिन के रिमांड पर भेजा

हाईलाइट

  • आरोपियों को शादनगर थाने से चंचलगुड़ा केंद्रीय जेल में स्थानांतरित किया गया
  • डॉक्टर के साथ रेप और हत्या के विरोध में लोग प्रदर्शन करने सड़क पर उतरे

जिटल डेस्क, हैदराबाद। तेलंगाना की राजधानी हैदराबाद में महिला वेटनरी डॉक्टर के साथ बलात्कार और हत्या के मामले के चारों आरोपियों को 14 दिन की न्यायिक रिमांड में भेज दिया गया है। पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार कर अदालत में पेश किया था। आरोपियों की पहचान मोहम्मद आरिफ, जोलू शिवा, नवीन और चेत्रेकशवुलु के रूप में हुई है। 

वहीं वेटनरी डॉक्टर के साथ दुष्कर्म और हत्या के विरोध में प्रदर्शन कर रहे स्थानीय लोगों ने शादनगर थाने को घेर लिया। इस दौरान प्रदर्शनकारियों ने पुलिस पर चप्पल भी फेंकी। चारों आरोपियों को गिरफ्तार कर यहीं रखा गया था। अभियुक्तों को चंचलगुडा सेंट्रल जेल में स्थानांतरित कर दिया गया है। मंडल कार्यकारी मजिस्ट्रेट ने शादनगर पुलिस स्टेशन को आदेश दिए हैं।

डॉक्टर के साथ रेप और हत्या के विरोध में लोग सड़क पर उतर आए हैं। प्रदर्शन कर रहे लोगों को कंट्रोल करने के लिए पुलिस को बल प्रयोग करना पड़ा। पुलिस ने प्रदर्शनकारियों पर लाठी भी चलाई। प्रदर्शन कर रहे लोगों का कहना है कि परसों जो डॉक्टर के साथ घटना हुई उसके आरोपियों को जल्द से जल्द फांसी की सजा दी जाए। बता दें कि सोशल मीडिया समेत देश में कई जगह पर इस मुद्दे को लेकर प्रदर्शन हो रहे हैं। घटना के विरोध में हैदराबाद के सरकारी स्कूल के विद्यार्थियों ने हैदराबाद-बैंगलोर राजमार्ग को बंद कर दिया। इस दौरान प्रदर्शनकारी स्टूडेंट्स ने आरोपियों को फांसी देने की मांग की।

वहीं गैंगरेप, हत्‍या और जला देने के दिल दहला देने वाले मामले में बड़ा खुलासा हुआ है। पुलिस को जांच में पता चला है कि इस जघन्य वारदात के एक आरोपी मोहम्‍मद आरिफ ने हैवानियत के दौरान पीड़‍िता का मुंह दबा रखा था, ताकि उनकी चीखों को कोई सुन न सके। वह तड़पती रहीं और दरिंदे उनके साथ हैवानियत करते रहे। माना जा रहा है कि सांस नहीं ले पाने के कारण डॉक्टर की मौत हो गई थी। इसके बाद आरोपी पेट्रोल खरीदकर लाए और पीड़िता के शरीर पर डाल कर आग लगा दी।

पुलिस ने कहा है कि शुक्रवार को चारों आरोपियों ने वैटरनरी डॉक्टर को टोल प्लाजा के पास स्कूटी पार्क करते देखा था। तभी आरोपियों ने महिला के साथ दुष्कर्म की योजना बनाई थी। साजिश के तहत आरोपियों में से एक नवीन ने डॉ. के गाड़ी का टायर पंचर कर दिया था, ताकि वे महिला डॉक्‍टर को अपने जाल में फंसाकर वारदात को अंजाम दे सकें।

कमेंट करें
5TfsM