comScore

भारत में पहली बार जानवरों में पहुंचा कोरोनावायरस, हैदराबाद के ज़ू में 8 शेरों का टेस्ट पॉजिटिव आया

भारत में पहली बार जानवरों में पहुंचा कोरोनावायरस, हैदराबाद के ज़ू में 8 शेरों का टेस्ट पॉजिटिव आया

हाईलाइट

  • देश में पहली बार जानवरों में फैला कोरोना
  • हैदराबाद में 8 बब्बर शेर कोविड पॉजिटिव

डिजिटल डेस्क, हैदराबाद। हैदराबाद के नेहरू जूलॉजिकल पार्क में आठ एशियाई शेरों का कोरोनावायरस टेस्ट पॉजिटिव आया है। इन आठों शेरों में चार शेर और चार शेरनियां हैं। भारत में इस तरह का यह पहला मामला है, जिसमें कोई जानवर इस घातक वायरस से संक्रमित पाया गया है। सेंटर फॉर सेल्युलर एंड मॉलिक्यूलर बायोलॉजी (CCMB) में 29 अप्रैल को इन शेरों के स्वैब जांच के लिए भेजे गए थे। इसके बाद इन शेरों के कोरोना से संक्रमित होने की पुष्टि हुई हैं।

अधिकारियों ने बताया कि 24 अप्रैल को इन शेरों की देखभाल करने वालों ने देखा कि इनमें सूखी खांसी, नाक से पानी निकलना और भूख न लगना जैसे लक्षण दिखाई दे रहे हैं। इसके बाद उन्होंने पशु चिकित्सा टीम को अलर्ट किया और आठों शेरों के स्वैब लेकर इसे जांच के लिए भेजा गया। नेहरू जूलॉजिकल पार्क के अधिकारियों ने शेरों का सैंपल लेने के लिए पहले उन्हें बेहोशी की दवा दी। इसके बाद उनके नाक, गले और रेस्पिरेटरी ट्रैक्ट से स्वैब निकाला।

CCMB ने नमूनों की जीनोम सिक्वेंसिंग की ताकि यह पता लगाया जा सके कि यह स्ट्रेन इंसानों से आया है या नहीं। CCMB की जांच में पता चला है कि इन आठों शेरों में चिंता पैदा करने वाला संक्रमण नहीं है। क्योंकि इनके शरीर में कोरोना का कोई नया वैरिएंट नहीं है। संक्रमण का पता लगने के बाद ही आठों शेरों को आइसोलेट कर दिया गया था और ट्रीटमेंट भी शुरू कर दिया। CCMB शेरों का किस तरह ध्यान रखना है, इसकी डिटेल चिड़ियाघर के कर्मचारियों के साथ शेयर की है। CCMB के डायरेक्टर डॉ. राकेश मिश्रा ने बताया कि ये शेर काफी तेजी से रिकवर कर रहे हैं। 

सेंट्रल जू अथॉरिटी ने भी हैदराबाद के नेहरू जूलॉजिकल पार्क को गाइडलाइंस भेजी हैं। साथ ही ये भी बताया है कि इस समय क्या करना चाहिए और क्या नहीं। बता दें कि पिछले साल अमेरिका और कुछ यूरोपीय देशों के चिड़ियाघरों में कुछ जीव कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे। भारत में पहली बार जानवरों के कोरोना पॉजिटिव होने की खबर आई है।

कमेंट करें
fG2Ze