दैनिक भास्कर हिंदी: छिन सकता है लालू का लालटेन, EC ने जारी किया नोटिस

April 17th, 2018

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। लालू यादव की पार्टी राष्ट्रीय जनता दल को चुनाव आयोग ने नोटिस भेजा है। ये नोटिस पार्टी के वित्त वर्ष 2014-15 की ऑडिट रिपोर्ट अब तक न दाखिल करने को लेकर भेजा गया है। आयोग ने राष्ट्रीय जनता दल को नोटिस जारी कर सवाल पूछा है क्यों न पार्टी पर चुनाव चिन्ह से जुड़े कानून के तहत कार्रवाई की जाए? आयोग ने जवाब देने के लिए 20 दिन का वक्त दिया है।

सिम्बल जब्त करने का अधिकार
हर वित्तीय वर्ष के आयकर रिटर्न की जानकारी उस साल 31 अक्टूबर तक देनी होती है। इस हिसाब से आरजेडी को 31 अक्टूबर 2015 तक इंकम टैक्स रिटर्न की जानकारी दे देनी चाहिये थी लेकिन अब तक नहीं दी गई है। चुनाव आयोग ने 1968 के इलेक्शन सिम्बल एक्ट के पैरा 16ए के तहत कार्रवाई का नोटिस भेजा गया है जिसमें पार्टियों का सिम्बल ज़ब्त किया जा सकता है। इस हिसाब से लालू प्रसाद यादव की पार्टी लालटेन का सिम्बल छिन सकता है। 

अमूमन 4 से 6 महीने की देरी करते हैं दल
देश में 7 राष्ट्रीय दलों समेत 49 राज्यस्तरीय मान्यता प्राप्त क्षेत्रीय दल भी है। सभी मान्यता प्राप्त राजनीतिक दलों को हर साल अक्टूबर के अंत तक पिछले वित्त वर्ष की सालाना ऑडिट रिपोर्ट आयोग के पास दाखिल करनी होती है। चुनाव आयोग के एक अधिकारी ने कहा, "अमूमन पार्टियां 4 से 6 महीने की देरी कर रही हैं लेकिन आयोग राजनीतिक दलों को अपना पक्ष रखने का मौका देता है। हमने अभी 2014-15 के रिटर्न की जानकारी न देने वालों को ही नोटिस दिया है। बाकी पार्टियों को हमने रिमाइंडर भेजे हैं। 

यूनाइटेड डेमेक्रेटिक पार्टी को भी नोटिस
लालू यादव की पार्टी जनता दल यूनाइटेड (JDU) के अलावा चुनाव आयोग ने मेघालय की राज्य पार्टी यूनाइटेड डेमेक्रेटिक पार्टी को ही ऐसा ही नोटिस भेजा है। इस पार्टी पर भी चुनाव आयोग 1968 के इलेक्शन सिम्बल एक्ट के पैरा 16ए के तहत कार्रवाई कर सकता है।