comScore

India-US: एस जयशंकर ने अमेरिकी विदेश मंत्री पोम्पियो से की बात, चीन और कोरोना समेत कई मुद्दों पर चर्चा

August 07th, 2020 17:16 IST
India-US: एस जयशंकर ने अमेरिकी विदेश मंत्री पोम्पियो से की बात, चीन और कोरोना समेत कई मुद्दों पर चर्चा

हाईलाइट

  • भारतीय विदेश मंत्री जयशंकर ने अमेरिकी विदेश मंत्री पोम्पियो से की बात
  • चीन से तनाव और कोरोना से निपटने सहित कई वैश्विक मुद्दों पर की चर्चा

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। चीन से तनाव और कोरोना संकट के बीच भारत के विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो बात की। दोनों देशों के समकक्षों के बीच गुरुवार को हुई फोन वार्ता में कई वैश्विक मुद्दों पर मंथन किया गया। इस दौरान हिंद-प्रशांत क्षेत्र में सुरक्षा को बढ़ाने के लिए अपने देशों की प्रतिबद्धता को दोहराते हुए चीन की आक्रामक कार्रवाइयों पर भी चर्चा हुई।

विदेश विभाग के प्रधान उप प्रवक्ता केल ब्राउन के मुताबिक, दोनों शीर्ष राजनयिकों ने देश में हाल ही में अस्थिरता लाने को लेकर हुई गतिविधियों से निपटने के लिए द्विपक्षीय और बहुपक्षीय सहयोग पर चर्चा की। हालांकि प्रवक्ता ने इसके लिए जिम्मेदार देश का नाम नहीं लिया लेकिन पोम्पियो के हालिया बयानों से यह स्पष्ट है कि यह चीन के बारे में था।

अफगानिस्तान को लेकर भी दोनों के बीच चर्चा
पोम्पियो ने बार-बार हिमालय में लद्दाख और भूटान में वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) से हिंद-प्रशांत क्षेत्र में बीजिंग की आक्रामक कार्रवाइयों पर बात की, जहां इसने कई देशों के क्षेत्रीय जल क्षेत्र में घुसपैठ की है। ब्राउन ने कहा, अफगानिस्तान को लेकर भी दोनों के बीच चर्चा हुई। अमेरिकी विदेश मंत्रालय के मुताबिक, दोनों देशों के नेताओं ने इस साल के अंत तक मंत्री स्तर की वार्ता के लिए सहमति व्यक्त की है। मंत्री स्तर की इस वार्ता में दोनों देशों के दो-दो मंत्री शामिल होंगे।

कोरोना से लड़ने के प्रयासों पर भी बातचीत
अमेरिकी विदेश मंत्रालय की ओर से बताया गया, दोनों नेताओं के बीच अफगानिस्तान में शांति प्रक्रिया का समर्थन करने और अन्य अंतर्राष्ट्रीय मुद्दों के साथ ही कोरोना से लड़ने के प्रयासों पर भी चर्चा हुई। माइक पोम्पियो और जयशंकर ने इंडो- पैसिफिक रीजन के साथ ही दुनिया में शांति, समृद्धि और सुरक्षा के लिए भारत और अमेरिका के संबंधों को और मजबूत करने पर जोर दिया। दोनों विदेश मंत्रियों ने क्षेत्रीय और अंतर्राष्ट्रीय मुद्दों को लेकर आपसी सहयोग जारी रखने पर भी सहमति जताई।

कमेंट करें
e62MQ