मंकीपॉक्स: राजधानी दिल्ली में मंकीपॉक्स ने दी दस्तक, सामने आया पहला केस 

July 24th, 2022

हाईलाइट

  • WHO ने शनिवार को इसे ग्लोबल हेल्थ इमरजेंसी घोषित कर दिया था

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। केरल में तीन मामलों की पुष्टि होने के बाद अब मंकीपॉक्स ने देश की राजधानी दिल्ली में भी दस्तक दे दी है। राजधानी में 31 साल का शख्स मंकीपॉक्स से संक्रमित पाया गया है। फिलहाल, उसे उपचार के लिए एलएनजेपी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जानकारी के मुताबिक, मरीज हाल ही में हिमाचल प्रदेश से लौटा है। हालांकि, उसकी कोई विदेश यात्रा की हिस्ट्री नहीं है। इसी के साथ देश में मंकीपॉक्स के कुल मामलों की संख्या बढ़कर 4 हो गई है। इससे पहले केरल में 3 मामलों की पुष्टि हो चुकी है। 

बता दे, देश में 14 जुलाई को मंकीपॉक्स का पहला मामला सामने आया था, जहां केरल का एक व्यक्ति दुबई से वापस लौटा था। इस केस के मात्र 8 दिनों के अंदर दोनों मामलों की पुष्टि हुई थी। 

डब्लूएचओ ने घोषित की इमरजेंसी 

मंकीपॉक्स के खतरे को देखते हुए विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने शनिवार को इसे ग्लोबल हेल्थ इमरजेंसी घोषित कर दिया था। जानकारी के मुताबिक, मंकीपॉक्स के अभी तक 75 से अधिक देशों में 16,000 से अधिक मामले सामने आ चुके हैं, जहां अफ्रीका में इससे पांच मौतें हो चुकी हैं।

डब्लूएचओ के महानिदेशक ट्रेडोस एडनॉम गेरब्रेयियस ने एक बयान में कहा, "डब्ल्यूएचओ का आकलन है कि मंकीपॉक्स का जोखिम विश्व स्तर पर और यूरोपीय क्षेत्र को छोड़कर सभी क्षेत्रों में मध्यम है, जहां हम जोखिम का आकलन का रहे हैं। यह बहुत तेजी से फैल रहा है। इन सभी कारणों को ध्यान में रखकर हम मंकीपॉक्स को लेकर ग्लोबल हेल्थ इमरजेंसी घोषित की है।"

ये है मंकीपॉक्स के लक्षण 

संक्रमित होने के पांच दिन के भीतर बुखार, तेज सिरदर्द, सूजन, पीठ दर्द, मांसपेशियों में दर्द और थकान जैसे लक्षण दिखते हैं। मंकीपॉक्स शुरुआत में चिकनपॉक्स, खसरा या चेचक जैसा दिखता है, जहां शरीर पर मोटे-मोटे दाने हो जाते है।