दैनिक भास्कर हिंदी: अगर प्रणब मुखर्जी की तरह संघ ने मुझे बुलाया होता तो मैं भी जाता : दिग्विजय

June 25th, 2018

हाईलाइट

  • RSS को लेकर दिग्विजय सिंह ने दिया बड़ा बयान
  • पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के बचाव में आए दिग्विजय
  • नागपुर में संघ के कार्यक्रम में पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी का जाना सही था: दिग्विजय

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के संघ के कार्यक्रम में शामिल होने पर हुए विवाद में कांग्रेस नेता दिग्विजय ने बड़ा बयान दिया है। दिग्विजय ने कहा है कि पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की तरह संघ ने उन्हें भी अपने कार्यक्रम में आने के लिए न्योता दिया होता तो वो भी जाते। संघ के मुखर आलोचक रहे दिग्विजय सिंह ने प्रणब मुखर्जी के संघ मुख्यालय जाने के फैसले का समर्थन किया है।

 

दिग्विजय ने कहा है कि प्रणब मुखर्जी ने संघ के नागपुर कार्यक्रम में शामिल होकर कोई गलत कदम नहीं उठाया था। अगर RSS  ने मुझे कार्यक्रम में आने के लिए न्योता दिया होता तो मैं भी जाता। पता नहीं मुझे मंच पर बुलाने में क्या बुराई थी। अगर में वहां गया होता तो आईना दिखाता और अपनी विचारधारा को सबके सामने रखता। मैं इस बात को नहीं मानता हूं कि हेडगेवार महान थे। वे महान नहीं थे। 

 

 

Image result for digvijay singh



बता दें कि पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस नेता दिग्विजय अक्सर संघ को लेकर बयान देते रहते हैं। हाल ही में उन्होंने संघ पर हिंसा, घृणा और आतंकवाद फैलाने का आरोप लगाया था और उसके लिए एक नया शब्द गढ़ा था "संघी आतंकवाद"। दिग्विजय ने कहा कि दुनिया का कोई भी धर्म हिंसा या आतंकवाद को सही नहीं बताता है। हिंदुत्व का हिजूंइज्म से कोई संबंध नहीं है। मैं सनातनी हूं , एक सात्विक हिंदू हूं , बीजेपी के तरह अंध भक्त नहीं हूं। बीजेपी का कोई शख्स मेरी तरह धार्मिक नहीं हो सकता। दिग्विजय के इन बयानों को लेकर मध्यप्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि कांग्रेस को ऐसे नेताओं के खिलाफ सख्त कार्रवाई करना चाहिए। जिस पर पलटलवार करते हुए दिग्विजय ने कहा कि मुझे बीजेपी के नेताओं पर आश्चर्य होता है कि वे किसी आधार पर कांग्रेस के वरिष्ठों से मेरे खिलाफ कार्रवाई करने की बात कहते हैं। 

 

 

Related image

 

 

 

हिंदू आतंकवादी नहीं होता है, आतंकी तो संघी होते हैं
आज से ठीक एक साल पहले 27 जुलाई 2017 को दिग्विजय सिहं ने हरियाणा के स्वास्थ्य और खेल मंत्री अनिल विज को जवाब देते हुए संघ को आतंकी कहा था। उस समय हरियाणा के स्वास्थ्य और खेल मंत्री अनिल विज ने एक बयान दिया था, जिसमें उन्होंने कहा था कि हिंदू आतंकवाद जैसा कुछ नहीं होता है. यह राजनैतिक फायदे के लिए कांग्रेस का बनाया हुआ एक शब्द है। इस पर दिग्विजय सिंह ने पलटवार करते हुए कहा था कि हिंदू आतंकवादी नहीं होता है, आतंकी तो संघी होते हैं।

 

 

Related image

 

 

झाबुआ में एक कार्यक्रम के दौरान दिग्विजय ने मीडिया से बात करते हुए कहा, 'जितने भी हिंदू धर्म वाले आतंकवादी पकड़े गए हैं, सब संघ के कार्यकर्ता रहे हैं। नाथु राम गोडसे वही शख्स था, जिसने महात्मा गांधी की हत्या की थी। वह भी आरएसएस का ही सदस्य था। इसी विचारधारा से नफरत फैलती है, नफरत हिंसा की ओर जाती है, जो आतंकवाद को बढ़ावा देता है।