दैनिक भास्कर हिंदी: सोनिया बोलीं- CAA के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे लोगों की आवाज दबा रही भाजपा

December 21st, 2019

हाईलाइट

  • सोनिया ने कहा- नागरिकता संशोधन कानून भेदभावपूर्ण है
  • कांग्रेस पार्टी बीजेपी सरकार के ऐक्शन की निंदा करती है
  • नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ देशभर में प्रदर्शन

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के खिलाफ देशभर में हो रहे​ प्रदर्शन के बीच कांग्रेस अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने विडियो संदेश जारी किया है। इस वीडियो में उन्होंने कहा कि नागरिकता संशोधन कानून भेदभावपूर्ण है। नोटबंदी की तरह एक बार फिर एक-एक व्यक्ति को अपनी और अपने पूर्वजों की नागरिकता साबित करने के लिए लाइन में खड़ा होना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि सरकार विरोध की आवाज को दबाने के लिए निर्ममतापूर्वक बल का इस्तेमाल कर रही है। यह लोकतंत्र में अस्वीकार्य है। कांग्रेस पार्टी बीजेपी सरकार के ऐक्शन की निंदा करती है। पार्टी छात्रों और जनता के संघर्ष में उनके साथ है।

 

 

सोनिया गांधी ने कहा कि भाजपा सरकार देशभर में छात्रों और जनता की ओर से हो रहे प्रदर्शन जिस तरह दबा रही है, उसको लेकर कांग्रेस पार्टी चिंतित है। देशभर के विश्वविद्यालयों, आईआईटी, आईआईएम और दूसरे अग्रणी शिक्षा संस्थानों में छात्र बीजेपी सरकार की विभाजनकारी और जनविरोधी नीतियों के खिलाफ स्वत: विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। लोकतंत्र में लोगों को गलत फैसलों के खिलाफ आवाज उठाने और चिंता प्रकट करने का हक है। सरकार की जिम्मेदारी है कि वह लोगों की बात सुने और उनकी चिंताओं को दूर करे।

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि नागरिकता संशोधन कानून भेदभावपूर्ण है और प्रस्तावित एनआरसी गरीबों को ठेस पहुंचाएंगी, नोटबंदी की तरह लोगों को अपनी नागरिकता साबित करने के लिए कतारों में लगना होगा। लोगों का डर वास्तविक और जायज। कांग्रेस पार्टी लोगों लोगों को भरोसा देती है कि हम आपके मूलभूत अधिकारों और संविधान की रक्षा के लिए प्रतिबद्ध हैं।