दैनिक भास्कर हिंदी: ममता ने दी GST की नई परिभाषा, कहा- ‘ग्रेट सेल्फिश टैक्स ने लोगों को प्रताड़ित किया’

November 7th, 2017

डिजिटल डेस्क, कोलकाता। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने GST की नई परिभाषा दी है। उन्होंने GST को ‘ग्रेट सेल्फिश टैक्स’ करार दिया है। उन्होंने केन्द्र सरकार की इस योजना को लोगों का उत्पीड़न करने वाली और अर्थव्यवस्था को बर्बाद करने वाली बताया है। उन्होंने नोटबंदी को भी एक आपदा के रूप में परिभाषित किया है। नोटबंदी के एक साल पूरे होने पर उन्होंने लोगों से इसके विरोध स्वरूप अपनी ट्वीटर डीपी ब्लैक करने की अपील की।

 

अपने ट्वीट में उन्होंने लिखा, 'ग्रेट सेल्फिश टैक्स (जीएसटी) लोगों को प्रताड़ित करने वाला, नौकरियां छीनने वाला, कारोबार को नुकसान पहुंचाने वाला और अर्थव्यवस्था को बर्बाद करने वाला था। केन्द्र सरकार इसमें पूरी तरह से फेल हो गई है।'

अपने एक अन्य ट्वीट में ममता ने कहा, 'नोटबंदी एक डिजास्टर थी। अर्थव्यवस्था को तबाह करने वाले इस घोटाले के खिलाफ आठ नवंबर को ट्विटर पर अपनी डीपी को बदलकर काला करें और इसका विरोध करें।'

इन ट्वीट्स के साथ ही ममता बनर्जी ने सोमवार को अपने ट्विटर अकाउंट की डीपी का रंग काला कर दिया है। गौरतलब है कि तृणमूल कांग्रेस नोटबंदी का एक साल पूरा होने पर 8 नवंबर को काला दिवस मनाने जा रही है। कुछ दिनों पहले ही टीएमसी सुप्रीमो ने नोटबंदी की पहली सालगिरह पर काला दिवस मनाने का ऐलान किया था।

 

गौरतलब है कि ममता बनर्जी केन्द्र की मोदी सरकार पर लगातार हमले करती रही है। हाल ही में उन्होंने केन्द्र सरकार द्वारा मोबाइल नम्बर को सरकारी योजनाओं समेत अन्य चीजों में अनिवार्य किए जाने को लेकर भी विरोध जताया था। ममता ने अपने मोबाइल नंबर को आधार से लिंक कराने से साफ इनकार कर दिया था। उन्होंने कहा था, ‘चाहे मेरा मोबाइल नम्बर बंद हो जाए या कट जाए, मैं अपने मोबाइल नंबर को आधार से लिंक नहीं कराऊंगी।'