दैनिक भास्कर हिंदी: Grenade Attack: सोपोर में आतंकियों ने सुरक्षाबलों पर किया ग्रेनेड हमला, दो SPO घायल

March 13th, 2021

हाईलाइट

  • सुरक्षाबलों ने इस साल अब तक 11 आतंकी मार गिराए
  • आतंक विरोधी अभियानों से आतंकी संगठनों में बौखलाहट

डिजिटल डेस्क, श्रीनगर। उत्तरी कश्मीर में बारामुला जिले के सोपोर इलाके में शनिवार को आतंकियों द्वारा सुरक्षाबलों पर ग्रेनेड से हमला करने की खबर सामने आई है। प्राथमिक जानकारी के अनुसार हमले में जम्मू-कश्मीर पुलिस के दो एसपीओ घायल हो गए हैं। जिन्हें उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। साथ ही हमलावरों की तलाश में इलाके की घेराबंदी कर सुरक्षाबलों ने तलाशी अभियान शुरू कर दिया है। 

आतंक विरोधी अभियानों से आतंकी संगठनों में बौखलाहट
बता दें कि सुरक्षाबलों की ओर से चलाए जा रहे आतंक विरोधी अभियानों के कारण आतंकी संगठनों में बौखलाहट है। साल 2021 में 1 जनवरी से 11 मार्च तक सुरक्षाबलों ने 11 आतंकियों को मार गिराया है। इसी के चलते आतंकी बदले की भावना और स्थानीय लोगों में भय फैलाने के लिएसुरक्षा बलों को निशाना बना रहे हैं। 

9 मार्च को सोपोर में अल-बद्र सरगना गनी ख्वाजा मारा गया। ख्वाजा संगठन का मास्टर माइंड था। गनी ख्वाजा युवाओं की भर्ती करने के साथ ही सीमा पार से आने वाले नए ग्रुप को रिसीव करता था। इस ग्रुप को दक्षिणी कश्मीर तक पहुंचाने में मदद करता था। वह साल 2000 में हथियारों की ट्रेनिंग लेने पाकिस्तान गया था। वहां से वह 2002 में लौट आया। उसे 2007 में पीएसए के तहत गिरफ्तार भी किया गया था। बाद में 2008 में उसे छोड़ा दिया गया। 2015 तक वह OGW के तौर पर काम करता रहा। जनवरी 2018 में वह हिजबुल मुजाहिदीन में शामिल हो गया। इसके बाद वह 2020 में अल बद्र में शामिल हो गया। पाकिस्तान की शह पर उसने दोबारा अल-बद्र को सक्रिय किया।

11 मार्च को अनंतनाग के बिजबिहाड़ा के कादीपोरा इलाके में सुरक्षाबलों ने जैश-ए-मोहम्मद के दो आतंकी आदिल अहमद भट और जाहिर अमीन राथर को मार गिराया था।

बीते शुक्रवार को दक्षिणी कश्मीर के शोपियां जिले में सुरक्षाबलों ने आतंकियों के सात मददगारों को गिरफ्तार किया था। गिरफ्तार आतंकियों के मददगारों में समीउल्लाह चोपान, दचीपोरा का हिलाल अहमद वानी, रमीज अहमद वानी, रउफ अहमद वानी व जाहिद अहमद वानी, वेहिल का फैजान अहमद खान व शाहिद अहमद राथर शामिल हैं।

खबरें और भी हैं...