दैनिक भास्कर हिंदी: #TopStory : रेप के दोषी को जेल में मिल रहा VVIP ट्रीटमेंट

August 26th, 2017

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। साध्वी से यौन शोषण के मामले में शुक्रवार को दोषी साबित कर दिए जाने के बाद भी डेरा सच्चा सौदा चीफ गुरमीत राम रहीम सिंह को जेल में VVIP की तरह ही रखा जा रहा है। CBI कोर्ट से दोषी करार दिए जाने के बाद बाबा राम रहीम को हेलीकॉप्टर से रोहतक की स्पेशल सेल ले जाया गया, लेकिन यहां लाते ही स्पेशल ट्रीटमेंट शुरू हो गया। बताया जा रहा है कि हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर की बाबा राम रहीम से काफी नजदीकीयां है, जिस वजह से उन्हें जेल में भी VVIP की तरह ही रखा गया है। 

जेल में AC और पीने के लिए मिनरल वॉटर

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, बाबा को रोहतक की जिस स्पेशल सेल में रखा गया है, वहां पर AC लगा हुआ है। इतना ही नहीं बाबा को पीने के लिए नॉर्मल पानी नहीं बल्कि मिनरल वॉटर दिया जा रहा है। इसके साथ ही उनकी मदद के लिए एक असिस्टेंट को भी रखा है, जो उनकी जेल में हर काम के लिए मदद करेगा। इसके अलावा मीडिया रिपोर्ट्स में ये भी कहा जा रहा है कि बाबा राम रहीम को जेल में भी उनके अपने कपड़े पहनने की छूट दी गई है, जबकि आमतौर पर जेल में कैदियों को वहीं के कपड़े पहनने को दिए जाते हैं। इसके साथ ये भी बताया जा रहा है कि बाबा जिस तरह की अय्याशियां अपने घर में करता था, उसी तरह की अय्याशियां वो जेल में भी कर रहा है। जेल में बाबा के लिए एक आरामदेह कुर्सी भी रखी गई है। बाबा हमेशा से अपने शौक को लेकर चर्चा में रहता था, लेकिन जेल जाने के बाद भी उसकी लाइफस्टाइल में कोई कमी नहीं आई है और वो अब भी वही शौक कर रहा है जो पहले किया करता था। 

नहीं दी गई VIP सुविधाएं : मुख्य सचिव

हरियाणा के मुख्य सचिव डीएस ढेसी ने कहा है कि जेल में गुरमीत को VIP सुविधाएं नहीं दी जा रही हैं। दोषी राम रहीम को हैलीकॉप्टर से सुरक्षा कारणों के चलते ले जाया गया था। जैसे ही दोषी बाबा को हिरासत में लिया गया, उसकी जेड प्लस सिक्योरिटी अपने आप समाप्त हो गई। जेल में उसके साथ वैसा ही बर्ताव किया गया जैसा सामान्य कैदियों के साथ किया जाता है।

बाबा के बीजेपी के कई नेताओं से अच्छे संबंध

बाबा राम रहीम के बीजेपी के कई बड़े नेताओं से अच्छे संबंध रहे हैं। फैसला आने से पहले भी बाबा की बीजेपी के कई नेताओं के साथ फोटो वायरल हुई थी लेकिन बाबा के हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर से काफी नजदीकियां थी। बताया जाता है कि 2014 के विधानसभा चुनावों में बाबा ने अपने लाखों समर्थकों से बीजेपी को वोट देने के लिए कहा था। यही वजह है कि खट्टर सरकार बाबा राम रहीम के समर्थकों के खिलाफ कोई कड़ा कदम नहीं उठा पाई। फैसले से 2 दिन पहले ही डेरा सपोटर्स पंचकूला पहुंचने लगे थे और तभी से इस हंगामा और हिंसा होने की पूरी उम्मीद थी लेकिन उसके बाद भी खट्टर सरकार ने इनको नहीं खदेड़ा। इसके अलावा जेल में भी बाबा को VVIP ट्रीटमेंट मिलना इस बात का सबूत है कि खट्टर सरकार पूरी तरह से बाबा के सामने झुकी हुई है। 

कोर्ट ने क्या दिया था फैसला? 

25 अगस्त को पंचकूला की स्पेशल CBI कोर्ट ने बाबा को 1 महिला के साथ रेप के मामले में दोषी करार दिया गया है। बाबा को क्या सजा दी जाएगी, इस बात पर 28 अगस्त को फैसला सुनाया जाएगा। 

 

खबरें और भी हैं...