दैनिक भास्कर हिंदी: कश्मीर के 575 युवा सेना में शामिल, फौजी ने कहा- पिता की वर्दी से मिली प्रेरणा

September 1st, 2019

हाईलाइट

  • जम्मू-कश्मीर के 575 युवा सेना में हुए भर्ती
  • पासिंग आउट परेड के दौरान जम्मू-कश्मीर लाइट इन्फैंट्री रेजिमेंटल सेंटर में हुए शामिल

डिजिटल डेस्क, श्रीनगर। आर्टिकल 370 हटने के बाद जम्मू-कश्मीर में हालात सामान्य हो रहे हैं। अब देश की सीमा पर किसी भी हरकत का मुंहतोड़ जवाब देने के लिए जम्मू-कश्मीर के 575 युवा सेना में भर्ती हुए हैं। जम्मू-कश्मीर के युवा श्रीनगर में आयोजित पासिंग आउट परेड के दौरान जम्मू-कश्मीर लाइट इन्फैंट्री रेजिमेंटल सेंटर में शामिल हुए। भर्ती होने के बाद फौजी ने बताया कि, उसे अपने पिता की वर्दी से सेना में शामिल होने की प्रेरणा मिली। 

आर्मी जॉइन करने वाले श्रीनगर निवासी वसीम अहमद मीर ने कहा- मैं बहुत खुश हूं, मेरे माता-पिता गर्व महसूस कर रहे हैं। हमें शारीरिक और मानसिक दोनों तरह से सेना में बहुत कुछ सीखने को मिलता है। मेरे पिता भी सेना में थे, उनकी वर्दी ने मुझे सेना में शामिल होने के लिए प्रेरित किया।

दरअसल जम्मू कश्मीर से आर्टिकल 370 हटने के बाद इसकी चर्चा हर जगह हो रही है। पड़ोसी देश घाटी के लोगों को सरकार के खिलाफ उकसानें और हिंसा भड़काने की कोशिश में हैं, इसी बीच कश्मीर के युवा देश की मुख्य धारा में जुड़ने के लिए लगातार प्रयासरत हैं। कश्मीर 575 युवा एक साल की कड़ी ट्रेनिंग के बाद सेना में शामिल हुए हैं।

इन जवानों को शुक्रवार को ट्रेनिंग पूरी होने के बाद शपथ दिलाई गई। अब अलग-अलग जगहों पर पोस्टिंग होगी। इन जवानों के रेजिमेंट का नाम जैकलाई है। रेजिमेंट का मुख्य वाक्य है- बलिदानम वीर लक्ष्मणम है यानी बलिदान वीर का लक्षण है।

खबरें और भी हैं...