comScore

विदेश में पढ़ाई करने वाले छात्रों की मदद के लिए वर्चुअल मेला आयोजित करेगा आईडीपी एजुकेशन

August 06th, 2020 09:44 IST
विदेश में पढ़ाई करने वाले छात्रों की मदद के लिए वर्चुअल मेला आयोजित करेगा आईडीपी एजुकेशन

हाईलाइट

  • विदेश में पढ़ाई करने वाले छात्रों की मदद के लिए वर्चुअल मेला आयोजित करेगा आईडीपी एजुकेशन

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। कोविड-19 के कारण जो छात्र विदेश में पढ़ाई को लेकर समस्याओं का सामना कर रहे हैं, उनके लिए आईडीपी एजुकेशन एक वर्चुअल शिक्षा मेले (एजुकेशन फेयर) का आयोजन कर रहा है। आईडीपी एजुकेशन ने बुधवार को घोषणा की कि यह ऑनलाइन शिक्षा मेला देश में 10 अगस्त से 10 अक्टूबर तक आयोजित होगा। आईडीपी एजुकेशन अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर शिक्षा के क्षेत्र का दिग्गज संस्थान है।

ऑस्ट्रेलिया, ब्रिटेन, अमेरिका, कनाडा, न्यूजीलैंड और आयरलैंड के 150 से अधिक प्रमुख संस्थान भारतीय छात्रों के साथ बातचीत करने और उनकी विदेशी शिक्षा योजना में मदद करने के लिए इस वर्चुअल शिक्षा मेले में भाग लेंगे। आईडीपी एजुकेशन ने कहा कि इस पहल का उद्देश्य छात्रों की चिंताओं को हल करना और उन्हें अपने घरों में आराम से एक वीडियो कॉल पर अपने पसंदीदा संस्थानों से जुड़ने में मदद करना है।

आईडीपी एजुकेशन के क्षेत्रीय निदेशक (दक्षिण एशिया) पीयूष कुमार ने एक बयान में कहा, आईडीपी भारतीय छात्रों को ऑस्ट्रेलिया, ब्रिटेन, अमेरिका, कनाडा, न्यूजीलैंड और आयरलैंड में सही कोर्स और संस्थान चुनने के लिए सही सलाह और उच्च गुणवत्ता वाली सहायता ऑफर करता है। उन्होंने कहा, आईडीपी के पास इन छह जगहों में 700 से अधिक विश्व-स्तरीय संस्थान भागीदार हैं और यह छात्रों को उनके लिए सबसे उपयुक्त पाठ्यक्रम खोजने का विकल्प देने के लिए सर्वश्रेष्ठ जगह है।

उन्होंने कहा, इस वर्चुअल मेले के माध्यम से छात्र अपनी पसंद के संस्थानों में सीधे आवेदन कर सकते हैं और एक वीडियो कॉल के माध्यम से आईडीपी के अनुभवी और प्रमाणित शिक्षा विशेषज्ञों द्वारा छात्रवृत्ति, रैंकिंग, वीजा आदि के बारे में विस्तृत जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

कुमार ने कहा कि हम समझते हैं कि एक संस्थान को शॉर्टलिस्ट करना और आवेदन प्रक्रिया के माध्यम से काम करना छात्रों के लिए थोड़ा चुनौतीपूर्ण हो सकता है। उन्होंने कहा कि इसलिए उनका लक्ष्य है कि छात्रों को प्रारंभिक खोजपूर्ण चरण से लेकर अगले सभी चरणों के माध्यम से सहायता और मार्गदर्शन प्रदान किया जाए, ताकि वे अपने पसंदीदा संस्थान में प्रवेश कर सकें।

कमेंट करें
2XRZr