दैनिक भास्कर हिंदी: जोधपुर में भी फ्लॉयड जैसी घटना : पुलिस ने मास्क न पहनने पर व्यक्ति की गर्दन दबा दी

June 5th, 2020

हाईलाइट

  • जोधपुर में भी फ्लॉयड जैसी घटना : पुलिस ने मास्क न पहनने पर व्यक्ति की गर्दन दबा दी

जयपुर, 5 जून (आईएएनएस)। सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हुआ है, जिसमें अमेरिका में अश्वेत नस्ल के जॉर्ज फ्लॉयड के मारे जाने के पल को थोड़े ट्विस्ट के साथ देख सकते हैं। यह घटना जोधपुर की है, जिसमें पुलिसकर्मी एक व्यक्ति को बिना मास्क पहने घूमने के चलते जमीन पर पटकता है, फिर उसकी गर्दन को अपने घुटनों से दबाता है।

हालांकि, मिनियापोलिस, मिनेसोटा की दुर्भाग्यपूर्ण घटना से अलग जोधपुर में पुलिस ने कथित तौर पर ये कार्रवाई उस व्यक्ति के हिंसक होने के बाद की। बताया गया है कि व्यक्ति मानसिक रूप से बीमार है और पुलिस के सामने आने के बाद वह हिंसक हो गया था।

अमेरिका के मिनियापोलिस में एक दुकान के बाहर पुलिस द्वारा गिरफ्तार किए जाने के बाद 46 वर्षीय अश्वेत जॉर्ज फ्लॉयड की मौत हो गई। फुटेज में एक पुलिस अधिकारी, डेरेक चौविन को दिखाया गया था, जो फ्लॉयड की गर्दन पर कई मिनट तक घुटने रखे रहा, जिससे सांस न ले पाने के कारण फ्लॉयड की मौत हो गई। इसका पूरे अमेरिका में विरोध हुआ।

हालांकि, जोधपुर की घटना में मुकेश कुमार प्रजापत के रूप में शामिल व्यक्ति की मौत नहीं हुई, बल्कि वह पुलिसकर्मी से लड़ने लगा।

जोधपुर के पुलिस अधिकारियों ने पुष्टि की कि वीडियो शहर में गुरुवार को शूट किया गया था। जब बिना मास्क पहने सड़कों पर घूमने के कारण पुलिस ने उस आदमी के खिलाफ चालान जारी करना चाहा तो उसने पुलिस को चकमा दिया।

वीडियो में एक पुलिस वाले को उसकी गर्दन को अपने घुटने से दबाते हुए दिखाया गया है, जबकि दो अन्य पुलिस जवान उसके पैरों को पकड़े हुए हैं। इस दौरान हाथापाई होने पर भारी भीड़ जमा हो गई।

देव नगर पुलिस स्टेशन के एसएचओ सोमकरन ने कहा कि पुलिस प्रजापत को चालान जारी कर रही थी, क्योंकि उसने उन पर हमला किया और उनकी वर्दी फाड़ दी। प्रजापत के खिलाफ प्रताप नगर पुलिस स्टेशन में एफआईआर दर्ज की गई है। उसे अब अदालत में पेश किया जाएगा।