comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

10th National Voters' Day: जानें नागरिकों और निर्वाचन आयोग के लिए आखिर क्यों खास है ये दिन

January 25th, 2020 11:27 IST
10th National Voters' Day: जानें नागरिकों और निर्वाचन आयोग के लिए आखिर क्यों खास है ये दिन

हाईलाइट

  • 25 जनवरी 1950 को EC की स्थापना हुई थी
  • 2011 से राष्ट्रीय मतदाता दिवस मनाया जा रहा है

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। आज यानी 25 जनवरी को सारा देश 10वां राष्ट्रीय मतदाता दिवस मना रहा है। भारत सबसे बड़ा लोकतांत्रिक देश है जहां जनता अपने लिए शासक का चयन करती है। इसी चयन प्रक्रिया में जनता को उनके वोट के प्रति जागरूक करने के लिए यह दिन मनाया जाता है। इसकी शुरूआत में 25 जनवरी 2011 में तत्कालीन राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल द्वारा की गई थी। इस दिन को भारत निर्वाचन आयोग (EC) की स्थापना दिवस के रूप में भी मनाया जाता है। EC की स्थापना आज ही के दिन 1950 में की गई थी।

EC ने ट्विटर से कपिल मिश्रा के विवादित ट्वीट को हटाने को कहा

उद्देश्य
25 जनवरी का दिन वोट के महत्व को दर्शाता है। इसका मुख्य उद्देश्य 18 साल की अधिक उम्र के नागरिकों का मतदान की सूची में नामांकन में वृद्धि करना है। इसके अलावा इसका उद्देश्य वोटर्स को भारत के नागरिकों को उनके कर्तव्य और मतदान के अधिकार के प्रति जागरूकता बढ़ाना है, जिससे वह चुनाव के दौरान अपने लिए एक उचित नेता का चयन कर सके। इसके लिए हर साल कई शासकीय और गैर शासकीय संस्थानों में विभिन्न प्रतियोगिताएं आयोजित की जाती हैं। स्कूलों में बच्चों को नेश्नल वोटर्स डे के लिए प्रोजेक्ट्स तैयार कराए जाते हैं। इसके अलावा EC हर वर्ष एक स्पेशल थीम तय की जाती है और उसी थीम के अंतर्गत सालभर काम किया जाता है।

खंडवा: अनोखी शादी, बारात लेकर दुल्हों के घर पहुंची दुल्हनें

थीम
10 वें राष्ट्रीय मतदाता दिवस के लिए EC द्वारा 'Electoral Literacy For Stronger Democracy' यानी 'मजबूत लोकतंत्र के लिए चुनावी साक्षरता' की थीम तय की गई है। इसका उद्देश्य भारतीय नागरिकों को मतदान करने की जिम्मेदारी और इसके महत्व के बारे में शिक्षित करना है। इस थीम के अंतर्गत EC सालभर चुनावी प्रक्रिया में नागरिकों के विश्वास को नवीनीकृत करने के लिए कई गतिविधियां आयोजित करेगा। जाने इससे पहले किन थीम के तहत नागरिकों को जागरूक करने के कार्य किए गए -

2019 : 'No Voter to be left behind'
2018 : 'Accessible Elections'
2017 : 'Empowering Young and Future Voters'
2016 : 'Inclusive and qualitative participation'
2015 : 'Easy Registration, Easy Correction'

शिवसेना का बड़ा बयान- घुसपैठिए मुसलमानों को भारत से बाहर फेंकना चाहिए

इतिहास
EC, एक ऑटोनोमस कॉन्सटीट्यूशनल अथॉरिटी है, जो देश में चुनाव प्रक्रियाओं के संचालन के लिए जिम्मेदार है। यह भारत में लोकसभा, राज्यसभा, राज्य विधानसभाओं, राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति के कार्यालयों के लिए चुनावों का संचालन करता है। EC की स्थापना 1950 में की गई थी। साल 2011 में कांग्रेस सरकार के अधीन केंद्रीय कैबिनेट की एक बैठक हुई, जिसकी अध्यक्षता तत्कालीन प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह ने की। इस बैठक में तय किया गया कि 25 जनवरी को EC की स्थापना के अवसर पर हर साल राष्ट्रीय मतदाता दिवस मनाया जाएगा।

कमेंट करें
YxLh4
NEXT STORY

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

डिजिटल डेस्क, जबलपुर। किसी के लिए भी प्रॉपर्टी खरीदना जीवन के महत्वपूर्ण कामों में से एक होता है। आप सारी जमा पूंजी और कर्ज लेकर अपने सपनों के घर को खरीदते हैं। इसलिए यह जरूरी है कि इसमें इतनी ही सावधानी बरती जाय जिससे कि आपकी मेहनत की कमाई को कोई चट ना कर सके। प्रॉपर्टी की कोई भी डील करने से पहले पूरा रिसर्च वर्क होना चाहिए। हर कागजात को सावधानी से चेक करने के बाद ही डील पर आगे बढ़ना चाहिए। हालांकि कई बार हमें मालूम नहीं होता कि सही और सटीक जानकारी कहा से मिलेगी। इसमें bhaskarproperty.com आपकी मदद कर सकता  है। 

जानिए भास्कर प्रॉपर्टी के बारे में:
भास्कर प्रॉपर्टी ऑनलाइन रियल एस्टेट स्पेस में तेजी से आगे बढ़ने वाली कंपनी हैं, जो आपके सपनों के घर की तलाश को आसान बनाती है। एक बेहतर अनुभव देने और आपको फर्जी लिस्टिंग और अंतहीन साइट विजिट से मुक्त कराने के मकसद से ही इस प्लेटफॉर्म को डेवलप किया गया है। हमारी बेहतरीन टीम की रिसर्च और मेहनत से हमने कई सारे प्रॉपर्टी से जुड़े रिकॉर्ड को इकट्ठा किया है। आपकी सुविधाओं को ध्यान में रखकर बनाए गए इस प्लेटफॉर्म से आपके समय की भी बचत होगी। यहां आपको सभी रेंज की प्रॉपर्टी लिस्टिंग मिलेगी, खास तौर पर जबलपुर की प्रॉपर्टीज से जुड़ी लिस्टिंग्स। ऐसे में अगर आप जबलपुर में प्रॉपर्टी खरीदने का प्लान बना रहे हैं और सही और सटीक जानकारी चाहते हैं तो भास्कर प्रॉपर्टी की वेबसाइट पर विजिट कर सकते हैं।

ध्यान रखें की प्रॉपर्टी RERA अप्रूव्ड हो 
कोई भी प्रॉपर्टी खरीदने से पहले इस बात का ध्यान रखे कि वो भारतीय रियल एस्टेट इंडस्ट्री के रेगुलेटर RERA से अप्रूव्ड हो। रियल एस्टेट रेगुलेशन एंड डेवेलपमेंट एक्ट, 2016 (RERA) को भारतीय संसद ने पास किया था। RERA का मकसद प्रॉपर्टी खरीदारों के हितों की रक्षा करना और रियल एस्टेट सेक्टर में निवेश को बढ़ावा देना है। राज्य सभा ने RERA को 10 मार्च और लोकसभा ने 15 मार्च, 2016 को किया था। 1 मई, 2016 को यह लागू हो गया। 92 में से 59 सेक्शंस 1 मई, 2016 और बाकी 1 मई, 2017 को अस्तित्व में आए। 6 महीने के भीतर केंद्र व राज्य सरकारों को अपने नियमों को केंद्रीय कानून के तहत नोटिफाई करना था।