comScore

दो पृथ्वी मिसाइलों का रात्रि-परीक्षण सफल, 300 किमी मारक क्षमता

दो पृथ्वी मिसाइलों का रात्रि-परीक्षण सफल, 300 किमी मारक क्षमता

हाईलाइट

  • स्ट्रैटेजिक फोर्सेस कमांड ने 300 किमी-दूरी की मिसाइलों का परीक्षण किया
  • भारत 2,000 किलोमीटर की मारक क्षमता वाली अग्नि-2 का सफल परीक्षण कर चुका है

डिजिटल डेस्क, भुवनेश्वर। भारत ने ओडिशा के तट से दो पृथ्वी बैलिस्टिक मिसाइलों का रात्रि परीक्षण सफलतापूर्वक कर लिया है। स्ट्रैटेजिक फोर्सेस कमांड द्वारा 300 किमी-दूरी की मिसाइलों का परीक्षण किया गया था।

इससे पहले भारत ने 2,000 किलोमीटर की मारक क्षमता वाली अग्नि-2 बैलिस्टिक मिसाइल का ओडिशा के बालासोर से सफल रात्रि-परीक्षण किया था। रक्षा सूत्रों ने कहा था कि सतह से सतह पर मार करने वाली मिसाइल का परीक्षण समन्वित परीक्षण रेंज (आईटीआर) से किया गया। 

अग्नि-2 मिसाइल का परीक्षण पिछले साल ही कर लिया गया था, लेकिन रात के समय इसका परीक्षण पहली बार हुआ। इसकी मारक क्षमता को दो हजार से बढ़ाकर तीन हजार किमी तक किया जा सकता है। अग्नि-2 मिसाइल न्यूक्लियर हथियार ले जा सकने में सक्षम है।

जानकारी अनुसार भारतीय वायुसेना ने इससे पहले अंडमान निकोबार के त्राक आईलैंड पर रुटीन ऑपरेशनल ट्रेनिंग के तहत 21 और 22 अक्टूबर को दो ब्रह्मोस मिसाइलें दागने का सफल परीक्षण किया था। इन दोनों मिसाइलों ने 300 किलोमीटर दूर स्थित लक्ष्य पर एकदम सटीक निशाना लगाकर, उसे ध्वस्त कर दिया था। जमीन से जमीन पर हमला करने वाली इन मिसाइलों को अब छोटे प्लैटफॉर्म से लॉन्च करने के बावजूद दूर स्थित लक्ष्य पर भी एकदम सटीक निशाना लगाया जा सकता है।
 


 

कमेंट करें
e145P