दैनिक भास्कर हिंदी: गांधी जयंती पर ट्रेन में सिर्फ शाकाहारी खाना परोसे जाने पर रेलवे ने दी सफाई

May 21st, 2018

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। भारतीय रेलवे बोर्ड ने गांधी जयंती को 'शाकाहारी दिवस' के रूप में मनाने की मीडिया में आई खबरों के बाद सोमवार को अपना स्पष्टिकरण दिया। रेलवे की तरफ से कहा गया है कि उन्होंने इस तरह का कोई कदम नहीं उठाया है। वेज और नॉनवेज दोनों ही तरह का खाना पैसेंजर को गांधी जयंती के दिन भी दिया जाएगा।

नॉनवेज खाने पर रोक नहीं
इंडियन रेलवे M&CC के डायरेक्टर आरडी बाजपेयी ने कहा, कुछ मीडिया रिपोर्टस में कहा जा रहा है कि 2 अक्टूबर को रेलवे शाकाहारी दिवस के रूप में मनाएगा। ये सही नहीं है। हमने नॉनवेज खाने पर किसी तरह की रोक नहीं लगाई है। रोज की ही तरह यात्री नॉनवेज खाना ऑर्डर कर सकते है। रेलवे सभी सम्मानित यात्रियों का समर्थन जारी रखेगा और सामान्य भोजन प्रदान करता रहेगा।

मीडिया में आई थी खबरें
बता दें कि इससे पहले मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया था कि रेल मंत्रालय ने केंद्र सरकार के पास गांधी जयंती के दिन रेल में नॉनवेज खाना नहीं दिए जाने की सिफारिश की है। चूंकि महात्मा गांधी शाकाहार के प्रबल समर्थक थे इसीलिए रेलवे ने उनके प्रति सम्मान दिखाने के लिहाज से ये प्रस्ताव भेजा है। कहा जा रहा था कि रेलवे ने केंद्र सरकार को ये सुझाव दिया है कि 2018 से 2020 तक रेल और रेलवे परिसर में 2 अक्टूबर को यात्रियों को नॉनवेज खाना न परोसा जाए।

स्पेशल सॉल्ट रेक चलाई जाए
इतना ही नहीं मीडिया रिपोर्ट्स में ये भी कहा गया था कि रेलवे की महात्मा गांधी के जीवन से जुड़े खास स्थलों से कई ट्रेन चलाने की भी योजना है। इसके अलवा रिपोर्ट्स में कहा गया था 12 मार्च को साबरमती से एक खास 'स्पेशल सॉल्ट रेक' भी चलाई जाए। इस साल्ट रेक को बापू के ऐतिहासिक दांडी मार्च के प्रतीक के तौर पर चलाए जाने की योजना है।