दैनिक भास्कर हिंदी: जैन मुनि ने लड़कियों को कहा सामान, 95 फीसदी अपराधों के लिए ठहराया जिम्मेदार

August 30th, 2018

हाईलाइट

  • राजस्थान के सीकर में जैन मुनि विश्रांत महाराज ने लड़कियों को लेकर दिया विवादित बयान।
  • लड़कियों को बताया सामग्री (सामान) देश में बढ़ते महिला अपराधों के लिए बताया जिम्मेदार।
  • महिलाओं को संयम बनाए रखने की दी सलाह।

डिजिटल डेस्क, जयपुर। लड़कियों को लेकर जैन मुनि विश्रांत सागर महाराज ने एक विवादित बयान दिया है। सीकर जिला मुख्यालय में एक पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए लड़कियों पर अपत्तिजनक टिप्पणी करते हुए उन्हें सामग्री (सामान) बताया। उन्होंने महिलाओं और लड़कियों के प्रति देश में बढ़ रहे अपराधों के लिए उन्हीं को जिम्मेदार बताया है।

जैन मुनी विश्रांत सागर ने विवादित बयान देते हुए देश भर की लड़कियों को सामग्री बताया और उन्हें संयमित रहने की सलाह दी। साथ ही उन्होंने कहा है कि लड़कियों के खिलाफ अपराध की घटनाओं में 95 फीसदी गलती लड़कियों की होती है। उन्होंने कहा की आज के समय में लड़कियों को बेहद संभल कर चलने की जरुरत है क्योंकि लड़कियों को अपने घर और ससुराल पक्ष दोनों की इज्ज्जत बचा कर रखनी है।

उन्होंने कहा की आज के समय में लड़कियों को पश्चिमी संस्कृति के बहकावे में नहीं आकर, संस्कार के साथ शिक्षा ग्रहण करनी चाहिए। मुनि ने ऐसा बयान उस दौर में दिया है जब एक रिपोर्ट के मुताबिक भारत को महिलाओं के लिए सबसे असुरक्षित देश बताया गया है। वहीं, ऐसी भी घटनाएं हुई हैं जिनमें बिहार के पटना से लेकर यूपी के देवरिया तक के शेल्टर होम्स में अनाथ बच्चियों की आबरू को तार-तार कर दिया गया है।