दैनिक भास्कर हिंदी: जेईई परीक्षा शुरू, परीक्षा केंद्रों पर व्यवस्था चाक-चौबंद

September 1st, 2020

हाईलाइट

  • जेईई परीक्षा शुरू, परीक्षा केंद्रों पर व्यवस्था चाक-चौबंद

नई दिल्ली, 1 सितम्बर (आईएएनएस)। देशभर में मंगलवार से जेईई की परीक्षाएं आरंभ हो गई। विभिन्न परीक्षा केंद्रों पर कोविड के मद्देनजर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए परीक्षा केंद्रो में प्रवेश दिया जा रहा है। केंद्रो में प्रवेश करते ही उम्मीदवारों को फेस मास्क दिया जा रहा है। ये परीक्षाएं 6 सितंबर तक चलनी हैं। करीब 8.58 लाख छात्रों ने इन परीक्षाओं के लिए फॉर्म भरा है।

अभ्यर्थियों ने सुबह 8 बजे से परीक्षा केंद्रों पर पहुंचना शुरू कर दिया। परीक्षा केंद्रों पर सोशल डिस्टेंसिंग के साथ परीक्षार्थियों को एंट्री दी गई। परीक्षा हॉल में प्रवेश से पहले छात्रों की थर्मल स्क्रीनिंग के जरिये बॉडी टेम्परेचर भी चेक किया गया।

सभी छात्रों को नया मास्क दिया गया। परीक्षा केंद्रों में प्रवेश करते ही छात्रों के हाथ सैनिटाइज करवाए गए। इसके अलावा छात्रों के आने से पहले परीक्षा केंद्रों के परिसर, फर्नीचर, कंप्यूटर, लिफ्ट, सीढ़ी, रेलिंग, टॉयलेट आदि को सैनिटाइज करवाया गया। परीक्षा केंद्रो के अंदर व बाहर अभ्यार्थियों की मदद के लिए तैनात अधिकारी व सुरक्षाकर्मी भी फेसशील्ड में नजर आए।

जेईई परीक्षाएं आरंभ होने के साथ ही केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने कहा, मैं नीट तथा जेईई परीक्षा में प्रविष्ट होने वाले सभी अभ्यर्थियों एवं उनके अभिभावकों से अपील करता हूं कि वे भारत सरकार द्वारा जारी किए गए स्वास्थ्य दिशानिदेशरें का पालन करते हुए परीक्षा केंद्रों पर उपस्थित हों।

निशंक ने छात्रों एवं उनके अभिभावकों को आश्वस्त करते हुए कहा, लगभग सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों एवं प्रशासनिक स्तर के उच्चाधिकारियों से हुई बातचीत के आधार पर मैं सभी अभ्यर्थियों एवं उनके अभिभावकों को आश्वस्त करता हूं कि उन्हें यथासंभव हर सहायता प्रदान की जाएगी।

दिल्ली के एक परीक्षा केंद्र पर परीक्षा देने आए विवान गोयल ने कहा, कम से कम दिल्ली में तो परीक्षाएं करवाना सही कदम है। परीक्षा केंद्रो में सभी तरह की सावधानियां बरती जा रही हैं।

परीक्षा देने आई एक और छात्रा मैना वर्मा ने कहा, मुझे सोमवार तक लग रहा था कि जेईई परीक्षाएं टल जाएंगी, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। इसलिए अब परीक्षा देकर तनाव मुक्त हो जाना चाहती हूं।

वहीं, मुंबई के लिए रेलवे सोमवार को ही घोषणा कर चुका है कि जेईई अभ्यर्थियों और उनके अभिभावकों को लोकल ट्रेन में जाने की अनुमति है। देशभर में अन्य कई स्थानों पर छात्रों को परीक्षा केंद्रों तक पहुंचने के लिए विभिन्न राज्य सरकारों द्वारा विशेष इंतजाम किए गए हैं। इसमें आईआईटी के कई पूर्व छात्र भी अपना योगदान दे रहे हैं।

 

जीसीबी-एसकेपी