comScore

J&K: अखनूर सेक्टर में IED धमाका, एक जवान शहीद, दो घायल

J&K: अखनूर सेक्टर में IED धमाका, एक जवान शहीद, दो घायल

हाईलाइट

  • उधमपुर में सेना के अस्पताल में इलाज के दौरान एक जवान ने दम तोड़ दिया
  • गंभीर रूप से घायल अन्य दो जवानों का किया जा रहा उपचार

डिजिटल डेस्क, अखनूर। जम्मू और कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद से तिलमिलाया पाकिस्तान लगातार भारत के खिलाफ साजिश कर रहा है। इस बार प्रदेश के अखनूर सेक्टर में सेना पर IED धमाका किया गया है। इस धमाके में भारतीय सेना के दो सैनिक गंभीर रूप से घायल हो गए। वहीं उत्तर प्रदेश के आगरा जिले के पुरा भदौरिया गांव के निवासी संतोष कुमार ने उधमपुर के मिलिटरी अस्पताल में इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। वह सेना में हवलदार के तौर पर पदस्थ थे। यह धमाका उस वक्त हुआ, जब सेना की टुकड़ियां आर्मी ट्रकों के जरिए एक स्थान से दूसरे स्थान पर जा रही थीं।

सेना पर ग्रेनेड हमले का सिलसिला जारी

भारतीय सुरक्षाबलों पर आतंकी लगातार ग्रेनेड हमला कर रहे हैं। 4 नवंबर को आतंकियों ने श्रीनगर के एक बाजार में भारतीय सेना को निशाना बनाकर ग्रेनेड अटैक किया। इस हमले में एक गैर कश्मीरी की मौत और करीब 25 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। इससे पहले भी 28 अक्टूबर को आतंकियों ने सोपोर में बस स्टैंड के पास ग्रेनेड हमला किया था, जिसमें 6 लोगों को गंभीर चोट पहुंची थी और 19 लोग साधारण रूप से घायल हुए थे। इसी के बाद से सुरक्षाबलों ने इलाके की घेराबंदी कर आतंकियों के खिलाफ सर्च ऑपरेशन शुरू कर दिया था। वहीं 26 अक्टूबर को भी आतंकियों ने श्रीनगर के करण नगर में भी ग्रेनेड फेंका था, जिसमें CRPF और पुलिस के 6 जवान घायल हुए थे।

आतंकियों की घुसपैठ की फिराक में पाक

अनुच्छेद 370 को हटाए जाने के बाद से ही पाकिस्तान बौखलाया हुआ है। बता दें कि पाकिस्तानी सेना द्वारा लगातार सीजफायर का उल्लंघन करना एक षड्यंत्र है। हालांकि पाकिस्तान के इस नापाक इरादे से भारतीय सेना भी बेहद अच्छे से वाकिफ है। दरअसल पिछले लंबे समय से पाकिस्तान सीमा पार से निरंतर गोलीबारी की आड़ में भारत में आतंकवादियों की घुसपैठ कराने की फिराक में है, लेकिन भारतीय सेना उसकी इस कोशिश को कामयाब नहीं होने दे रही है।

इतना ही नहीं, पाकिस्तान को भारतीय सेना LoC के रास्ते से घुसपैठ नहीं करने दे रही है तो वह कभी ड्रोन के जरिए भारत पर नजर रख रहा है तो कभी समुद्री रास्ते से भारत के अंदर आने की कोशिश कर रहा है। बता दें कि BSF ने गुजरात के कच्छ जिले के हरामी नाला और सरक्रीक क्षेत्र से 12 अक्टूबर और 5 अक्टूबर को कुल 7 पाकिस्तानी बोट्स बरामद की थी। हालांकि सर्च ऑपरेशन के दौरान BSF को कुछ भी संदिग्ध वस्तु नहीं मिली।

कमेंट करें
qxsdf