आईपीएल फाइनल पर विवाद: आईपीएल के बहाने सुब्रमण्यम स्वामी के निशाने पर जूनियर शाह, फाइनल में गुजरात की जीत पर उठाए सवाल, अमित शाह के बेटे को भी नहीं बख्शा कहा शाह का बेटा तानाशाह

June 3rd, 2022

हाईलाइट

  • लोगों ने संजू सैमसन के टॉस जीतकर पहले बैटिंग करने के फैसले पर उठाए सवाल

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। चाहे वो अपनी पार्टी हो या विरोधी बीजेपी नेता सुब्रमण्यम स्वामी आये दिन सभी को अपने निशाने पर लेते रहते हैं। इस बार उनका निशाना भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड यानि बीसीसीआई है। स्वामी ने आईपीएल के फाइनल मैच में धांधली का आरोप लगाया है। यहां तक कि उन्होंने गृह मंत्री अमित शाह के बेटे और बीसीसीआई के सचिव जय शाह को तानाशाह तक कह दिया है।  

सुब्रमण्यम स्वामी ने ट्वीट कर कहा, इंटेलीजेंस एजेंसियों का ऐसा मानना है कि आईपीएल के फाइनल मैच में धांधली हुई है। इसका पता लगाने के लिए जांच की जरुरत है और जांच के लिए जनहित याचिका दायर करनी की जरुरत है। सरकार तो ऐसा करेगी नहीं क्योंकि अमित शाह का बेटा बीसीसीआई का तानाशाह है। 

संजू सैमसन के फैसले पर उठे सवाल

सुब्रमण्यम स्वामी इस ट्वीट के बाद सोशल मीडिया पर लोगों ने आईपीएल2022 की रनरअप राजस्थान रॉयल्स के कप्तान संजू सैमसन से फाइनल में टॉस जीतकर पहले बैटिंग करने के फैसले पर सवाल उठा रहे हैं। एक यूजर ने संजू को टैग करके लिखा, सवाल यह है कि संजू सैमसम ने टॉस जीतकर भी अप्रत्याशित रुप से बल्लेबाजी करने का फैसला क्यों किया?

गौरतलब है कि आईपीएल 2022 की ट्रॉफी गुजरात टाइटंस ने अपने नाम की थी। गुजरात फाइनल में राजस्थान रॉयल्स को 7 विकेट से हराया था। मैच में राजस्थान के कप्तान संजू सैमसन ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला लिया था। राजस्थान की टीम 20 ओवर में 9 विकेट के नुकसान 130 रन ही बना सकी थी।

स्कोर का पीछा करने उतरी गुजरात ने 18.1 ओवर में 3 विकेट खोकर इस लक्ष्य को पा लिया था टूर्नामेंट सबसे ज्यादा रन बनाने वाले जोस बटलर को ऑरेंज कैप व सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले यजुवेंद्र चहल को पर्पल कैप से नवाजा गया था। दोनों ही राजस्थान रॉयल्स टीम के खिलाड़ी हैं।