comScore

कर्नाटक उपचुनाव: बीजेपी की जीत पक्की, एग्जिट पोल में 8-12 सीट मिलने का अनुमान

कर्नाटक उपचुनाव: बीजेपी की जीत पक्की, एग्जिट पोल में 8-12 सीट मिलने का अनुमान

हाईलाइट

  • कर्नाटक उपचुनाव के परिणाम 9 दिसंबर को घोषित किए जाएंगे
  • एग्जिट पोल में बीजेपी की कम से कम आठ सीटों पर जीत का अनुमान
  • पावर टीवी, पब्लिक टीवी और बीटीवी बीजेपी की जीत का अनुमान जता रहे हैं

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। कर्नाटक की 15 विधानसभा सीटों पर हुए उपचुनाव के परिणाम 9 दिसंबर को घोषित किए जाएंगे। लेकिन इससे पहले एग्जिट पोल में बीजेपी की कम से कम आठ सीटों पर जीत की संभावना जताई जा रही है। कर्नाटक के तीन प्रमुख चैनलों के एग्जिट पोल डेटा - पावर टीवी, पब्लिक टीवी और बीटीवी बीजेपी की जीत का अनुमान जता रहे हैं।

बीजेपी को 8-12 सीटों मिलने का अनुमान
पावर टीवी ने भाजपा को न्यूनतम आठ और अधिकतम 12 सीटें जबकि कांग्रेस को तीन से छह सीटें मिलने का अनुमान जाताया है। पावर टीवी के अनुसार, जेडीएस को कर्नाटक उपचुनाव में 0-2 सीटें मिलने की उम्मीद है। दूसरी ओर, पब्लिक टीवी ने भाजपा को 8-10, कांग्रेस को 3-5 और जेडीएस को 1-2 सीट मिलने की उम्मीद जताई है। बीटीवी ने बीजेपी को नौ, कांग्रेस को तीन और जेडीएस को केवल दो सीट मिलने का अनुमान जताया है।

9 दिसंबर को घोषित होंगे परिणाम
बता दें कि कर्नाटक विधानसभा उपचुनाव में मतदान गुरुवार शाम 6 बजे संपन्न हुआ, जिसके परिणाम 9 दिसंबर को घोषित किए जाएंगे। कांग्रेस और जेडी (एस) के 17 बागी विधायकों को अयोग्य करार दिए जाने के कारण रिक्त पदों को भरने के लिए उपचुनाव हो रहे हैं। इन विधायकों के बागी होने के कारण जुलाई में एचडी कुमारस्वामी के नेतृत्व वाली गठबंधन सरकार गिर गई थी और भाजपा के लिए सत्ता में आने का मार्ग प्रशस्त हुआ।

इन सीटों पर मतदान :
मतदान अथानी, कागवाड, गोकक, येल्लापुरा, हीरेकपुर, रानीबेन्नूर, विजयनगर, चिकबल्लापुरा, के.आर. पुरा, यशवंतपुरा, महालक्ष्मी लेआउट, शिवाजीनगर, होसाकोट, के.आर. पेटे और हुनसुर विधानसभा सीटों पर हुआ। इन 15 विधानसभा सीटों पर लगभग 38 लाख मतदाता हैं, जिनमें 19.25 लाख पुरुष और 18.52 लाख महिलाएं हैं।

बीजेपी को 6 सीटों पर जीत की दरकार
225 सदस्यीय विधानसभा (जिसमें स्पीकर वोटिंग भी शामिल है) में बहुमत में बने रहने के लिए भाजपा को 15 में से कम से कम छह सीटें जीतने की जरूरत है। दो सीटों - राजराजेश्वरी नगर और मास्की के चुनावों को रोक दिया गया है क्योंकि उनके संबंध में अलग-अलग मामले कर्नाटक उच्च न्यायालय के समक्ष लंबित हैं। 

कांग्रेस और जेडी (एस) के 17 बागी विधायकों को अयोग्य करार दिए जाने के बाद विधानसभा की मौजूदा ताकत 208 है। भाजपा के पास 105 विधायक हैं (एक निर्दलीय सहित), कांग्रेस के 66 और जेडी (एस) के पास 34 विधायक हैं।

कमेंट करें
t673Z