comScore

कश्मीर: मुठभेड़ में आतंकवादी का सहयोगी पकड़ा गया, सेना के अफसरों ने टेररिस्ट से कहा- डरो मत, गलतियां होती हैं 

कश्मीर: मुठभेड़ में आतंकवादी का सहयोगी पकड़ा गया, सेना के अफसरों ने टेररिस्ट से कहा- डरो मत, गलतियां होती हैं 

हाईलाइट

  • ओवर ग्राउंड वर्कर था सरेंडर करने वाला आतंकवादी
  • एसएसबी का फरार जवान पकड़ा गया

डिजिटल डेस्क, श्रीनगर। खुफिया सूचना के आधार पर जम्मू एवं कश्मीर में दो दिन पहले कैंप से फरार हुए आतंकी को पकड़ने के लिए पुलिस, सेना और सीआरपीएफ ने एक संयुक्त अभियान लांच किया। इस दौरान बडगाम जिले में एक आतंकवादी ने शुक्रवार को सेना के सामने सरेंडर कर दिया। इस घटना का वीडियो सेना ने जारी किया है। वीडियो में सेना के अफसर आतंकवादी कहते दिखाई दे रहे हैं कि बेटा डरो मत, गलतियां होती हैं। आतंकवादी का नाम जहांगीर अहमद भट है।

इस वीडियो के दौरान आतंकवादी का पिता अफसरों के पैर छूकर शुक्रिया अदा करता दिखाई दे रहा है। इस दौरान अफसरों ने कहा कि ये गलती थी, अब हम कोशिश करेंगे कि इसकी (आतंकवादी) सारी गलतियां माफ कर दी जाएं। पिता से अफसरों ने कहा कि अब ये इस रास्ते पर आगे ना बढ़े। इस पर पिता ने कहा कि अगर अब ये घर से निकला तो पहली लाश मेरी गिराना आप लोग। इस पर भी अफसरों ने कहा कि ऐसी कोई बात नहीं है।

ऐसे पकड़ा गया आतंकी
पुलिस ने कहा कि संयुक्त टीम जैसे ही टार्गेट लोकेशन पर पहुंची, एसपीओ अल्ताफ उसके सहयोगी ने सर्च टीम पर गोली चला दी, जिसके जवाब में संयुक्त टीम ने भी फायरिंग की। पुलिस ने कहा, मुठभेड़ के बीच, एसपीओ घटनास्थल से भागने में सफल रहा। हालांकि उसके सहयोगी को जिंदा पकड़ लिया गया और उसकी पहचान जहांगीर अहमद भट के रूप में हुई है, जोकि एक ऑवर ग्राउंड वर्कर और पथराव करने में माहिर शख्स है। एसपीओ ने एक एके 47 राइफल्स भी बरामद कर ली, जिसे वह कैंप से लेकर भागा था। आईजी विजय कुमार ने पुलिस की तारीफ की और उन्होंने एसपीओ के परिवार से उसे वापस लाने में पुलिस की मदद करने की अपील की। पुलिस ने मामले में एक केस दर्ज किया है और जांच चल रही है।

ओवर ग्राउंड वर्कर था सरेंडर करने वाला आतंकवादी
बडगाम करे चडूरा इलाके में आर्मी और सीआरपीएफ ने एक एसपीओ की तलाश में ऑपरेशन चलाया था। यह एसपीओ दो दिन पहले एके-47 राइफल लेकर फरार हो गया था। तलाशी के दौरान सुरक्षा बलों की टुकड़ी पर फायरिंग की गई और एसपीओ फरार हो गया। लेकिन, उसका साथी जहांगीर पकड़ में आ गया। यह ओवरग्राउंड वर्कर के तौर पर काम करता था। और, पत्थरबाजी में भी शामिल था।

एसएसबी का फरार जवान पकड़ा गया
कश्मीर पुलिस ने भगोड़े एसपीओ अल्ताफ के परिवार से अपील की है कि वो उसे वापस लाने में पुलिस की मदद करें। इसके अलावा राजौरी में एक ऑपरेशन जम्मू-कश्मीर पुलिस ने चलाया। इस दौरान सीमा सुरक्षा बल के एक जवान हुसैन को गिरफ्तार किया गया। वह एक इंसास राइफल और 20 राउंड गोलियों के साथ लापता हो गया था। वह राजौरी के रेहान गांव का रहने वाला था।

कमेंट करें
wISMb