दैनिक भास्कर हिंदी: CS से मारपीट मामले में बोले केजरीवाल- मैं जिद्दी हो सकता हूं, लेकिन हिंसात्मक नहीं

March 7th, 2018

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। दिल्ली के मुख्य सचिव और AAP विधायकों के बीच हुई हाथापाई के मामले में सीएम अरविंद केजरीवाल ने बुधवार को कहा है कि वह मारपीट और हिंसा में यकीन नहीं रखते हैं, ये सब कायरों का काम है और वे कायर नहीं हैं। उन्होंने कहा है कि वे जिद्दी हो सकते हैं, लेकिन हिंसात्मक कभी नहीं हो सकते।

केजरीवाल ने यह बातें ज्वाइंट काउंसिल ऑफ एम्प्लाइज आर्गनाइजेशन, दिल्ली के पदाधिकारियों के साथ बैठक में कही। उन्होंने कहा, 'कहा जा रहा है कि हमने चीफ सेक्रेटरी के साथ मारपीट की है। मैं बता दूं कि केजरीवाल जिद्दी हो सकता है, लेकिन हिंसात्मक कभी नहीं हो सकता। हिंसा कभी नहीं करनी है अपने को, मारपीट कायर लोग करते हैं और केजरीवाल कायर नहीं है। और हम अपने लोगों से मारपीट क्यों करेंगे, आपसे क्यों लड़ेंगे।'

गौरतलब है कि चीफ सेक्रेटरी से मारपीट के बाद से दिल्ली के अफसरों और राज्य सरकार के बीच सुलह अब तक नहीं हो पाई है। दोनों पक्षों की ओर से इस मामले में एक-दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप का दौर जारी है। राज्य में विपक्षी पार्टियां कांग्रेस और बीजेपी भी इस मामले को लेकर केजरीवाल सरकार पर आक्रामक रूख अख्तियार किए हुए है। इस बीच हाल ही सीएम अरविंद केजरीवाल के घर पर मारपीट वाली जगह की तलाशी भी ली गई थी और जांच दल ने पाया था कि वहां के सीसीटीवी कैमरों से छेड़छाड़ की गई है।

यह है मामला
19 फरवरी को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली के मुख्य सचिव अंशु प्रकाश को अपने आवास पर बुलाया था। विज्ञापनों से संबंधित एक मामले की जानकारी के लिए मुख्य सचिव को बुलाया गया था। अंशु प्रकाश जब रात को सीएम आवास पहुंचे तो वहां सीएम केजरीवाल, डेप्युटी सीएम मनीष सिसोदिया समेत 10-12 AAP विधायक मौजूद थे। मुख्य सचिव का आरोप है कि इस दौरान सीएम केजरीवाल के सामने AAP विधायकों ने उनसे बदतमिजी की और उनके साथ मारपीट की। इस मामले की जांच फिलहाल जारी है।