दैनिक भास्कर हिंदी: कुमार विश्वास ने केजरीवाल के माफीनामे को बताया कार्यकर्ताओं के साथ धोखा

April 2nd, 2018

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने वित्त मंत्री अरुण जेटली से डिफेशन केस में माफी मांग ली है। केजरीवाल के साथ AAP के अन्य नेताओं ने भी माफी मांग ली है। लेकिन AAP नेता कुमार विशवास ने साफ कर दिया है कि वह माफी नहीं मागेंगे। वहीं केजरीवाल की माफी को कुमार विश्वास ने कार्यकर्ताओं के साथ धोखा बताया है।

पार्टी के लीगल सेल को किया जाए सक्रीय
कुमार विश्वास ने कहा, 'पंजाब में मजीठिया के खिलाफ लाखों पैम्पलेट बंटवाए गए थे और अचानक आपने (अरविंद केजरीवाल) माफी मांग ली। अरुण जेटली तो आपकी माफी स्वीकार कर लेंगे पर उन पार्टी कार्यकर्ताओं का क्या जिनके खिलाफ केस दर्ज हैं।' वहीं उन्होंने कहा, 'मेरा अनुरोध है कि पार्टी के लीगल सेल को सक्रिय किया जाए। पहले पार्टी के 11 हजार कार्यकर्ताओं के खिलाफ देशभर में दर्ज मुकदमों को वापस कराया जाना चाहिए।' कुमार विश्वास ने आशुतोष के पुराने ट्वीट को भी रि-ट्वीट किया है। जिसमें आशुतोष ने लिखा था- अरुण जेटली हमें मानहानि की धमकियां न दें, हमारे सवालों का जवाब दें। आप हमें न्यायालय में ले जाएंगे, हम आपको जनता के न्यायालय में ले जाएंगे।

 

 

 

2015 में लगाए थे जेटली पर आरोप
बता दें कि 2015 में अरुण जेटली पर आप नेताओं ने भ्रष्टाचार के आरोप लगाए थे, जिसके बाद जेटली ने अरविंद केजरीवाल समेत 5 नेताओं पर मानहानि का केस दायर किया था। इसी मामले में केजरीवाल ने रविवार को जेटली को माफीनामा भेजा था। लेटर में केजरीवाल ने लिखा 'मैंने आप पर दिल्ली एंड डिस्ट्रिक्ट क्रिकेट एसोसिएशन (DDCA) के प्रेसिडेंट के कार्यकाल को लेकर दिसंबर 2015 में आरोप लगाए थे। ये जानकारियां मुझे निजी तौर पर कुछ लोगों की तरफ से दी गई थीं, लेकिन ये गलत थीं और किसी आरोपों के सबूत नहीं मिल सके।' यही बात आम आदमी पार्टी के नेता आशुतोष, संजय सिंह, दीपक वाजपेयी और राघव चड्ढा ने अपने लेटर में कही है।