comScore

इंडिया ग्लोबल वीक 2020: उद्घाटन भाषण में पीएम मोदी ने कहा- पूरी दुनिया में बदलाव का नेतृत्व कर रहा भारत


हाईलाइट

  • आज से ब्रिटेन में शुरू हो रहा इंडिया ग्लोबल वीक 2020
  • इंडिया ग्‍लोबल वीक में पीएम नरेंद्र मोदी का संबोधन

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। ब्रिटेन में आज से इंडिया ग्लोबल वीक 2020 शुरू हो गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए इंडिया ग्लोबल वीक को संबोधित किया। कोरोना काल में वैश्विक दर्शकों के लिए मोदी का यह पहला संबोधन है। तीन दिन यानी शनिवार तक चलने वाले इस वर्चुअल सम्मेलन का विषय 'बी द रिवाइवल (BeTheRevival): इंडिया एंड अ बैटर न्‍यू वर्ल्‍ड' है।

उद्घाटन भाषण में पीएम मोदी ने कहा, भारत वैश्विक अच्छाई और समृद्धि को आगे बढ़ाने के लिए कुछ भी करने के लिए तैयार है। भारत सुधार, प्रदर्शन और परिवर्तन कर रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, आत्मनिर्भर भारत का मतलब स्वयं तक सीमित होना या दुनिया के लिए बंद हो जाना नहीं है। इसका मतलब 'सेल्फ सस्टेनिंग' (Self-sustaining) और 'सेल्फ जेनरेटिंग' (Self-generating) होना है।

पीएम ने कहा, वैश्विक महामारी कोरोना ने एक बार फिर दिखाया है कि भारत की दवा इंडस्ट्री सिर्फ भारत के लिए ही संपदा नहीं है बल्कि पूरी दुनिया के लिए भी है। भारत ने दवाईयों की लागत कम करने में अग्रणी भूमिका निभाई है, खासतौर पर विकासशील देशों के लिए। एक तरफ भारत लोगों के स्वास्थ्य को ध्यान में रखकर वैश्विक महामारी के साथ लड़ रहा है, दूसरी ओर हमारा ध्यान देश की अर्थव्यवस्था के स्वास्थ्य पर भी है।

गुरुवार से शनिवार के बीच होने वाले इस आयोजन के वक्ताओं की सूची में मोदी का नाम सबसे ऊपर था। पीएम मोदी के अलावा, विदेश मंत्री एस.जयशंकर, वाणिज्य मंत्री पीयूष गोयल, आईटी एवं कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद और कौशल विकास मंत्री महेंद्र नाथ पांडे भी हिस्सा लेंगे। इंडिया ग्लोबल वीक 2020 में 30 देशों के 5000 वैश्विक प्रतिभागियों को 75 सत्रों में 250 वैश्विक वक्ता संबोधित करेंगे।

इंडिया इंक ग्रुप के संस्थापक व इंडिया ग्लोबल वीक के चेयरमैन मनोज लाडवा ने एक बयान में कहा था, इस कार्यक्रम को वेल्स के प्रिंस चार्ल्स और ब्रिटेन के कई कैबिनेट मंत्री भी संबोधित करेंगे, जिनमें विदेश मंत्री डोमिनिक राब, गृह मंत्री प्रीति पटेल, स्वास्थ्य मंत्री मैट हैनकॉक और अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मंत्री लिज ट्रस भी शामिल हैं। उन्होंने कहा, यह ब्रेग्जिट के बाद के ब्रिटेन में भारत के महत्व को दर्शाता है।

अन्य अंतर्राष्ट्रीय वक्ताओं में स्टीव वॉ (पूर्व आस्ट्रेलियाई क्रिकेटर), मुकेश अघि (यूएस-इंडिया स्ट्रेटेजिक पार्टनरशिप फोरम के अध्यक्ष व मुख्य कार्यकारी अधिकारी), चंग काई फोंग (सिंगापुर के आर्थिक विकास बोर्ड के प्रबंध निदेशक और विलियम रसेल (लंदन शहर के लॉर्ड मेयर) शामिल हैं।

कमेंट करें
2IMtD