comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

Ceasefire : पाक सेना ने पुंछ जिले में मोर्टार से दागे गोले, एक जवान शहीद, भारत ने तबाह की कई चौकियां 

Ceasefire : पाक सेना ने पुंछ जिले में मोर्टार से दागे गोले, एक जवान शहीद, भारत ने तबाह की कई चौकियां 

हाईलाइट

  • पाकिस्तानी सेना के हमले में एक जवान शहीद, दो घायल
  • भारतीय सैनिकों ने जवाबी कार्रवाई में पाक की कई चौकियों को तबाह किया
  • पुंछ जिले के दिगवार सेक्टर में पाक सेना ने दोपहर 3.45 बजे से शुरू की गोलीबारी

डिजिटल डेस्क, श्रीनगर। पाकिसनी सेना ने शनिवार को एक बार फिर सीजफायर का उल्लंघन करते हुए सीमा पार से भारी मात्रा में गोलीबारी की। यही नहीं इस दौरान पाक सेना ने मोर्टार तोप से गोलाबारी भी की, जिससे भारतीय सेना का एक जवान शहीद हो गया, जबकि दो अन्य जवान गंभीर रूप से घायल हो गए। 

जानकारी अनुसार पाकिस्तानी आर्मी ने शनिवार को पुंछ जिले के दिगवार सेक्टर में दोपहर करीब 3.45 बजे गोलीबारी शुरू कर दी थी। पाकिस्तान की ओर से यहां सेना की कुछ चौकियों और रिहाइशी इलाकों में गोलाबारी की गई थी। इस दौरान भारतीय सेना ने भी जवाबी कार्रवाई करते हुए फायरिंग की। इसके बाद पाक सेना ने मोर्टार तोप से गोले दागने शुरू कर दिए, जिससे भारतीय सेना का एक जवान शहीद हो गया और दो जवान घायल हो गए। इसके जवाब में भारतीय सेना ने पाकिस्तान की कई पोस्ट को तबाह कर दिया है। बताया जा रहा है कि लाइन ऑफ कंट्रोल पर अब भी दोनों सेनाओं की ओर से गोलीबारी की जा रही है। पाकिस्तानी गोलाबारी के बाद सीमा और एलओसी से सटे हिस्सों में अलर्ट घोषित किया गया है।

सीमा से सटे इलाकों में दहशत
पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि पाकिस्तानी सैनिकों ने अग्रिम चौकियों के साथ ही असैन्य क्षेत्रों को निशाना बनाया जिससे स्थानीय लोगों में दहशत फैल गई। अधिकारी ने कहा कि हालांकि किसी आम नागरिक के हताहत होने की कोई खबर नहीं है। अधिकारियों ने बताया कि जवाबी कार्रवाई में पाकिस्तानी सैनिकों को पहुंचे नुकसान के बारे में तत्काल पता नहीं चल पाया है। अंतिम खबर मिलने तक दोनों तरफ से गोलीबारी जारी थी।

एलओसी से सटे तमाम इलाकों में हो चुकी गोलाबारी
बता दें कि पाकिस्तान की ओर से बीते कई दिनों से एलओसी से सटे तमाम इलाकों में भारी गोलाबारी की जा रही है। हाल की घटनाओं की बात करें तो पाकिस्तान ने बीते तीन महीनों में बांदीपोरा, कुपवाड़ा, पुंछ और राजौरी जिलों में कई बार भारी गोलाबारी की थी।

कमेंट करें
buHsV