दैनिक भास्कर हिंदी: लोकसभा चुनाव 2019 : दूसरे चरण में 66 फीसदी वोटिंग, पश्चिम बंगाल में हिंसा

April 19th, 2019

हाईलाइट

  • लोकसभा चुनाव का दूसरा चरण गुरुवार को समाप्त हो गया, जिसमें 66 प्रतिशत मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया।
  • मतदान के दौरान कई जगहों पर हिंसक घटनाएं भी देखने को मिली।
  • पश्चिम बंगाल में मतदान प्रक्रिया के दौरान हिंसा की घटनाओं के बावजूद सबसे ज्यादा 75.27 प्रतिशत मतदान हुआ।

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव का दूसरा चरण गुरुवार को समाप्त हो गया, जिसमें 66 प्रतिशत मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। मतदान के दौरान कई जगहों पर हिंसक घटनाएं भी देखने को मिली। पश्चिम बंगाल में मतदान प्रक्रिया के दौरान हिंसा की घटनाओं के बावजूद सबसे ज्यादा 75.27 प्रतिशत मतदान हुआ। वहीं जम्मू और कश्मीर में सबसे कम 43.37 प्रतिशत मतदान हुआ। वरिष्ठ उप चुनाव आयुक्त उमेश सिन्हा ने ये जानकारी दी। हालांकि आयोग ने अभी फाइनल आंकड़े जारी नहीं किए हैं।

उप्र की 8 सीटों पर 66.06%, बंगाल की 3 सीटों पर 76.42%, बिहार की 5 सीटों पर 62.38%, ओडिशा की 5 सीटों पर 57.97%, असम की 5 सीटों पर 76.22%, मणिपुर की 1 सीट पर 67.15%, महाराष्ट्र की 10 सीटों पर 61.22%, जम्मू कश्मीर की 2 सीटों पर 45.5%, छत्तीसगढ़ की 3 सीटों पर 71.40%, कर्नाटक की 14 सीटों पर 67.67%, पुड्डुचेरी की 1 सीट पर 76.19%, तमिलनाडु की 38 सीटों पर 66.36% वोटिंग हुई।

12 राज्यों की 95 सीटों पर मतदान
19 मार्च को जारी की गई अधिसूचना के अनुसार 13 राज्यों की 97 सीटों पर मतदान होना था, लेकिन हाल ही में आयोग द्वारा त्रिपुरा की पूर्वी त्रिपुरा और तमिलनाडु की वेल्लोर सीट पर मतदान स्थगित किये जाने के कारण 12 राज्यों की 95 सीटों पर मतदान हो रहा है। बता दें लोकसभा की 543 सीटों के लिये सात चरणों में चुनाव होना है। पहले चरण में 11 अप्रैल को हुये चुनाव में 20 राज्यों की 91 सीटों पर मतदान हो चुका है। मतगणना 23 मई को होगी।

पश्चिम बंगाल
हिंसा की घटनाओं के बीच लोकसभा चुनाव के दूसरे चरण में पश्चिम बंगाल में सबसे अधिक 76.42% प्रतिशत मतदान हुआ। चोपड़ा विधानसभा क्षेत्र में झड़पें हुईं जब पुलिस ने बल प्रयोग कर ऐसे लोगों के एक समूह को तितर-बितर किया जिन्होंने राष्ट्रीय राजमार्ग 31 को अवरुद्ध किया था, उनका दावा था कि उन्हें वोट देने की अनुमति नहीं थी। 

रायगंज के गोलपोखरे में एक पत्रकार की कथित तौर पर पिटाई की भी खबर है। जलपाईगुड़ी के मालबाजार में स्थानीय बीजेपी नेताओं ने टीएमसी पर उनके बूथ कैंप में आग लगाने का आरोप लगाया। हालांकि सत्तारूढ़ दल ने इसे खारिज कर दिया।

इस्लामपुर में CPI(M) के उम्मीदवार मो. सलीम के वाहन पर हमला किया गया और उनके चालक को भागने के लिए मजबूर किया गया। उधर, दार्जिलिंग, जलपाईगुड़ी और रायगढ़ विधानसभा क्षेत्रों में कई स्थानों पर ईवीएम की खराबी सामने आई जिस कारण मतदान में देरी हुई।

ओडिशा
लोकसभा चुनाव के दूसरे चरण में ओडिशा में 57.97% प्रतिशत मतदान हुआ। हालांकि, वीवीपीएटी मशीनों के प्रतिस्थापन के दौरान मानवीय त्रुटि के कारण सुंदरगढ़ और कंधमाल लोकसभा क्षेत्रों के चार बूथों में रिपोलिंग की सिफारिश की गई है। राज्य के मुख्य निर्वाचन अधिकारी सुरेंद्र कुमार ने कहा कि केवल मानवीय भूल थी और इसमें कोई तकनीकी खराबी नहीं थी।

कंधामला लोकसभा क्षेत्र के अंतर्गत जिन बूथों पर नए सिरे से मतदान की सिफारिश की गई है, उनमें बूथ संख्या 129 (बोनाई विधानसभा क्षेत्र), बूथ संख्या 213 (सुंदरगढ़ विधानसभा क्षेत्र), बूथ संख्या 210 और 222 (डसपल्ला विधानसभा) है। सीईओ ने कहा कि कुछ बूथों से ईवीएम में खराबी की खबरें भी थीं जिसके परिणामस्वरूप विभिन्न स्थानों पर लगभग 50 बूथों पर मतदान में देरी हुई। 

11 अप्रैल को पहले चरण के मतदान के दौरान ईवीएम में गड़बड़ी की रिपोर्ट के बाद मलकानगिरि (एसटी) और बेरहामपुर विधानसभा क्षेत्रों में दो बूथों पर भी रिपोलिंग हुई है। इस बीच, सनखेमंडी विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत कंसमारी गांव में एक बूथ पर कतार में खड़े होने के दौरान एक 95 वर्षीय व्यक्ति की मौत हो गई। बता दें कि ओडिशा में लोकसभा और विधानसभा चुनाव एक साथ चार चरणों में हो रहे हैं।

तमिलनाडु
तमिलनाडु में लोकसभा चुनाव के दूसरे चरण में 66.36% मतदान हुआ। मुख्य निर्वाचन अधिकारी (सीईओ) सत्यव्रत साहू ने कहा कि बूथ कैप्चरिंग या कानून व्यवस्था के संबंध में किसी भी तरह की कोई अप्रिय घटना की कोई रिपोर्ट नहीं मिली है। राज्य भर में मतदान प्रक्रिया शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न हुई है। हालांकि, DMK ने सत्तारूढ़ AIADMK पर बूथ कैप्चरिंग करने की योजना बनाने का आरोप लगाया है।

कर्नाटक
कर्नाटक में लोकसभा चुनाव के दूसरे चरण में 67.67% प्रतिशत मतदान हुआ। जबकि शाम 5 बजे तक दक्षिण कन्नड़ में सबसे अधिक 72.97 प्रतिशत मतदान हुआ।  सबसे कम बेंगलूरु मध्य निर्वाचन क्षेत्र में 45.34 प्रतिशत मतदान हुआ। मांड्या में 70.23 फीसदी मतदान रिकॉर्ड किया गया, जहां मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी के बेटे निखिल को अभिनेता सुमलाथा अंबरीश के खिलाफ खड़ा किया गया है। तुमकुर में, जहां पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवेगौड़ा की भाजपा के जीएस बसवराज के साथ कड़ी टक्कर हैं में 70.28 प्रतिशत मतदान हुआ। शेष 14 निर्वाचन क्षेत्र, जिसमें ज्यादातर उत्तरी जिले है वहां 23 अप्रैल को चुनाव होंगे।

छत्तीसगढ़
छत्तीसगढ़ में तीन निर्वाचन क्षेत्र, कांकेर, राजनांदगांव और महासमुंद में 71.40% फीसदी मतदान हुआ। राजनांदगांव निर्वाचन क्षेत्र के मोहला-मानपुर विधानसभा क्षेत्र में माओवादियों ने एक IED विस्फोट किया। पुलिस ने कहा कि इसके अलावा किसी अन्य अप्रिय घटना की सूचना नहीं है।

असम
असम में 76.22% मतदान हुआ। 3 बजे तक करीमगंज में सबसे अधिक 63.66 प्रतिशत, मंगलदोई में 62.7 प्रतिशत, सिलचर में 57.06 और नाओगॉन्ग में सबसे कम 56.78 प्रतिशत मतदान हुआ। अधिकारी ने कहा कि सभी पांचों निर्वाचन क्षेत्रों के कई बूथों पर शुरू में ईवीएम की गड़बड़ी की सूचना मिली थी, लेकिन उन्हें बदलने के बाद फिर से मतदान दोबारा शुरू हुआ।

बिहार
बिहार में लोकसभा चुनाव के दूसरे चरण में 62.38% मतदान हुआ। एक चुनाव अधिकारी ने बताया कि कई बूथों से ईवीएम की गड़बड़ी और मतदान के बहिष्कार की खबरों के बावजूद मतदान प्रक्रिया काफी हद तक शांतिपूर्ण रही।

जम्मू और कश्मीर
जम्मू और कश्मीर में लोकसभा चुनाव के दूसरे चरण में 45.5% मतदान हुआ। श्रीनगर में मतदान 15 प्रतिशत से कम रहा, वहीं ऊधमपुर में 65 प्रतिशत मतदान हुआ। उग्रवादी धमकियों और कश्मीर में अलगाववादियों द्वारा बहिष्कार के आह्वान के बाद कड़ी सुरक्षा के बीच मतदान प्रक्रिया को संपन्न कराया गया। इस दौरान सुरक्षा बलों और मतदान कर्मचारियों पर पथराव की कई घटनाएं हुईं। हालांकि सुरक्षा बलों ने इस तरह के शत्रुतापूर्ण पथराव से निपटने के दौरान अत्यधिक संयम बरता। वहीं प्रवासी कश्मीरी पंडितों के एक समूह ने श्रीनगर में अपने विशेष मतदान केंद्र के बाहर विरोध किया क्योंकि उनके नाम मतदाता सूची से गायब थे।

महाराष्ट्र
महाराष्ट्र में शाम 61.22% मतदान हुआ। 10 निर्वाचन क्षेत्रों में कुल 179 उम्मीदवार मैदान में थे। यहां पर हिंसा या बूथ कैप्चरिंग जैसी किसी घटना की खबर नहीं आई। हालांकि नांदेड़ में 78 ईवीएम में खराबी की शिकायतें मिली।

उत्तर प्रदेश
उत्तर प्रदेश में दूसरे चरण में 66.06% प्रतिशत मतदान हुआ।

मणिपुर
मणिपुर में 67.15% फीसदी मतदान हुआ।

 

 

खबरें और भी हैं...