दैनिक भास्कर हिंदी: संसद में जोरदार हंगामा, स्पीकर पर फेंके पर्चे, कार्यवाही कल 11 बजे तक स्थगित

January 7th, 2019

हाईलाइट

  • राफेल मुद्दे को लेकर संसद में हो सकती है राफेल पर बहस !
  • राफेल मुद्दे पर सरकार को घेरेगा विपक्ष

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। सोमवार को संसद में जोरदार हंगामे के बाद सदन की कार्यवाही को मंगलवार सुबह 11 बजे तक के लिए स्थगित कर दिया गया है। सदन में कार्यवाही के दौरान सपा के सांसद नारेबाजी और हंगामा करते रहे। इस दौरान कुछ सांसदों ने स्पीकर के ऊपर पर्चे भी फेंके। सपा सांसदों ने CBI जांच के मुद्दे को लेकर हंगामा और नारेबाजी की। हालांकि आज की कार्यवाही के दौरान पर्सनल लॉ (अमेंडमेंट) बिल को लोकसभा में पास कर दिया गया।

सदन में राफेल मुद्दे को लेकर संसद के शीत सत्र में गहमागहमी बनी रही। कांग्रेस लगातार इस मामले में सरकार को घेरने की कोशिश कर रही है वहीं सरकार के मंत्री भी खूब पलटवार कर रहे हैं। आज (सोमवार) को लोकसभा की कार्यवाही शुरू होते ही हंगामा शुरू हो गया। राफेल डील और HAL विवाद के बीच रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने आज संसद में राहुल गांधी के आरोपों का जवाब दिया। उन्होंने कहा कि सरकार ने HAL को 1 लाख करोड़ रुपये का कॉन्ट्रैक्ट दिया गया है। 2014-18 के दौरान 26,570.80 करोड़ रुपये के कॉन्ट्रैक्ट पहले ही साइन किए जा चुके हैं। वहीं, 73,000 करोड़ रुपये मूल्य के ऑर्डर अभी पाइपलाइन में हैं।

 

PARLIAMENT HOUSE LIVE UPDATE

  • लोकसभा की कार्यवाही के दौरान सपा के सांसद नारेबाजी और हंगामा करते रहे। इस दौरान कुछ सांसदों ने स्पीकर के ऊपर पर्चे भी फेंके।
  • देश को राफेल विमान की जरूरत है। इस डील में बाधा पहुंचाकर राहुल गांधी देश की सुरक्षा के साथ खिलवाड़ क्यों कर रहे हैं- रविशंकर प्रसाद
  • राहुल गांधी के ऊपर फॉरेन लॉबी द्वारा दबाव डाला जा रहा है। क्रिस्चन मिशेल के गिरफ्तार होने के बाद राहुल पर दबाव बढ़ गया है-रविशंकर प्रसाद
  • CBI के दुरुपयोग और राफेल मुद्दे पर JPC की मांग को लेकर सदन में जारी हंगामा।  
  • रक्षामंत्री के जवाब के बाद राहुल ने ट्वीट करते हुए लिखा, HAL के पास कर्मचारियों को सैलरी देने के लिए पैसे नहीं हैं। अब HAL के सर्वश्रेष्ठ इंजीनियरों और वैज्ञानिकों को अनिल अंबानी के वेंचर में जाने के लिए मजबूर किया जाएगा।
  • रक्षामंत्री निर्माला सीतारमण ने दिया राहुल गांधी के आरोपों का जवाब
  • कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी देश को गुमराह करने की कोशिश कर रहे हैं। राहुल गांधी के आरोप देश को गुमराह करने वाले हैं- रक्षामंत्री निर्माला सीतारमण
  • सभापति वेंकैया नायडू द्वारा नियमानुसार नोटिस ने देने की वजह से कुछ मुद्दों पर चर्चा से इनकार के बाद सांसदों का राज्यसभा में हंगामा। सदन की कार्यवाही को दोपहर 2 बजे तक स्थगित कर दिया।
  • लोकसभा में TDP सांसद शिव प्रसाद खुद को सदन में हंटर मारने लगे और रिकॉर्डर बजा दिया। 
  • लोकसभा की कार्यवाही शुरू होने के साथ ही विपक्ष दलों का हंगामा। सदन की कार्यवाही को दोपहर 12 बजे तक स्थगित कर दिया।
  • आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य के दर्जे की मांग को लेकर टीडीपी सांसद नारामल्ली शिवप्रसाद आज तमिलनाडु के पूर्व CM एमजी रामचंद्रन के भेष में पहुंचे।

 

  • सबरीमाला मंदिर विवाद में केरल में बीजेपी नेताओं पर हुए हमले के विरोध में बीजेपी सांसदों का संसद परिसर में विरोध प्रदर्शन।
  • राफेल विमान डील की JPC जांच की मांग के लिए कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने लोकसभा में नियम 193 के तहत नोटिस दिया।
  • संसद को दरकिनार करने और विधायी जांच को नजरअंदाज करने' के मुद्दे पर चर्चा के लिए तृणमूल कांग्रेस ने नियम 267 के तहत राज्यसभा में नोटिस दिया।

 

 

  • तीन तलाक बिल पर आज राज्यसभा में भी हंगामा होने के आसार हैं।
  • राज्यसभा में आज तीन तलाक बिल पेश किया जा सकता है। यह बिल लोकसभा में पहले ही पास हो चुका है। अब इसे उच्च सदन से पास होना है।
  • राफेल डील को लेकर आज भी लोकसभा में हंगामे के आसार दिखाई पड़ रहे हैं क्योंकि विपक्ष राफेल डील की जेपीसी जांच की मांग को लेकर अड़ा हुआ है।
  • राफेल डील के मुद्दे को लेकर संसद के शीतकालीन सत्र में गहमागहमी बनी हुई है। कांग्रेस लगातार इस मामले में सरकार को घेरने की कोशिश कर रही है।

 

राफेल डील पर शुक्रवार को लोकसभा में चर्चा के दौरान रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने दावा किया था कि हिंदुस्तान ऐरोनॉटिक्स लिमिटेड (HAL) को सरकार की तरफ से 1 लाख करोड़ रुपये के प्रोक्यूरमेंट ऑर्डर पाइपलाइन में हैं। अब दो दिन बाद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने रक्षा मंत्री को चुनौती दी है कि वह इस दावे को साबित करे। उन्होंने कहा कि वह सदन में अपने बयान के समर्थन में या तो दस्तावेज पेश करें या इस्तीफा दें। रक्षा मंत्री ने पलटवार करते हुए कहा कि यह बड़े शर्म की बात है कि कांग्रेस प्रमुख मुद्दे को पूरी तरह समझे बगैर ही देश को गुमराह कर रहे हैं। बता दें कि हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (एचएएल) ने रविवार को कहा कि 83 हल्के लड़ाकू विमानों और 15 हल्के लड़ाकू हेलीकॉप्टरों के ऑर्डर अभी अंतिम चरण में हैं और उसकी वित्तीय स्थिति में सुधार की संभावनाएं हैं। एचएएल ने यह भी कहा कि उसने अपनी मौजूदा जरूरतें पूरी करने के लिए 962 करोड़ रुपए का ओवरड्राफ्ट (बैंक से धनराशि लेना) लिया था। 

खबरें और भी हैं...