comScore

MP Crisis: बीजेपी में बगावत! सीएम कमलनाथ के संपर्क में विधायक नारायण त्रिपाठी

MP Crisis: बीजेपी में बगावत! सीएम कमलनाथ के संपर्क में विधायक नारायण त्रिपाठी

हाईलाइट

  • मैहर से बीजेपी विधायक नारायण त्रिपाठी के बगावती तेवर
  • विधानसभा के बाहर कांग्रेस विधायक आरिफ मसूद के साथ दिखे त्रिपाठी
  • मुख्यमंत्री कमलनाथ से घर जाकर की मुलाकात

डिजिटल डेस्क, भोपाल। मध्य प्रदेश में सियासी उठापटक का दौर जारी है। कांग्रेस के 22 विधायकों के इस्तीफा देने से जहां कमलनाथ सरकार पर संकट गहराया हुआ है, वहीं दूसरी ओर भाजपा के विधायक नारायण त्रिपाठी भी बगावती तेवर अपनाए हुए हैं। खबर है कि त्रिपाठी मुख्यमंत्री कमलनाथ के संपर्क में है, क्योंकि त्रिपाठी सोमवार को विधानसभा से कांग्रेस विधायक आरिफ मसूद के साथ निकले, इसके बाद मुख्यमंत्री कमलनाथ से उनके घर जाकर मुलाकात की। जब पत्रकारों ने उनसे सवाल पूछा तो कहा कि, इलाके के विकास को लेकर उन्होंने सीएम से मुलाकात की। 

होटल में ठहराए गए विधायकों में शामिल नहीं थे त्रिपाठी
दरअसल राज्य में भाजपा लगातार कमलनाथ सरकार के अल्पमत में होने की बात कह रही है, वहीं उसके एक विधायक नारायण त्रिपाठी सवाल खड़े कर रहे है। त्रिपाठी सोमवार को राजभवन जाने वाले भाजपा के विधायकों के दल के साथ नहीं गए थे, दूसरी ओर वे राजधानी से बाहर होटल में ठहराए गए विधायकों के साथ भी नहीं है।

MP Politics: सियासी घमासान के बीच सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई आज, फ्लोर टेस्ट पर सस्पेंस

दो बार कमलनाथ से की मुलाकात
त्रिपाठी ने सोमवार को दिन और रात में मुख्यमंत्री कमलनाथ से मुलाकात की। त्रिपाठी सीधे तौर पर भाजपा का साथ छोड़ने की बात नहीं कह रहे हैं, मगर कमलनाथ सरकार को विकास का काम करने वाली सरकार बताते आ रहे हैं। वे बेंगलुरु ले जाए गए विधायकों को बंधक बनाने की बात कह चुके हैं।

राज्य के विधायकों की स्थिति को देखें तो पता चलता है कि 230 विधायकों वाले सदन में दो स्थान रिक्त है, छह का इस्तीफा मंजूर किया जा चुका है। कांग्रेस के 108 विधायकों में से 16 के इस्तीफे विधानसभा अध्यक्ष के पास लंबित हैं, इस तरह कांग्रेस के विधायकों की संख्या 92 रह जाती है। वहीं भाजपा के 107, बसपा दो, सपा का एक और चार निर्दलीय विधायक हैं।

कमेंट करें
sqvB5