comScore

Maharashtra Election: उद्धव ने याद​ दिलाया 50-50 का फॉर्मूला, फडणवीस बोले- जल्द पता चल जाएगा क्या तय किया

Maharashtra Election: उद्धव ने याद​ दिलाया 50-50 का फॉर्मूला, फडणवीस बोले- जल्द पता चल जाएगा क्या तय किया

हाईलाइट

  • भाजपा और शिवसेना ने 161 सीटें जीतकर स्पष्ट बहुमत हालिस किया
  • भाजपा के कई बड़े मंत्री परास्त, वोट शेयर भी घटा
  • आदित्य ठाकरे ने मुंबई के वर्ली विधानसभा क्षेत्र से जीत दर्ज की

डिजिटल डेस्क, मुंबई। महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के परिणाम देर रात घोषित किए गए। वोटों की गिनती रात करीब 1 बजे तक चली। महाराष्ट्र में भाजपा और शिवसेना ने 161 सीटें जीतकर स्पष्ट बहुमत हासिल कर लिया है। इसके साथ ही महाराष्ट्र का अगला सीएम कौन बनेगा इस पर राजनीति शुरू हो गई है। 

वहीं महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के नतीजे घोषित किए जाने के बाद शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने गुरुवार को सत्ता में हिस्सेदारी के लिए भाजपा को '50-50' का फॉर्मूला याद दिलाया। उधर, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस ने बीजेपी और शिवसेना के बीच जो तय हुआ था उसी पर आगे बढ़ने की बात कही।

फडणवीस ने मीडिया से कहा कि शिवसेना और हमारे (भाजपा) बीच जो तय हुआ है, उसके अनुसार हम आगे बढ़ने वाले हैं। सही समय आने पर आपको पता चल जाएगा कि हमनें क्या तय किया है। उन्होंने कहा कि 15 निर्दलीय विधायकों ने मुझसे संपर्क किया है और वे हमारे साथ आने के लिए तैयार हैं। दूसरे भी आ सकते हैं लेकिन ये 15 हमारे साथ आएंगे। इनमें से ज्यादातर भाजपा या शिवसेना के बागी हैं।

चुनाव परिणाम में भाजपा ने 105 और शिवसेना ने 56 सीटों पर जीत दर्ज की। भाजपा को पिछले चुनाव के मुकाबले 19 सीटों का नुकसान हुआ है। उसने पिछली बार 124 सीटें हासिल की थीं। वहीं शिवसेना को 6 सीटों का नुकसान उठाना पड़ा। ​शिवसेना ने पिछले चुनाव में 62 सीटें जीती थीं। इसके अलावा कांग्रेस को एक सीट का फायदा हुआ है। कांग्रेस ने इस चुनाव में सीटों की संख्या 43 से बढ़ाकर 44 कर ली। हांलाकि वह बहुमत से कोसो दूर है।  

ठाकरे परिवार से आदित्य पहले ​विजयी नेता
शिवसेना नेता आदित्य ठाकरे ने गुरुवार को मुंबई के वर्ली विधानसभा क्षेत्र से जीत दर्ज की। 29 वर्षीय युवा सेना प्रमुख ने अपने एनसीपी प्रतिद्वंद्वी सुरेश माने को 70,000 से अधिक मतों के अंतर से हराया। ठाकरे, जिन्हें मुख्यमंत्री बनाना चाहती है, वह चुनाव मैदान में उतरने वाले अपने परिवार के पहले सदस्य हैं। ट्विटर पर भी आदित्य की जीत के बाद आदित्य फॉर सीएम ट्रेंड कर रहा है।

भाजपा का वोट शेयर घटा
महाराष्ट्र और हरियाणा में चुनाव प्रचार के दौरान भाजपा ने धारा 370 खत्म करने, तीन तलाक और राष्ट्रवाद जैसे मुद्दे उठाए। उधर, यहां कांग्रेस समेत दूसरे विपक्षी दलों ने बेरोजगारी, किसान, भ्रष्टाचार और अर्थव्यवस्था पर मौजूदा भाजपा सरकारों को घेरा। महाराष्ट्र में 2014 विधानसभा में गठबंधन के दलों को 47.6% वोट मिले थे। लोकसभा चुनाव में 51% वोट मिले। इस विधानसभा चुनाव में वोट शेयर घटकर 42% रह गया यानी लोकसभा चुनाव से करीब 9% कम।

जनता ने भाजपा पर मुहर लगाई: शाह
दिल्ली मुख्यालय में पार्टी कार्यकर्ताओं के बीच भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि हरियाणा और महाराष्ट्र में कभी हम मुख्यमंत्री नहीं बना पाए थे। 2014 में देश की जनता ने परिवर्तन किया। मोदीजी के नेतृत्व में पूर्ण बहुमत देकर चुनाव जिताया। दोनों जगह भाजपा की सरकार बनीं। मोदी सरकार की स्पीड और सटीकता देखकर जनता ने भाजपा पर मुहर लगाई।

कमेंट करें
l14G2