दैनिक भास्कर हिंदी: महाराष्ट्र: सरकार ने भाजपा पर लगाए उद्धव और शरद पवार के फोन टैपिंग के आरोप, फडणवीस ने किया इनकार 

January 24th, 2020

हाईलाइट

  • महाराष्ट्र गृहमंत्री अनिल देशमुख ने फोन टैपिंग के आरोप लगाए
  • फोन टैप करने के लिए सरकारी मशीनरी का दुरुपयोग किया
  • फडणवीस बोले- किसी भी एजेंसी से जांच करा ले महाराष्ट्र सरकार

डिजिटल डेस्क, मुंबई। महाराष्ट्र सरकार को शंका जताई है कि विधानसभा चुनाव के दौरान शिवसेना और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) के नेताओं के फोन टैप किए गए। इसमें सीएम उद्धव ठाकरे और एनसीपी प्रमुख शरद पवार के फोन भी शामिल हो सकते हैं। महाराष्ट्र गृहमंत्री अनिल देशमुख ने गुरुवार को आरोप लगाया कि पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने विपक्षी नेताओं के फोन टैप करने के लिए सरकारी मशीनरी का दुरुपयोग किया और कहा कि इस संबंध में जांच का आदेश दिया गया है। वहीं इस मामले में पूर्व महाराष्ट्र सीएम और भाजपा नेता देवेंद्र फडणवीस ने फोन टैपिंग की बात से साफ इनकार किया है। उन्होंने कहा है कि उद्धव सरकार किसी भी एजेंसी से जांच करा सकती है।

देशमुख ने कहा कि राज्य पुलिस विभाग के साइबर सेल को उन विपक्षी नेताओं के फोन टैपिंग की शिकायतों की जांच करने के लिए निर्देशित किया गया है। उन्होंने कहा कि सरकार उन अधिकारियों को भी ढूंढने की कोशिश कर रही है, जिन्हें कथित तौर पर स्नूपिंग सॉफ्टवेयर का अध्ययन करने के लिए इस्राइल भेजा गया था।उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र पुलिस की साइबर सेल को पिछली सरकार के दौरान आए फोन टैपिंग की विभिन्न शिकायतों पर कार्रवाई करने को कहा गया है। यह पूछताछ विपक्षी नेताओं की जासूसी की शिकायतों विशेषकर सरकार (महाराष्ट्र विकास अघाड़ी) के गठन के बाद की जा रही है।

फडणवीस बोले-किसी भी एजेंसी से जांच करा ले महाराष्ट्र सरकार
फोन टैपिंग के बात को सिरे खारिज करते हुए महाराष्ट्र पूर्व सीएम और भाजपा नेता देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि विपक्षी नेताओं का फोन टैपिंग महाराष्ट्र की परंपरा नहीं है। हमारी सरकार ने ऐसा आदेश कभी नहीं दिया। वर्तमान राज्य सरकार किसी भी एजेंसी से जांच कराने के लिए स्वतंत्र है। यहां तक कि शिवसेना के नेता भी तब राज्य गृह मंत्रालय का हिस्सा थे।

कांग्रेस के शासनकाल में शिवसेना नेताओं के फोन टैप किए गए थे- केसरकर
महाराष्ट्र के पूर्व गृह राज्यमंत्री और शिवसेना नेता दीपक केसरकर ने कहा कि यदि किसी नेता का फोन टैप किया गया है, तो यह आपत्तिजनक है। जांच से पहले टिप्पणी करना मेरे लिए सही नहीं है। उन्होंने कहा कि जहां तक फोन टैपिंग का सवाल है, यह सभी जानते थे कि कांग्रेस के शासनकाल में भी शिवसेना नेताओं के फोन टैप किए गए थे।

गृह मंत्रालय को फोन टैपिंग करने की आदत है: राउत 
इस मामले को लेकर राज्यसभा सांसद संजय राउत ने कहा कि राजनीति में इन दिनों फोन टैपिंग हो रही है। मैं इसे बहुत गंभीरता से नहीं लेता। उन्होंने कहा कि गृह मंत्रालय को फोन टैपिंग करने और अपने विरोधियों पर नजर रखने की आदत है, लेकिन फोन टैपिंग में लिप्त होने के बावजूद, हमने महाराष्ट्र में सरकार का गठन किया।