comScore

महाराष्ट्र के राजनीतिक हालात पर कांग्रेस आज करेगी मंथन

महाराष्ट्र के राजनीतिक हालात पर कांग्रेस आज करेगी मंथन

हाईलाइट

  • महाराष्ट्र के राज्यपाल ने एनसीपी को भेजा न्योता
  • शिवसेना को राज्यपाल ने और समय देने से किया इनकार
  • मुख्यमंत्री पद के लिए शिवसेना ने छोड़ा था भाजपा का साथ

डिजिटल डेस्क, मुंबई। महाराष्ट्र में की राजनीति में नया मोड़ सामने आया है। शिवसेना राज्यपाल भग​त सिंह कोश्यारी के सामने बहुमत सिद्ध नहीं कर सकी हैं। राजभवन में मुलाकात के दौरान शिवसेना ने राज्यपाल से 48 घंटे का समय मांगा, लेकिन राज्यपाल ने इनकार कर दिया। ऐसे में शिवसेना के सरकार बनाने के मंसूबों पानी फिरता दिखाई दे रहा है। अब महाराष्ट्र में सरकार बनाने के लिए राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने एनसीपी को 24 घंटे का समय दिया है।

LIVE UPDATES

  • मंगलवार को 10 बजे महाराष्ट्र के राजनीतिक हालात को लेकर कांग्रेस कोर ग्रुप की बैठक मंगलवार को अंतरिम पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी के आवास पर आयोजित की जाएगी।
  • महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने कहा है कि कल एकनाथ शिंदे को सरकार बनाने के लिए अपनी इच्छा और क्षमता व्यक्त करने के लिए बुलाया था। शिवसेना के नेताओं ने मुलाकात की और एक पत्र सौंपकर सरकार बनाने की इच्छा व्यक्त की। हालांकि वे गठबंधन सहयोगियों से समर्थन के अपेक्षित पत्र प्रस्तुत नहीं कर सके। इस कारण तीसरी सबसे बड़ी पार्टी के चुने हुए सदस्यों के नेता, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी, अजीत पवार को अपनी इच्छा और सरकार बनाने की क्षमता बताने के लिए कहा है।
  • भाजपा नेता सुधीर मुनगंटीवार बयान में कहा है​ कि भाजपा कोर टीम की बैठक संपन्न हो गई है। इसमें राज्य की राजनीतिक स्थिति पर चर्चा की गई। इसके आधार पर बीजेपी 'वैट एंड वॉच' का स्टैंड ले रही है।
  • एनसीपी ने राज्यपाल से कहा कांग्रेस से बातचीत की जारी है।
  • राजभवन से न्योता मिलने के बाद विधायक दल के नेता अजीत पवार राज्यपाल से मिलने पहुंच गए हैं। उनके साथ एनसीपी के अन्य ​वरिष्ठ नेता भी हैं।
  • एनसीपी नेता अजीत पवार ने मीडिया से चर्चा के दौरान कहा कि रात 8:30 बजे राज्यपाल ने हमें फोन किया और मुझसे मिलने आने के लिए कहा है। छगन भुजबल, जयंत पाटिल और अन्य के साथ, मैं उनसे मिलने जा रहा हूं। हमें इस बात का अंदाजा नहीं है कि उसने हमें क्यों बुलाया। राज्यपाल एक महत्वपूर्ण व्यक्ति हैं इसलिए हम उनसे मिलने जा रहे हैं।
  • NCP के नेता कुछ देर में राजभवन पहुंचकर राज्यपाल से मुलाकात करेंगे।
  • महाराष्ट्र की राजनीति में नया मोड़ सामने आ गया है। महाराष्ट्र में सरकार बनाने के लिए शिवसेना राज्यपाल के सामने बहुमत सिद्ध नहीं कर पाए हैं। इसके बाद अब राज्यपाल ने एनसीपी को अगले 24 घंटे का समय दिया है। अब एनसीपी को मंगलवार रात 8 बजे तक अपना बहुमत सिद्ध करना होगा।
  • महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मुलाकात करने के बाद शिवसेना नेता आदित्य ठाकरे ने कहा कि राज्यपाल ने और समय देने से मना कर दिया है। हमने राज्यपाल को बताया कि बाकी पार्टियों से बात चल रही है। राज्यपाल ने हमें 24 घंटे का वक्त देने से  मना कर दिया है। आदित्य ने कहा कि हमारा दावा खारिज नहीं हुआ है। हमने राज्यपाल को बताया कि हम सरकार बनाना चाहते हैं। ठाकरे ने कहा कि अन्य दलों से हमारी बातचीत जारी है और उनका समर्थन पत्र हासिल करने में वक्त लग रहा है।
  • आदित्य ठाकरे, एकनाथ शिंदे और शिवसेना के अन्य नेता महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मुंबई के राजभवन में मिले।
  • 17 नवंबर बाला साहेब की पुण्यतिथि के मौके पर हो सकता है शपथ ग्रहण। 
  • शिवसेना की ओर से संकेत मिल रहे हैं कि उद्धव ठाकरे को सीएम बनाया जा सकता है। वैसे ​तो शिवसेना विधायक दल के नेता एकना​थ शिंदे हैं, लेकिन संभावना जताई जा रही है कि महाराष्ट्र में वरिष्ठता के आधार पर उद्धव को सीएम की जिम्मेदारी दी जा सकती है।
  • शिवसेना विधायक दल के नेता एकनाथ शिंदे, आदित्य ठाकरे और तमाम बड़े नेता राजभवन पहुंच गए हैं। उनके साथ एनसीपी और कांग्रेस के नेता भी राज भवन पहुंच चुके हैं। वे यहां राज्यपाल से मिलकर सरकार बनाने के लिए अपना दावा पेश कर रहे हैं। शिवसेना ने यहां एनसीपी और कांग्रेस के समर्थन की चिट्ठी राज्यपाल के सामने पेश की है।
  • दिल्ली में सोनिया के आवास पर वरिष्ठ नेताओं की बैठक के बाद कांग्रेस ने शिवसेना को समर्थन दे दिया है। इसकी खबर मिलते ही शिवसेना विधायक दल के नेता एकनाथ शिंदे और आदित्य ठाकरे राजभवन रवाना हो गए हैं। वे यहां राज्यपाल से मिलकर सरकार बनाने का दावा पेश करेंगे। वहीं कांग्रेस सरकार में शामिल होगी या नहीं इस पर अभी संशय है। जानकारी अनुसार शिवसेना को समर्थन देने से पहले प्रियंका गांधी ने भी विधायकों से बात की।
  • शिवसेना प्रमुख आदित्य ठाकरे और ​विधायक दल के नेता एकनाथ शिंदे महाराष्ट्र के राज्यपाल से मिलने के लिए रवाना हो गए हैं। राज्यपाल ने शिवसेना को अपना रुख स्पष्ट करने के लिए सोमवार शाम 7.30 बजे तक का समय दिया था।
  • महाराष्ट्र में सरकार बनाने को लेकर हलचल तेज हो गईं हैं। शिवसेना विधायक दल के नेता एकनाथ शिंदे राजभवन में राज्यपाल से मिलने वाले हैं।
  • कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी अपने आवास पर वरिष्ठ नेताओं की बैठक हो रही है। इसी बीच शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने सोनिया गांधी को मनाने के लिए फोन किया। सूत्रों के अनुसार उन्होंने उद्धव से कहा है​ कि पहले विधायकों से चर्चा करने दो। इसके बाद कुछ तय किया जाएगा।
  • महाराष्ट्र में शिवसेना से गठबंधन को लेकर सोनिया गांधी के आवास दस जनपथ पर वरिष्ठ नेताओं की बैठक हो रही है। सूत्रों के अनुसार सोनिया गांधी पार्टी के विधायकों की राय जानने के लिए विधायकों से फोन पर बात कर रही हैं। सभी विधायकों को जयपुर के एक होटल में रखा है। विधायकों का कहना है कि कांग्रेस शिवसेना को बाहर से समर्थन देने की बजाय वे सरकार में शामिल होना चाहते हैं।
  • कांग्रेस नेता एके एंटनी और अहमद पटेल 10 जनपथ (कांग्रेस अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी के आवास) पहुंच गए हैं। वहीं महाराष्ट्र के कांग्रेस प्रभारी मल्ल्किार्जुन खड़गे, मुकुल वास्निक, अशोक चव्हाण, पृथ्वीराज चव्हाण, बालासाहेब थोराट, राजीव सातव और माणिकराव ठाकरे भी बैठक में मौजूद हैं। महाराष्ट्र में राजनीतिक स्थिति पर चर्चा के लिए पार्टी के महाराष्ट्र के नेताओं को दिल्ली बुलाया गया है। सोनिया सभी से महाराष्ट्र में सरकार बनाने को  लेकर संभावनाओं पर मंथन कर रही हैं।
  • महाराष्ट्र में सरकार बनाने के लिए शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे मुंबई में समर्थन मांगने एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार से मिलने पहुंचे। ठाकरे और पवार ने एक उपनगरीय होटल में बातचीत की। माना जा रहा है​ कि एनसीपी शिवसेना को अपना समर्थन दे सकती है। 
  • महाराष्ट्र में सरकार बनाने को लेकर चल रही खींचतान के बीच शिवसेना नेता संजय राउत की तबीयत बिगड़ने की खबर सामने आई है। प्राथमिक जानकारी के अनुसार संजय को लीलीवती अस्पताल में भर्ती किया गया है, जहां उनका उपचार किया जा रहा है।
  • शरद पवार और उद्धव ठाकरे की मुलाकात हो गई है। शिवसेना राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से 5 बजे मुलाकात करेगी। पहले शिवसेना 2.30 बजे गर्वनर से मिलने वाली थी। 
  • सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक महाराष्ट्र में सरकार बनाने के लिए कांग्रेस जिस फॉर्मूले पर विचार कर रही है। उसके तहत मुख्यमंत्री शिवसेना का होगा, जबकि दो डिप्टी सीएम होंगे। इसके अलावा राज्य में शिवसेना-एनसीपी और कांग्रेस के 14-14 मंत्री हो सकते हैं। 
  • शिवसेना सांसद अरविंद सावंत ने मोदी कैबिनेट से इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र में नई सरकार बनने जा रही है।विरोधी विचारधारा के सवाल पर सावंत ने कहा कि जब कश्मीर में महबूबा मुफ्ती और बिहार में नीतीश कुमार के साथ सरकार बनाई गई तो वहां कौन सी विचारधारा थी।

शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे और एनसीपी प्रमुख शरद पवार के बीच बैठक जारी 

  • महाराष्ट्र में सरकार गठन की कोशिशे तेज हो गई हैं। शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे थोड़ी देर में एनसीपी चीफ शरद पवार से मिलने जा रहे हैं। इस बैठक से पहले शिवसेना ने अपने सभी विधायकों को 4 बजे होटल की लॉबी में इकट्ठा होने के लिए कहा है। वहीं,एनसीपी ने अपने सीनियर नेताओं की बैठक 4 बजे बुलाई है। कांग्रेस नेता बालासाहेब थोरात, पृथ्वीराज चव्हाण,अशोक चव्हाण, सुशील कुमार शिंदे, केसी पडवी और विजय वादतीश्वर को दिल्ली तलब किया गया है। ये नेता शाम 4 बजे 10 जनपथ में कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी से मिलेंगे।
  • प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से मुलाकात के बाद अरविंद सावंत ने केन्द्रीय मंत्री के पद से इस्तीफा दिया।
  • कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने वर्किंग कमेटी की बैठक के बाद बताया कि मीटिंग में महाराष्ट्र पर विस्तार से चर्चा हुई है। आगे की चर्चा के लिए महाराष्ट्र के वरिष्ठ नेताओं को दिल्ली बुलाया गया है और चार बजे एक बार फिर बैठक होगी और फैसला लिया जाएगा। साथ ही  मल्लिकार्जुन खड़गे ने सभी विधायकों के हस्ताक्षर वाले पत्र सोनिया गांधी को सौंप दिए हैं।
  • शिवसेना विधायकों ने राज्यपाल को दिए जाने वाले पत्र पर हस्ताक्षर कर दिए हैं। इनके अलावा शिवसेना के साथ आने वाले निर्दलीय विधायकों ने भी दस्तखत कर दिए हैं। वहीं, दूसरी तरफ मल्लिकार्जुन खड़ने ने कांग्रेस विधायकों की राय वाले पत्र पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी को सौंप दिए हैं।
  • केंद्रीय मंत्री अरविंद सावंत थोड़ी देर में प्रधानमंत्री से मुलाकात कर देंगे इस्तीफा
  • महाराष्ट्र में सीटों का समीकरण 
    महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में बीजेपी को 105 सीटों पर जीत मिली है। शिवसेना के खाते में 56 तो एनसीपी को 54 सीटें मिली हैं। राज्य में कांग्रेस चौथे नंबर पर रही और उसे 44 सीटों हासिल हुई हैं। अगर सीटों की गणित देखे तो कांग्रेस की मदद के बगैर एनसीपी और शिवसेना भी सरकार नहीं बना पाएगी। शिवसेना की 56 और एनसीपी की 54 सीटों को मिलाकर 100 सीट होते हैं। अगर कांग्रेस भी एनसीपी के साथ मिल जाती है तो आंकड़ा (56+54+44) 154 पर पहुंच जाएगा। सरकार बनाने के लिए 145 सीटों की जरूरी है।
  • कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के घर पर महाराष्ट्र को लेकर अहम बैठक चल रही है। इस बैठक में कांग्रेस वर्किंग कमेटी के सभी नेता मौजूद हैं।बैठक में शिवसेना के साथ सरकार बनाने को लेकर मंथन चल रहा है। 
  • महाराष्ट्र की सियासी हलचल को लेकर मुंबई पूर्व अध्यक्ष संजय निरूपम ने महाराष्ट्र में शिवसेना के साथ सरकार बनाने को लेकर सवाल खड़े कर दिए हैं। संजय निरूपम ने ट्विटर पर लिखा, इससे फर्क नहीं पड़ता कि कौन सरकार बनाता है और कैसे सरकार बनती है। लेकिन महाराष्ट्र में राजनीतिक अस्थिरता से अब इंकार नहीं किया जा सकता है। जल्द इलेक्शन के लिए तैयार रहें। चुनाव 2020 में हो सकते हैं ? क्या हम गठबंधन के साथी के रूप में शिवसेना के साथ चुनाव में जा सकते हैं?
  •  संजय राउत ने कहा कि बीजेपी के अहंकार की वजह से गठबंधन टूट रहा है। महाराष्ट्र की जनता का अपमान कर रही है। बीजेपी विपक्ष में बैठने को तैयार है लेकिन हमे सत्ता में 50-50 की भागीदारी देने को तैयार नहीं है। बीजेपी सरकार नहीं बना पा रही है और विपक्ष में बैठने की बात कही है। राउत ने कहा कि बीजेपी ने जनादेश का अपमान किया है।
  • राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी ने मुंबई में राज्य की राजनीतिक स्थिति को लेकर बैठक बुलाई है। प्रफुल्ल पटेल, सुप्रिया सुले, अजीत पवार, और पार्टी के अन्य नेता मौजूद रहेंगे। 
  • कांग्रेस ने महाराष्ट्र में राजनीतिक स्थिति को लेकर दिल्ली में कांग्रेस अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी के आवास पर कांग्रेस कार्य समिति (सीडब्ल्यूसी) की बैठक बुलाई है। 
  • भाजपा कोर ग्रुप की बैठक आज मुंबई में देवेंद्र फडणवीस के निवास पर होगी। 
  • केंद्रीय मंत्री और शिवसेना नेता अरविंद सांवत ने ऐलान किया कि मैं अपने मंत्री पद से इस्तीफा दे रहा हूं। 
  • कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने सरकार गठन पर कहा कि हम हाईकमान से निर्देश के अनुसार आगे बढ़ेंगे। लेकिन हमारा मूल निर्णय यह है कि हमें विपक्ष में बैठना चाहिए। यही वर्तमान स्थिति है।

एनसीपी ने रखी शर्त

एनसीपी ने शिवसेना के सामने समर्थन देने के बदले एनडीए से नाता तोड़ने की शर्त रख दी है। शिवसेना के नेता एनसीपी प्रमुख शरद पवार से सोमवार को मुलाकत करने वाले हैं। एनसीपी नेता नवाब मलिक ने कहा, 'हमने 12 नवंबर को अपने विधायकों की बैठक बुलाई है। यदि शिवसेना हमारा समर्थन चाहती है, तो उन्हें यह घोषणा करनी होगी कि उनका भाजपा के साथ कोई संबंध नहीं है और उन्हें राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) से बाहर होना होगा। उनके सभी मंत्रियों को केंद्रीय मंत्रिमंडल से इस्तीफा देना होगा।' मलिक ने कहा, 'अभी हमें शिवसेना से कोई प्रस्ताव नहीं मिला है।'

शिवसेना कर रही अनादर

रविवार को भाजपा नेता देवेन्द्र फडणवीस, महाराष्ट्र भाजपा के अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल और अन्य नेताओं ने राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मुलाकात की। पाटिल ने कहा, 'हम राज्य में सरकार नहीं बनाएंगे।' उन्होंने कहा, 'जनादेश हमें (भाजपा-शिवसेना) को एक साथ काम करने के लिए दिया गया था अगर शिवसेना इसका अनादर करना चाहती है और कांग्रेस-राकांपा के साथ सरकार बनाना चाहती है तो हमारी शुभकामनाएं उनके साथ हैं।'बीजेपी नेता देवेन्द्र फडणवीस ने शुक्रवार को राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मिलकर अपना इस्तीफा सौंप दिया था। इस्तीफा सौंपने के बाद फडणवीस ने दावा किया था कि शिवसेना को कभी भी ढाई साल के लिए सीएम पद देने का वादा नहीं किया गया। वहीं शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने फडणवीस के बयान को झूठा बताया था। ठाकरे ने कहा था, सबको पता है झूठ कौन बोल रहा है।
 

कमेंट करें
jmYnJ