comScore

महाराष्ट्र: कांग्रेस-एनसीपी-शिवसेना की बैठक खत्म, उद्धव ठाकरे का सीएम बनना तय


हाईलाइट

  • कांग्रेस-एनसीपी-शिवसेना की बैठक में सीएम पद पर सहमति बन गई
  • एनसीपी प्रमुख ने कहा कि उद्धव ठाकरे के नाम पर तीनों दलों की सहमति बन गई है
  • शनिवार को कॉन्फ्रेंस कर महाराष्ट्र में सरकार गठन को लेकर जानकारी दी जाएगी

डिजिटल डेस्क, मुंबई। महाराष्ट्र में सरकार बनाने को लेकर शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी के बीच सहमति बन गई है। शुक्रवार को मुंबई में पहली बार तीनों दलों के नेताओं की अहम बैठक हुई। बैठक के बाद एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने कहा कि शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे महाराष्ट्र के सीएम होंगे। उन्होंने कहा कि शनिवार को साझा प्रेस कॉन्फ्रेंस कर हम महाराष्ट्र में सरकार गठन को लेकर जानकारी देंगे। हालांकि खुद उद्धव ठाकरे और कांग्रेस नेता पृथ्वीराज चव्हाण अभी सीएम पद को लेकर कुछ भी साफ तौर पर कहने से बच रहे है। चव्हाण ने कहा कि तीन दलों की बातचीत कल भी जारी रहेगी। 

UPDATES: 

- कांग्रेस नेता पृथ्वीराज चव्हाण ने कहा कि कल एनसीपी के साथ चर्चा हुई थी। आज शिवसेना से बात करने मुंबई आए थे। सभी मुद्दों पर चर्चा हुई। चर्चा सकारात्मक थी। तीनों पार्टी के वरिष्ठ नेता मौजूद थे। बातचीत अभी भी जारी रहेगी। 

- मुंबई में चल रही शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी की बैठक खत्म। शरद पवार ने कहा, उद्धव ठाकरे ही होंगे सीएम। कल प्रेस कॉन्फ्रेंस कर देंगे पूरी जानकारी।

-नवाब मलिक ने कहा, ये महत्वपूर्ण है कि पांच साल तक सरकार चले, सीएम पोस्ट का रोटेशन नहीं

-5 साल तक सरकार चलाने के लिए महत्वपूर्ण, सीएम पद का चक्कर नहीं: नवाब मलिक

-पांच साल के लिए शिवसेना को सीएम पद दिया जाएगा: नवाब मलिक, राकांपा

-एनसीपी प्रवक्ता नवाब मलिक ने कहा कि शिवसेना-एनसीपी-कांग्रेस शुक्रवार रात या शनिवार सुबह महाराष्ट्र में सरकार बनाने का दावा करेगी 

-एनसीपी का प्रतिनिधित्व सरगड़ पवार, प्रफुल पटेल, जयंत पाटिल और अजीत पवार ने किया

-कांग्रेस से, अहमद पटेल, मल्लिकार्जुन खड़गे, के सी वेणुगोपाल, अविनाश पांडे, बालासाहेब थोरात, पृथ्वीराज चव्हाण मौजूद हैं

-बैठक में पार्टी प्रमुख उद्धव ठाकरे, एकनाथ शिंदे, सुभाष देसाई, संजय राउत शिवसेना से मौजूद

-शिवसेना के विधायकों को मुंबई एयरपोर्ट के पास ललित होटल में रहने के लिए कहा गया है, जहां भारी पुलिस तैनाती है

-महाराष्ट्र के एक निवासी ने SC में एनसीपी-शिवसेना-कांग्रेस के चुनाव बाद गठबंधन के खिलाफ याचिका  दायर की है। याचिका में SC से महाराष्ट्र के राज्यपाल को कांग्रेस और NCP को सरकार बनाने के लिए आमंत्रित करने से रोकने के निर्देश देने की मांग की है। याचिका में कहा गया है कि ये गठबंधन लोगों के जनादेश के खिलाफ है।

-विधायक दल का नेता चुनने के लिए महाराष्ट्र विधान भवन में कांग्रेस विधायक दल की बैठक चल रही है। 

- केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने महाराष्ट्र सरकार के गठन पर कहा कि कांग्रेस, शिवसेना और एनसीपी की विचारधारा अलग है। सरकार बनने पर भी बहुत आगे नहीं जाएगी। 

- मुंबई में कांग्रेस और एनसीपी के नेताओं और अन्य गठबंधन सहयोगियों के बीच बैठक चल रही है। 

- कांग्रेस नेता माणिकराव ठाकरे ने कहा कि यह लगभग तय है कि महाराष्ट्र का अगला मुख्यमंत्री शिवसेना से होगा। एनसीपी ने कभी मुख्यमंत्री के पद की मांग नहीं की।

- शनिवार को दिल्ली में होने वाली राज्यपालों की कॉन्फ्रेंस में महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी नहीं जाएंगे। राज्य में राजनीतिक माहौल को देखते हुए वह मुंबई में ही रहेंगे। 

शरद पवार की तरफ से सीएम पर पर राउत नाम आगे करने वाले सवाल पर संजय ने कहा कि यह गलत है। हम कल रात ही शरद पवार जी से मिले हैं। महाराष्ट्र के लोग उद्धव ठाकरे को मुख्यमंत्री बनाना चाहते हैं। 

शिवसेना नेता संजय राउत ने आज प्रेस कॉन्फ्रेंस की। उन्होंने कहा कि राज्य की कुर्सी पर अब शिवसेना का सीएम विराजमान होगा। उन्होंने कहा कि तीनों पार्टियों ने तय कर लिया है कि अगले पांच साल तक शिवसेना का ही मुख्यमंत्री होगा। राउत ने कहा, 'तीनों पार्टियों की आज बैठक होनी है, जिसमें सभी मसलों पर फाइनल मुहर लग जाएगी।'

- कांग्रेस नेता संजय निरुपम ने ट्वीट कर पार्टी पर निशाना साधा है। उन्होंने लिखा है कि हमारे नेताओं का तर्क है कि बीजेपी को रोकने के लिए हम शिवसेना से हाथ मिलाने का जोखिम उठा रहे हैं। मगर तीन तिगाड़े काम बिगाड़े वाली सरकार चलेगी कब तक। फिर या तो बीजेपी किसी के साथ सरकार बनाएगी या चुनाव होंगे। दोनों हाल में बीजेपी को फायदा होगा और नुकसान होगा कांग्रेस का।

-  एनसीपी नेता नवाब मलिक ने ट्वीट कर लिखा है, आखिर भारतीय राजनीति के तथाकथित चाणक्य(अमित शाह) को शरद पवार ने मात दे ही दी। महाराष्ट्र को दिल्ली का तख्त नहीं झुका पाया। जय महाराष्ट्र। 

- शिवसेना नेता संजय राउत ने ट्वीट किया है। उन्होंने लिखा है कि कभी-कभी कुछ रिश्तों से बाहर आ जाना ही अच्छा होता है। अहंकार के लिये नहीं स्वाभिमान के लिये। 

इससे पहले गुरुवार को दिल्ली में कांग्रेस कार्यसमिति (सीडब्ल्यूसी) ने शिवसेना के साथ सरकार बनाने को लेकर अधिकृत रुप से सहमति प्रदान कर दी। सीडब्ल्यूसी की बैठक के बाद एनसीपी सुप्रीमो शरद पवार के सरकारी आवास पर कांग्रेस-एनसीपी नेताओं के बीच चर्चा हुई। बैठक के बाद कांग्रेस नेता पृथ्वीराज चव्हाण ने मीडिया को बताया कि दोनों दलों ने सभी मुद्दों पर चर्चा पूरी कर ली है और सभी मुद्दों पर सहमति बन गई है। 

सूत्रों के अनुसार तीनों दलों की मिलकर बनने वाली सरकार में कांग्रेस और एनसीपी के हिस्से में उपमुख्यमंत्री पद और शिवसेना का मुख्यमंत्री होगा।  जानकारी के अनुसार शरद पवार, राकांपा और कांग्रेस के नेता चाहते है कि मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ही बने। सूत्रों के अनुसार प्रदेश अध्यक्ष बालासाहेब थोरात को उपमुख्यमंत्री बनाया जा सकता है। हालांकि यह कहा जा रहा है कि बालासाहेब थोरात की उपमुख्यमंत्री के बजाय राजस्व मंत्री बनने की चाहत है। वहीं राष्ट्रवादी से अजित पवार को उपमुख्यमंत्री बनाया जा सकता है। विधानसभा अध्यक्ष पद कांग्रेस-एनसीपी दोनों ही चाहते है। यदि विधानसभा अध्यक्ष पद कांग्रेस को मिलता है तो पूर्व मुख्यमंत्री अशोक चव्हाण और पृथ्वीराज चव्हाण में से किसी एक को बनाया जा सकता है।

कमेंट करें
cJiGk