comScore

महाराष्ट्र: एनसीपी और कांग्रेस की बैठक जारी, शिवसेना से गठबंधन पर हो रही चर्चा

महाराष्ट्र: एनसीपी और कांग्रेस की बैठक जारी, शिवसेना से गठबंधन पर हो रही चर्चा

हाईलाइट

  • एनसीपी-कांग्रेस की बैठक नहीं होने से शिवसेना की चिंता बढ़ी
  • अमित शाह बोले- संख्या हो तो मिलें राज्यपाल से
  • महाराष्ट्र में लगा है राष्ट्रपति शासन

डिजिटल डेस्क, मुंबई। महाराष्ट्र राज्य में चुनाव परिणाम आने के 18 दिन बाद राष्ट्रपति शासन लगाया गया है। इन 18 दिन में कोई भी राजनीतिक दल बहुमत साबित नहीं कर सका। वर्तमान में राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) और कांग्रेस के बीच मुंबई में बैठक चल रही है। सूत्रों के अनुसार इस बैठक में महाराष्ट्र सरकार बनाने की संभावनाओं पर चर्चा की जा रही है। माना जा रहा है कि इस बैठक के बाद तय हो जाएगा कि दोनों दल शिवसेना का साथ देंगे या नहीं। 

LIVE UPDATE

  • मुंबई में राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) और कांग्रेस की बैठक चल रही है। इसमें राकांपा नेता जयंत पाटिल, अजित पवार, छगन भुजबल, धनंजय मुंडे और नवाब मलिक और कांग्रेस नेता बालासाहेब थोरात, पृथ्वीराज चव्हाण, सुशील कुमार शिंदे, अशोक चव्हाण, मणिकराव ठाकरे, विजय वडेट्टीवार मौजूद हैं।
  • राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) और कांग्रेस के बीच बैठक चल रही है। इसमें महाराष्ट्र में चल रहे सियासी ड्रामे के बीच शिवसेना के साथ गठबंधन कर सरकार बनाने पर चर्चा की जा रही है।
  • एनसीपी नेता जितेंद्र अवध ने कहा कि कुछ बातों को गोपनीय रखा जाता है। इसीलिए अजीत पवार ने कहा कि एनसीपी-कांग्रेस की बैठक रद्द हो गई है। जबकि बैठक चल रही है और अजीत पवार बैठक में मौजूद हैं।


 

  • महाराष्ट्र में सरकार के गठन के लिए आज होने वाली NCP और कांग्रेस की बैठक रद्द कर दी गई है।
  • राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी द्वारा महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लगाने के फैसले पर भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि इस मुददे पर कहा कि विपक्ष केवल राजनीति कर रहा है और एक संवैधानिक पद को इस तरह से राजनीति में घसीटना मैं नहीं मानता कि लोकतंत्र के लिए स्वस्थ परंपरा है।
  • भाजपा अध्यक्ष शाह ने कहा कि आज भी अगर किसी के पास संख्या है तो वे राज्यपाल से संपर्क कर सकते हैं। राज्यपाल ने किसी को भी मौका देने से इनकार नहीं किया है। कपिल सिब्बल जैसे विद्वान वकील बच्चों जैसे तर्क दे रहे हैं​ कि हमें सरकार बनाने का मौका नहीं दिया।
  • भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने कहा है कि चुनावों से पहले पीएम और मैंने कई बार सार्वजनिक रूप से कहा कि अगर हमारा गठबंधन जीतता है तो देवेंद्र फडणवीस सीएम होंगे, तब किसी ने आपत्ति नहीं की थी। अब वे नई मांगें लेकर आए हैं जो हमें स्वीकार्य नहीं हैं। शाह ने कहा कि शिवसेना की 50-50 फॉर्मुले की मांग गलत है और राज्यपाल का फैसला सही है।
  • जयपुर में ठहरे कांग्रेस के विधायक भी मुंबई पहुंच चुके हैं।
  • कांग्रेस नेताओं के साथ बैठक करने के बाद शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने कहा, बैठक में जो भी निर्णय लिया गया है वह जल्द ही आपके सामने आएगा।
  • मुंबई के होटल ट्राइडेंट में कांग्रेस नेताओं के साथ शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने बैठक की। 
  • मुंबई के लीलावती अस्पताल से छुट्टी मिलने के बाद शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा, अगला मुख्यमंत्री होंगे शिवसेना से होगा।
  • एनसीपी नेता अजीत पवार ने बैठक के बाद मीडिया से बातचीत में कहा, आज हमारे सभी विधायकों ने कहा कि सरकार का गठन जल्द से जल्द होना चाहिए। यहां तक ​​कि मुझे लगता है कि नया साल शुरू होने से पहले महाराष्ट्र को सरकार मिलनी चाहिए।
  • शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा है कि महाराष्ट्र में फिर से चुनाव नहीं होगा। तीनों पार्टियों (एनसीपी,शिवसेना,कांग्रेस) एक साथ आगे आएंगी। 
  • कांग्रेस-एनसीपी की कमेटी गठित होने के बाद महाराष्ट्र बीजेपी ने आगे की रणनीति के लिए कल से 3 दिवसीय बैठक बुलाई।
  • महाराष्ट्र में सरकार बनाने पर आगे बढ़ी बात। कांग्रेस-एनसीपी ने साझा कार्यक्रम के लिए समिति बनाई।  सरकार गठन पर कांग्रेस-एनसीपी ने कमेटी में  छगन भुजबल, अजित पवार, जयंत पाटिल, नवाब मालिक, पृथ्वीराज चाहव्ण, धनंजय मुंडे, बालासाहेब थोराट, माणिकराव ठाकरे को शामिल किया गया है।
  • महाराष्ट्र में सियासी हलचल तेज होने के बाद टूट से बचाने के लिए जयपुर भेजे गए कांग्रेस के सभी विधायक अब वापस मुंबई रवाना हो रहे हैं।
  • अहमद पटेल दिल्ली पहुंचते ही बुधवार सुबह कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी के घर के लिए रवाना हो गए। बताया जा रहा है कि इस बैठक के दौरान ही शिवसेना को समर्थन देने की बात पर अंतिम मुहर लग सकती है। वहीं, एनसीपी के साथ हुई चर्चा की भी जानकारी अहमद पटेल कांग्रेस प्रमुख सोनिया गांधी को देंगे।
  • एनसीपी के वरिष्ठ नेता नवाब मलिक अस्पताल में भर्ती शिवसेना के प्रवक्ता संजय राउत से मिलने पहुंचे।
  • मुंबई में राष्ट्रवादी कांग्रेस नेताओं की इस वक्त बैठक चल रही है। इस बैठक में कांग्रेस और शिवसेना के साथ सरकार गठन, कॉमन मिनिमम प्रोग्राम जैसे कई मुद्दें पर चर्चा होगी।
  • महाराष्ट्र के कठिन समय में शिवसेना नेता संजय राउत का ट्वीट

  • संजय राउत का हाल जानने जाएंगे के लिए आज कांग्रेस नेता अशोक चव्हाण, बालासाहेब थौरात, मानिकराव ठाकरे लीलावती अस्पताल जाएंगे।संजय राउत पिछले दो दिनों से अस्पताल में ही भर्ती हैं।
  • राज्यपाल से मुलाकात के बाद बीजेपी ने बहुमत न होने पर महाराष्ट्र में सरकार बनाने से मना कर दिया था। वहीं शिवसेना ने भी बीजेपी का साथ नहीं दिया। अब राष्ट्रपति शासन लगते ही बीजेपी वापस मैदान में आई। देवेंद्र फडणवीस, नारायण राणे, सुधीर मुनगंटीवार एक सुर से कह रहे हैं कि स्थिर सरकार बनेगी।
  • जानकारी के मुताबिक कल रात उद्धव ठाकरे मातोश्री के पीछे के रास्ते से अहमद पटेल को होटल ट्राइडेंट मिलने पहुंचे थे। दोनों नेताओं ने माना है कि बीजेपी को सत्ता से दूर रखने के लिए सभी को एक साथ आना होगा। क़रीब आधे घंटे तक दोनों के बीच बातचीत हुई है। अहमद पटेल इस मिटिंग की पूरी जानकारी सोनिया गांधी को देंगे।

  • कुछ सूत्रों की मानें तो बीजेपी एनसीपी के संपर्क में है। वहीं शिवसेना कांग्रेस के संपर्क में है।
  • एनसीपी नेता अजित पवार ने कहा है कि हमने सरकार बनाने के लिए राज्यपाल से 3 दिन का वक्ता मांगा था, लेकिन उससे पहले ही राज्य में राष्ट्रपति शासन लगा दिया गया। उन्होंने कहा, कांग्रेस के नेताओं से हमारी बातचीत हुई है। जो भी फैसला होगा वो शरद पवार ही करेंगे।
  • महाराष्ट्र में चल रही सियासी खींचतान के बीच एनपीसी प्रमुख शरद पवार कल नागपुर जाएंगे 
  • महाराष्ट्र के सेवक बने पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस
  • महाराष्ट्र में सरकार गठन को लेकर मची हलचल के बीच राष्ट्रपति शासन लागू हो गया है। इस सभी से अलग देवेंद्र फडणवीस ने अपने ट्विटर हैंडल के प्रोफाइल में बदलाव किया है। देवेंद्र फडणवीस ने अभी तक ट्विटर बायो में मुख्यमंत्री लिखा हुआ था, लेकिन अब वह ‘महाराष्ट्र सेवक’ बन गए हैं।

सुप्रीम कोर्ट की शरण में शिवसेना
अब सुप्रीम कोर्ट के दर पर शिवसेनामहाराष्ट्र में जैसे ही राष्ट्रपति शासन लगा तो शिवसेना ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटा दिया। शिवसेना की ओर से अभी SC में राज्यपाल के द्वारा अधिक समय ना दिए जाने के खिलाफ याचिका दायर की गई है, हालांकि राष्ट्रपति शासन लगाने के खिलाफ शिवसेना एक और याचिका दायर कर सकती है।

जयपुर से आज वापस लौटेंगे कांग्रेस विधायक
महाराष्ट्र कांग्रेस के 44 विधायक जो पिछले कुछ दिनों से जयपुर में रुके हुए थे, उनकी आज महाराष्ट्र वापसी होगी। होर्स ट्रेडिंग से बचने के लिए कांग्रेस पार्टी ने अपने सभी विधायकों को 5 दिनों से जयपुर में रखा हुआ था। महाराष्ट्र में अब राष्ट्रपति शासन लग गया है और अभी भी एनसीपी-कांग्रेस के बीच बातचीत चल रही है।

महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन
महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी की सिफारिश पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन को मंजूरी दी।राज्यपाल की ओर से पहले शिवसेना को सरकार बनाने का न्योता मिला था, लेकिन वह 24 घंटे में समर्थन पत्र नहीं जुटा सकी। इसके बाद राज्यपाल की ओर से NCP को न्योता दिया गया, लेकिन वहां पर भी बात नहीं बन सकी।

ऐसे लगा राष्ट्रपति शासन 
महाराष्ट्र में सरकार बनाने के लिए शिवसेना-बीजेपी के बाद एनसीपी को कल यानी मंगलवार शाम 8.30 बजे तक का समय दिया गया था। लेकिन एनसीपी के मुताबिक इतने कम वक्त में ये मुकमिन नहीं था। जानकारी के मुताबिक राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी को कल 12:30 बजे के आसपास एनसीपी का एक खत मिला। इस खत में एनसीपी ने अपने पास बहुमत के आंकड़ा फिलहाल ना होने की बात कही और तीन अतिरिक्त दिनों का समय मांगा था। इस चिट्ठी के मिलने के बाद राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने राज्य में राष्ट्रपति शासन लगाने की सिफारिश गृह मंत्रालय को भेज दी। राज्यपाल ने रिपोर्ट में कहा था कि सरकार बनाने की सारी कोशिशें की गयीं लेकिन कोई संभावना नहीं दिखी इसलिए राष्ट्रपति शासन की अनुशंसा की जाती है।

कमेंट करें
XIr85